सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

17 मई के बाद दिल्ली में ऑड-ईवन की तर्ज पर खुल सकते हैं मार्केट और शॉपिंग मॉल

पीएम मोदी ने अपने भाषण में कहा था कि लॉकडाउन-4 एक नए रूप वाला होगा।

Abhishek Lohia
  • May 14 2020 11:21PM

अब लॉकडाउन का तीसरा चरण भी खत्म हो रहा है। पीएम मोदी ने अपने भाषण में कहा था कि लॉकडाउन-4 एक नए रूप वाला होगा। यानी इसमें बहुत सारी छूट दी जा सकती है। दिल्ली में अब भी कोरोना के नए केस बड़ी संख्या में सामने आ रहे हैं। ऐसे में सवाल है कि राजधानी में लोगों को कितनी छूट मिलेगी। दिल्ली की केजरीवाल सरकार मार्केट, दुकानें और मॉल को ऑड-ईवन की तर्ज पर खोलने का विचार कर रही है। ऐसे में एक दिन आधी दुकानें और दूसरे दिन बाकी की आधी दुकानें खोली जा सकेंगी।

सूत्रों के मुताबिक दिल्ली सरकार ने केंद्र सरकार के सुझाव दिया है कि मार्केट और मॉल को ऑड-ईवन की तर्ज पर खोला जाए। मुख्यमंत्री केजरीवाल ने भी अपनी प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा था कि जनता ने इस तरह के सुझाव दिए हैं। उन्होंने कहा था, 'बहुत सारे लोगों ने बस सेवा शुरू करने और मार्कट, मॉल को ऑड-ईवन में खोलने की सलाह दी है। इसके अलावा लोगों ने बार्बर शॉप को बंद रखने को ही कहा है।' पीएम मोदी के साथ मुख्यमंत्रियों की बैठक में भी यह बात कही गई थी कि 15 मई तक सभी राज्य अपने-अपने सुझाव और रणनीति की जानकारी दें जिससे लॉकडाउन-4 की रूपरेखा तय की जा सके।

बस, मेट्रो चलाने का भी सुझाव
सूत्रों के मुताबिक दिल्ली सरकार ने केंद्र को सुझावों की सूची सौंपी है। इसमें यह भी कहा गया है कि सोशल डिस्टैंसिंग के नियमों का पालन करते हुए बस, मेट्रो, ऑटो और टैक्सी भी चलाई जा सकती हैं। इसके साथ ही निर्माण के कार्यों को शुरू करने का सुझाव देते हुए कहा गया है कि मजदूरों को शहर के अंदर आने-जाने की छूट दी जा सकती है। हालांकि केजरीवाल सरकार ने सलाह दी है कि कन्टेनमेंट जोन में किसी तरह की ऐक्टिविटी न शुरू की जाए।

केजरीवाल ने जनता से मांगे थे सुझाव
मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली की जनता से फोन, वॉट्सऐप और ईमेल के जरिए सुझाव मांगे थे। उन्होंने कहा कि लगभग 5 लाख लोगों ने अपने-अपने सुझाव भेजे हैं। उन्होंने कहा कि लगभग 10 हजार लोगों ने ईमेल के जरिए विस्तार में सुझाव दिए हैं।

शराब की दुकान खोलने पर हुई थी किरकिरी
दिल्ली में शराब की दुकानें खोलने की इजाजत दिए जाने के बाद दुकानों पर बड़ी संख्या में लोग दिखाई दिए थे। लोगों ने सोशल डिस्टैंसिंग का भी खयाल नहीं रखा और शराब खरीदने के लिए टूट पड़े। ऐसे में केजरीवाल सरकार की किरकिरी भी हुई थी। इसके बाद बीजेपी और कांग्रेस दोनों ने निशाना साधा था। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने भी शराब की दुकानों को खोलने के लिए दिल्ली सरकार की आलोचना थी। उन्होंने कहा था कि दिल्ली सरकार उस समय शराब की दुकानें खोलने में जुट गई जब राष्ट्रीय राजधानी अभी भी रेड जोन में है। उन्होंने कहा कि दुकानों के बाहर भारी भीड़ के मद्देनजर सरकार को अपने फैसले की समीक्षा करनी चाहिए।

दिल्ली में एक ही दिन में 772 मामले
राष्ट्रीय राजधानी में कोरोना वायरस के एक दिन में सबसे अधिक 472 मामले सामने आने के बाद शहर में वायरस के मामले बढ़कर गुरुवार को 8,470 हो गए। वहीं वायरस से जान गंवाने वालों की संख्या 115 हो गई है। इससे पहले सात मई को सबसे अधिक 448 मामले सामने आए थे। दिल्ली में बुधवार तक कोविड-19 के 7,998 मामले थे और 106 लोगों की इससे जान गई थी। दिल्ली के स्वास्थ्य विभाग ने बृहस्पतिवार को जारी एक बुलेटिन में कहा कि कोरोना वायरस के 472 नए मामले सामने आने के बाद शहर में वायरस के मामले बढ़कर 8,470 हो गए।

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

कोरोना के कारण पीड़ित गरीब लोगो के लिए आर्थिक सहयोग

Donation
0 Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार