सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

लोनी से बीजेपी विधायक नंदकिशोर गुर्जर ने सुशांत सिंह राजपुत मामले में सीबीआई जांच के लिए लिखा गृहमंत्री अमित शाह को पत्र, कहा बाॅलीवुड माफिया, नेपोटिज्म और अंडरवल्र्ड के गठजोड़ ने की है अभिनेता की हत्या

सुशांत सिंह राजपुत की मौत पर नंदकिशोर गुर्जर का बड़ा खुलासा

Namit Tyagi
  • Jul 22 2020 9:28AM
गाज़ियाबाद के लोनी से बीजेपी विधायक नंदकिशोर गुुर्जर ने मंगलवार को देश के गृहमंत्री अमित शाह को पत्र लिखकर अभिनेता सुशांत सिहं राजपुत के मामले में सीबीआई जांच की मांग की है। विधायक ने सनसनीखेज आरोप लगाते हुए कहा कि फिल्म इंडस्ट्री में स्थापित हो सके सुशांत सिंह के खिलाफ लंबे समय से साजिश रची जा रही थी। विधायक ने पत्र में लिखा कि पिछले एक महीने से अधिक समय से अभिनेता सुशांत सिंह राजपुत की कथित ‘आत्महत्या जो पूरे देश में चर्चा का विषय बनी हुई है, के मामले में मुंबई पुलिस द्वारा बाॅलीवुड माफियाओ, नेपोटिज्म के समर्थक कलाकारों, बड़े बैनर्स और डी कंपनी के दबाव में लीपापोती की जा रही है। बिहार के एक छोटे से शहर से बिना किसी ‘गाॅडफादर’ की सहायता के बाॅलीवुड में प्रथम पंक्ति में स्थापित हो चुके अभिनेता सुशांत सिंह राजपुत के खिलाफ लंबे समय से नेपोटिज्म के समर्थक कलाकार, निर्माता-निर्देशक, बड़े बैनर्स, फिल्म इंडस्ट्री माफियाओं द्वारा साजिश रची जा रही थी जिसमें बाद में अंडरवल्र्ड की भी सहायता लेकर सुशांत सिंह के मनोबल को तोड़ने, करियर को खत्म करने एवं ‘मीटू’ कैंपेन के तहत बदनाम करने की कोशिश के बाद साजिश के तहत उनकी हत्या कर दी गई।

विधायक ने फिल्म इंडस्ट्री और दाउद इब्राहीम के गठजोड़ पर उठाए सवाल, कहा समय-समय पर इन्होंने कराई है हत्या

बता दे कि विधायक ने पत्र में लिखा कि मौजूदा समय में महाराष्ट्र सरकार अवसरवादी और राष्ट्रविरोधी, तीन पार्टीयों का गठजोड़ है जिसमें वे सभी दल शामिल हैै जिन्होंने अपने कार्यकाल में फिल्म माफियाओं, नेपोटिज्म और अंडरवल्र्ड के गठजोड़ को शह दिया जिसने समय-समय पर कई अभिनेता, अभिनेत्रियों एवं गुलशन कुमार सरीखे फिल्म इंडस्ट्री में सनातन धर्म के ध्वजवाहकों, की हत्या कराई एवं कुछ को आत्महत्या के लिए मजबूर किया। इस गठजोड़ को पिछली भाजपा सरकार ने ध्वस्त कर दिया था जिस कारण गांव-देहात एवं छोटे अंचलों से आने वाले सुशांत सिंह राजपुत सरीखे युवक और युवतियों ने पिछले कुछ वर्षो के अंदर अपने मेहनत, लगन और प्रतिभा के दम पर कुछ परिवारों एवं माफिया डाॅन दाउद इब्राहिम की जागीर समझी जाने वाली मुंबई फिल्म इंडस्ट्री एवं करोड़ों प्रशंसकों के दिल में स्थान बनाया। फिल्म इंडस्ट्री में बदलते इस डिस्कोर्स को नेपोटिज्म के समर्थक बर्दाश्त नही कर सके, अपने संस्कार और संस्कृति के प्रति उनका लगाव ही था कि वे कभी भी सनातन विरोधी एवं अश्लील फिल्मों का हिस्सा नहीं बनें, फिल्म इंडस्ट्री के माफियाओं, निर्माता-निर्देशकों को ये बातें नागवार गुजर रही थी जिसका परिणाम साजिश के तहत सुशांत सिंह राजपूत की हत्या है और उसे पुलिस की सहायता से आत्महत्या का रूप देने की कोशिश की जा रही है। इस मामले में कोई सुसाइड नोट बरामद नहीं होने के बावजूद बिना अन्वेषण किए मुंबई पुलिस पहले दिन से ही इस मामले को आत्महत्या बताने की जल्दबाजी में किसके इशारे पर थी?

विधायक ने कहा सीबीआई जांच के दिए जाए आदेश, पुलिस दबाव में मिटा रही है हत्या के सबूत

विधायक नंदकिशोर गुर्जर ने पत्र में कहा कि मैं स्वंय अधिवक्ता हूं और एक आत्महत्या का ‘ओपन एंड शट’ मामला दो से तीन दिनों में बंद हो जाता है। इस मामले में पिछले 1 महीने से ज्यादा समय से जांच चल रही है और मुंबई पुलिस किसी नतीजे पर नहीं पहुंची है जो साफ इंगित करता है कि पुलिस महकमा इस मामले को राजनीतिक, फिल्म इंडस्ट्री के नेपोटिज्म माफियाओं एवं अंडवल्र्ड के दबाव में दबाना चाहती है। सीबीआई को इस मामले को सौंपने में भी देरी इसलिए की जा रही है जिससे सभी प्रकार के सबूतों को नष्ट किया जा सकें या उन्हें आत्महत्या की थ्योरी के अनुकूल बनाया जा सके। पुलिस से पूछताछ के दौरान भी निर्माता-निर्देशक आदित्य चोपड़ा और संजय लीला भंसाली के बयानों में अंतर, दाऊद इब्राहिम यानि डी-कंपनी के इशारे पर करण जौहर के धर्मा प्रोडक्शन, यशराज बैनर्स, एकता कपूर की बालाजी टेलीफिल्मस, महेश भट्ठ कैंप आदि द्वारा फिल्मों से बाहर एवं ब्लैकलिस्टड करने, नेपोटिज्म के समर्थक अभिनेताओं द्वारा अपने कार्यक्रमों एवं पुरूस्कार समारोह में सुशांत सिंह राजपूत को मजाक का स्थायी विषय बना लेने संबंधित दर्जनों वीडिया सोशल मीडिया व यूटयूब पर वायरल है। फिल्म इंडस्ट्री की ही अभिनेत्री एवं कुछ अभिनेताओं द्वारा नेपोटिज्म एवं फिल्मी माफियाओं से जु़ड़े सनसनीखेज खुलासे एवं उपरोक्त सभी चीजों का गठजोड़ किसी बड़ी साजिश की ओर इशारा करते है ऐसे कई सवालों का जवाब मिलना, बिना सीबाीआई जांच के संभव नहीं है।

विधायक ने गृहमंत्री को न्यायप्रिय बताते हुए कहा कि सुशांत के करोड़ों फैंस एवं उनके शोकाकुल परिजनों की आखिरी उम्मीद आपसे है इसलिए इस मामलें में सीबीआई को स्वतः संज्ञान लेने के लिए आदेशित करने की कृपा करें जिससे पूरे मामले की निष्पक्षता से जांच हो सकें और पूरे मामले में बाॅलीवुड माफियाओं, प्रोडक्शन हाउस, नेपोटिज्म सर्मथकों एवं डी कंपनी की भूमिका से पर्दा उठ सके और दोषियों के खिलाफ 302 के तहत मुकदमा दर्ज कर, कड़ी काूननी कार्रवाई का मार्ग प्रशस्त हो सकें। साथ ही आपको बता बताते चले कि विधायक जी ने पत्र की एक काॅपी महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री और सीबीआई निदेशक को भी भेजी है

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

2 Comments

जय श्रीराम

  • Guest
  • Sep 13 2020 9:48:08:993PM

We support to Demand of Honble MlA Shri Nand kishore Ji Gujar.It is Right demand.

  • Guest
  • Aug 2 2020 12:55:06:060AM

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार