सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

मीडिया के सामने कल आएंगे कैप्टन, अरूसा आलम समेत इन मुद्दाें पर कर सकते हैं बड़ा एलान

जिसके बाद रंधावा ने यह भी कहा कि राज्य सरकार मामले की जांच कराएगी। अमरिंदर सिंह ने सोमवार को आलम की कई वरिष्ठ राजनेताओं और अन्य गणमान्य व्यक्तियों के साथ तस्वीरें जारी की। साथ ही कहा कि इन तस्वीरों को देखने के बाद विरोधियों को बोलने से पहले सोचने चाहिए।

Geeta
  • Oct 26 2021 4:06PM

पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह कैप्टन अमरिंदर सिंह बुधवार को चंडीगढ़ में मीडिया के सामने आएंगे। इस दाैरान वे चंडीगढ़ में एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करेंगे। ऐसे में कैप्टन अमरिंदर सिंह का कल मीडिया के सामने आना बड़ा संकेत दे रहा है। वहीं इस बात की जानकारी देते हुए कैप्टन के मीडिया सलाहकार रवीन ठुकराल ने मंगलवार को एक ट्वीट किया। रवीन ठुकराल ने ट्वीट किया, "पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर कल (बुधवार, 27 अक्टूबर) सुबह 11 बजे चंडीगढ़ में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करेंगे। इस कार्यक्रम का उनके फेसबुक पेज पर सीधा प्रसारण किया जाएगा।"

गाैरतलब है कि अब पंजाब में विधानसभा चुनाव भी नजदीक हैं। जिसके बाद अब ऐसे कयास लगाए जा रहे हैं कि कांग्रेस से इस्तीफा देने के बाद कैप्टन अमरिंदर सिंह अपनी नई पार्टी या फिर उनका अगला कदम क्या होगा इसकी जानकारी दे सकते हैं। अमरिंदर सिंह हाल ही में अपने पाकिस्तानी दोस्त अरूसा आलम को लेकर विवाद में फंस गए थे। जिसमें पंजाब के उपमुख्यमंत्री सुखजिंदर रंधावा ने पाकिस्तान की जासूसी एजेंसी आईएसआई के साथ उसके संबंधों पर संदेह किया था।

जिसके बाद रंधावा ने यह भी कहा कि राज्य सरकार मामले की जांच कराएगी। अमरिंदर सिंह ने सोमवार को आलम की कई वरिष्ठ राजनेताओं और अन्य गणमान्य व्यक्तियों के साथ तस्वीरें जारी की। साथ ही कहा कि इन तस्वीरों को देखने के बाद विरोधियों को बोलने से पहले सोचने चाहिए।

मालूम हाे कि कैप्टन ने पिछले महीने कांग्रेस की राज्य इकाई के अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू के साथ झगड़े के बाद पंजाब के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था। पूर्व मुख्यमंत्री ने बाद में घोषणा की कि वह कांग्रेस छोड़ देंगे, और पंजाब और उसके लोगों के हितों की सेवा के लिए अपनी राजनीतिक पार्टी बनाएंगे। उन्होंने यह भी कहा था कि अगर केंद्र सरकार तीन कृषि कानूनों को वापस ले लेती है तो उन्हें भारतीय जनता पार्टी के साथ गठजोड़ करने में कोई समस्या नहीं होगी।

सहयोग करें

हम देशहित के मुद्दों को आप लोगों के सामने मजबूती से रखते हैं। जिसके कारण विरोधी और देश द्रोही ताकत हमें और हमारे संस्थान को आर्थिक हानी पहुँचाने में लगे रहते हैं। देश विरोधी ताकतों से लड़ने के लिए हमारे हाथ को मजबूत करें। ज्यादा से ज्यादा आर्थिक सहयोग करें।
Pay

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार