सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

खेल रत्न के लिए रोहित, विनेश फोगाट, रानी सहित 5 खिलाड़ी के नाम प्रस्तावित

टेबल टेनिस खिलाड़ी मनिका बत्रा और रियो पैरालंपिक के स्वर्ण पदक विजेता ऊंची कूद के एथलीट मरियप्पन थंगवेलु के नाम भी सिफारिश भी देश के सर्वोच्च खेल पुरस्कार के लिए की गई है.

Abhishek Lohia
  • Aug 18 2020 11:33PM
स्टार क्रिकेटर रोहित शर्मा, पहलवान विनेश फोगाट और महिला हॉकी टीम की कप्तान रानी रामपाल सहित पांच खिलाड़ियों के नाम की सिफारिश इस साल के राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार के लिए, जबकि 29 खिलाड़ियों की अर्जुन पुरस्कार के लिए की गई है. खेल मंत्रालय की 12 सदस्यीय चयन समिति ने मंगलवार को यह सिफारिश की.

टेबल टेनिस खिलाड़ी मनिका बत्रा और रियो पैरालंपिक के स्वर्ण पदक विजेता ऊंची कूद के एथलीट मरियप्पन थंगवेलु के नाम भी सिफारिश भी देश के सर्वोच्च खेल पुरस्कार के लिए की गई है. पहले चार खिलाड़ियों के नाम की सिफारिश की गई थी, लेकिन बाद में इसमें रानी रामपाल का नाम भी जोड़ दिया गया.

आधिकारिक सूत्रों ने पीटीआई को बताया अर्जुन पुरस्कार के लिए भारतीय तेज गेंदबाज ईशांत शर्मा, निशानेबाज सौरभ चौधरी और मनु भाकर, फर्राटा धाविका दुती चंद, फुटबॉलर संदेश झिंगन, महिला क्रिकेटर दीप्ति शर्मा, महिला मुक्केबाज लोवलीना बोरगोहेन और लूस के दिग्गज शिवा केशवन सहित 29 खिलाड़ियों के नाम की सिफारिश की गई है.

31साल के ईशांत ने अब तक भारत की तरफ से 97 टेस्ट और 80 एकदिवसीय मैच खेले हैं और उनके नाम पर 400 से अधिक अंतरराष्ट्रीय विकेट दर्ज हैं. खेल पुरस्कारों के इतिहास में यह पहला अवसर है जबकि पांच खिलाड़ियों के नाम की सिफारिश खेल रत्न के लिए की गई है. इस पर अंतिम फैसला खेल मंत्री किरण रिजिजू को करना है. इससे पहले 2016 में चार खिलाड़ियों बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधू, जिम्नास्ट दीपा करमाकर, निशानेबाज जीतू राय और पहलवान साक्षी मलिक को एक साथ यह पुरस्कार दिया गया था.

33 साल के रोहित खेल रत्न पाने वाले केवल चौथे क्रिकेटर होंगे. उनसे पहले सचिन तेंदुलकर, हाल में संन्यास लेने वाले महेंद्र सिंह धोनी और वर्तमान कप्तान विराट कोहली यह सम्मान हासिल कर चुके हैं. तेंदुलकर पहले भारतीय क्रिकेटर थे, जिन्हें 1998 में खेल रत्न पुरस्कार दिया गया था. धोनी को 2007 और कोहली को 2018 में भारोत्तोलक मीराबाई चानू के साथ यह पुरस्कार मिला था.

समिति में पूर्व क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग और पूर्व हॉकी कप्तान सरदार सिंह भी शामिल थे. उसकी नई दिल्ली स्थित भारतीय खेल प्राधिकरण (SAI) केंद्र में बैठक हुई, जिसके बाद नामों को अंतिम रूप दिया गया. रोहित को जहां उनकी शानदार बल्लेबाजी के कारण पुरस्कार के लिए चुना गया, वहीं विनेश को 2018 में राष्ट्रमंडल खेलों और एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक और 2019 में एशियाई कुश्ती चैम्पियनशिप में कांस्य पदक जीतने के लिए इस पुरस्कार के लिए नामित किया गया.

थंगवेलु को 2016 रियो ओलंपिक खेलों में टी42 ऊंची कूद में स्वर्ण पदक जीतने के लिए पुरस्कार दिया गया है. टेबल टेनिस खिलाड़ी मनिका के नाम की सिफारिश 2018 में उनके शानदार प्रदर्शन के लिए की गई है. उन्होंने उस वर्ष राष्ट्रमंडल खेलों में स्वर्ण और एशियाई खेलों में कांस्य पदक जीता था.

रानी केवल तीसरी और पहली महिला हॉकी खिलाड़ी हैं जिनके नाम की सिफारिश इस सम्मान के लिए की गई है. रानी से पहले धनराज पिल्लै (2000) और सरदार सिंह (2017) को खेल रत्न पुरस्कार मिला था. एक करीबी सूत्र ने पीटीआई से कहा, ‘रानी का नाम बाद में इसलिए जोड़ा गया क्योंकि कुछ सदस्य उनके नामांकन पर चर्चा चाहते थे. काफी विचार-विमर्श के बाद हर किसी को लगा कि वह अपनी उपलब्धियों के कारण इस सम्मान की हकदार हैं.’

देश के सर्वोच्च खेल पुरस्कार खेल रत्न के लिए एक जनवरी 2016 से 31 दिसंबर 2019 की उपलब्धियों पर विचार किया गया. इस दौरान रानी की अगुवाई में भारतीय टीम ने महिला एशियाई कप 2017 में ऐतिहासिक जीत दर्ज की तथा 2018 में एशियाई खेलों में रजत पदक जीता. रानी ने एफआईएच ओलंपिक क्वालिफायर्स में भी अहम भूमिका निभाई तथा निर्णायक गोल किया, जिससे भारत को टोक्यो ओलंपिक के लिए क्वालिफाई करने में मदद मिली. यही नहीं, टीम इस बीच अपनी सर्वश्रेष्ठ नौवीं रैंकिंग पर पहुंची.

इस साल के राष्ट्रीय पुरस्कार समारोह का आयोजन कोविड-19 महामारी के कारण वर्चुअल होने की संभावना है. विजेता अपने संबंधित क्षेत्रों से लॉग इन करके 29 अगस्त को इस समारोह का हिस्सा बनेंगे. आम तौर पर इनका आयोजन राष्ट्रपति भवन में होता रहा है. हॉकी के जादूगर मेजर ध्यानचंद के जन्मदिन 29 अगस्त को देश में राष्ट्रीय खेल दिवस के रूप में मनाया जाता है.

खेल रत्न में पदक, प्रमाणपत्र और 7.5 लाख रुपये का नकद पुरस्कार दिया जाता है. अर्जुन पुरस्कार में पांच लाख रुपये का नकद पुरस्कार तथा अर्जुन की प्रतिमा दी जाती है. राष्ट्रीय खेल पुरस्कारों में कोचिंग के लिये द्रोणाचार्य और ध्यानचंद पुरस्कार भी दिये जाते हैं. प्रत्येक वर्ष राष्ट्रपति इन पुरस्कारों से खिलाड़ियों को सम्मानित करते हैं.

सूची इस प्रकार है -

राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार: रोहित शर्मा (क्रिकेट), विनेश फोगाट (कुश्ती), मनिका बत्रा (टेबल टेनिस), रानी रामपाल (हॉकी), मरियप्पन थंगवेलु (पैरा एथलीट).

अर्जुन पुरस्कार: ईशांत शर्मा (क्रिकेट), अतनु दास (तीरंदाजी), दीपक हुड्डा (कबड्डी), दीपक ठाकुर (हॉकी), दिविज शरण (टेनिस), मीराबाई चानू (भारोत्तोलन), साक्षी मलिक (कुश्ती), आकाशदीप सिंह (हॉकी)

लोवलीना बोरगोहेन (मुक्केबाजी), मनु भाकर (निशानेबाजी), सौरभ चौधरी (निशानेबाजी), मनीष कौशिक (मुक्केबाजी), संदेश झिंगन (फुटबॉल), दत्तू भोकानल (रोइंग), राहुल अवारे (कुश्ती), दुती चंद (एथलेटिक्स)

दीप्ति शर्मा (क्रिकेट), शिवा केशवन (शीतकालीन खेल), मधुरिका पाटकर (टेबल टेनिस), मनीष नरवाल (पैरा निशानेबाज), संदीप चौधरी (पैरा एथलीट), सुयश जाधव (पैरा तैराक), चिराग शेट्टी और सात्विकसाईराज रंकीरेड्डी (बैडमिंटन), विशेष भृगुवंशी (बास्केटबॉल), अजय सावंत (टेंट पेगिंग), अदिति अशोक (गोल्फ), काले सारिका (खो खो), दिव्या काकरान (कुश्ती).

सहयोग करें

हम देशहित के मुद्दों को आप लोगों के सामने मजबूती से रखते हैं। जिसके कारण विरोधी और देश द्रोही ताकत हमें और हमारे संस्थान को आर्थिक हानी पहुँचाने में लगे रहते हैं। देश विरोधी ताकतों से लड़ने के लिए हमारे हाथ को मजबूत करें। ज्यादा से ज्यादा आर्थिक सहयोग करें।
Pay

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

0 Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार