सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

ओलंपिक हॉकी चैंपियन बलबीर सिंह सीनियर की हालत स्थिर, लेकिन अब भी वेंटीलेटर पर

बलबीर सीनियर को बीते शुक्रवार को तबीयत बिगड़ने पर सेक्टर-36 स्थित उनके आवास से निजी अस्पताल ले जाया गया था. वह अपनी बेटी सुशबीर और कबीर के साथ रहते हैं. पिछले साल जनवरी में बलबीर सीनियर को अस्पताल में 108 दिन बिताने के बाद पीजीआईएमईआर से छुट्टी मिली थी. इस अस्तपाल में उनका निमोनिया के लिये इलाज चल रहा था.

Abhishek Lohia
  • May 14 2020 11:01PM

अपने जमाने के दिग्गज हॉकी खिलाड़ी और तीन बार के ओलंपिक स्वर्ण पदक विजेता बलबीर सिंह सीनियर (Balbir Singh Senior) की स्थिति स्थिर बनी हुई है और उन्हें अब भी वेंटीलेटर पर रखा गया है. इस 96 साल दिग्गज को निमोनिया की वजह से शुक्रवार को मोहाली के फोर्टिस अस्पताल में भर्ती कराया गया है. उन्हें बुधवार की सुबह भी 2 बार दिल का दौरा पड़ा और तब से उनकी स्थिति स्थिर बनी हुई है.

बलबीर सीनियर के नाती कबीर ने बताया, ‘नानाजी को कल (बुधवार) सुबह दो बार दिल का दौरा पड़ा लेकिन उसके बाद उनकी हालत नहीं बिगड़ी. उनकी स्थिति हालांकि अब भी नाजुक है और उन्हें वेंटीलेटर पर रखा गया है.’ उन्होंने कहा, ‘उन्हें अब भी फोर्टिस अस्पताल के आईसीयू में रखा गया है. चिकित्सक लगातार उनकी स्थिति का आकलन कर रहे हैं.’

बलबीर सीनियर को बीते शुक्रवार को तबीयत बिगड़ने पर सेक्टर-36 स्थित उनके आवास से निजी अस्पताल ले जाया गया था. वह अपनी बेटी सुशबीर और कबीर के साथ रहते हैं. पिछले साल जनवरी में बलबीर सीनियर को अस्पताल में 108 दिन बिताने के बाद पीजीआईएमईआर से छुट्टी मिली थी. इस अस्तपाल में उनका निमोनिया के लिये इलाज चल रहा था.

उन्होंने लंदन (1948), हेलसिंकी (1952) और मेलबर्न (1956) ओलंपिक में भारत के गोल्ड मेडल जीतने में अहम भूमिका निभाई थी. हेलसिंकी ओलंपिक में नीदरलैंड के खिलाफ 6-1 से मिली जीत में उन्होंने 5 गोल किए थे और यह रिकॉर्ड अभी भी बरकरार है. वह 1975 वर्ल्ड कप चैंपियन भारतीय हॉकी टीम के मैनेजर भी रहे.

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

कोरोना के कारण पीड़ित गरीब लोगो के लिए आर्थिक सहयोग

Donation
0 Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार