सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

8 बलिदानी पुलिसकर्मियों के परिवार देखते रह गए राह... कांग्रेस पहुँच गई मानवाधिकार आयोग विकास दुबे की मौत पर

कांग्रेस की शिकायत Vikas Dubey नहीं बल्कि UP Police के खिलाफ है NHRC में.

Rahul Pandey
  • Jul 11 2020 11:13AM
जैसा सोचा जा रहा था वैसा ही हुआ। Kanpur Encounter मामले में कानपुर के कलंक कहे जा सकने वाले और अपनी ही जाति के कई लोगों को बारी-बारी से मार चुके विकास दुबे समर्थन में जिस प्रकार जातिवादी लहर सोच समझकर राजनैतिक संरक्षण में चलाई गई उसकी थोड़ी बहुत उगी फसल को काटने के लिए अब कुछ राजनेताओं ने तैयारी शुरू कर दी है और इसका आगाज किया है इस मामले में सबसे ज्यादा सक्रिय कांग्रेस पार्टी ने। कांग्रेस पार्टी के प्रवक्ता और टीवी डिबेट के प्रमुख चेहरे तहसीन पूनावाला विकास दुबे के इन काउंटर पर सवाल उठाते हुए पहुंच गए हैं मानवाधिकार आयोग।

दुर्दांत हत्यारे Vikas Dubey के Encounter को समाज का एक तबका संदेह की नजर से ही रहा है, लेकिन अब यह मामला राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (NHRC) के पास भी पहुंच गया है। टीवी डिबेट्स में शामिल होने वाले और राजनीतिक टिप्पणीकार तहसीन पूनावाला ने दुबे के एनकाउंटर के खिलाफ आयोग में शिकायत दर्ज करवाई है।

तहसीन ने अपने ट्वीटर से इसकी जानकारी देते हुए लिखा है कि- 'मैंने यूपी के नेताओं, योगी आदित्यनाथ सरकार और यूपी के पुलिस पदाधिकारियों को बचाने के लिए तय स्क्रिप्ट के तहत शुक्रवार सुबह को विकास दुबे कथित फर्जी एनकाउंटर के खिलाफ राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग में शिकायत दर्ज करवाई है।' उनकी शिकायत एचआरसी नेट पोर्टल की डायरी नंबर 10210 / IN / 2020 में प्राप्त हुई है।

तहसीन ने आगे कहा कि ऊपर के ये सवाल गंभीर संदेह पैदा करते हैं कि विकास दुबे के सरेंडर के बाद उचित कानूनी प्रक्रिया का पालन नहीं किया गया। पूनावाला ने आयोग से इस पर संज्ञान में लेते हुए उचित कार्रवाई करने की उम्मीद जताई। उन्होंने आरोप लगाया कि यूपी पुलिस अपने अवैध और असंवैधानिक व्यवहार को चर्चित रही है और इस व्यवहार के चलते उस पर अदालतों और मानवाधिकार आयोग में पहले से ही कई शिकायतें दर्ज हैं। तहसीन पूनावाला टेलीविजन शो में अपनी उपस्थिति और सामाजिक, मीडिया पर अपने विचार को स्पष्ट करने के लिए जाने जाते हैं।

इससे पहले भी कांग्रेस पार्टी सीएए और एनआरसी के नाम पर दंगा फैलाने वालों पर पुलिस कार्यवाही के बाद पुलिस के खिलाफ एनएचआरसी पहुंची थी जिस मैं उनके साथ अभिषेक मनु सिंघवी व राहुल गांधी और प्रियंका गांधी भी मौजूद रहे थे। ऐसे में एक बार फिर पुलिस के खिलाफ खड़े होकर के कांग्रेस पार्टी ने अपने उन तमाम बयानों पर प्रश्नचिन्ह लगा दिया है जो 8 पुलिसकर्मियों के बलिदान के बाद उनके शीर्ष स्तर से आए थे। फिलहाल वीरगति प्राप्त जवानों के परिवार आज तक इन नेताओं के आने की राह देख रहे हैं जिन्होंने विकास दुबे के मारे जाने पर अब पुलिस को ही कटघरे में खड़ा कर दिया है।

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

0 Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार