सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

लखनऊ और नोएडा में कमिश्नरेट सिस्टम की सफलता के बाद अब वाराणसी, कानपुर की बारी

लखनऊ और नोयडा में पुलिस कमिश्नरेट सिस्टम के सफलता पूर्वक लागू होने के बाद अब योगी सरकार इसे कानपुर व वाराणसी में लागू किये जाने की तैयारी में है

रजत के. मिश्र Twitter- rajatkmishra1
  • Jan 10 2021 12:19PM

लखनऊ और नोएडा में कमिश्नरी प्रणाली लागू होने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी और कानपुर में भी कमिश्नरी सिस्टम लागू करने के लिए शासन स्तर पर कवायद चल रही है। प्रमोट हुए किसी तेजतर्रार अफसर को कमिश्नरेट की जिम्मेदारी सौंपी जा सकती है। 

साथ ही ये भी बताया जा रहा है कि बीते दिसंबर में एक दर्जन से ज्यादा 2015 बैच के आईपीएस अधिकारियों को जिला संभालने की जिम्मदारी दी गई थी। 2022 विधानसभा चुनाव से पहले अधिकारियों की क्षमता देखने के लिए इन्‍हें जिलों में पोस्टिंग दी गई है। 6 महीने बाद इन अधिकारियों की समीक्षा रिपोर्ट तैयार की जाएगी। इसके आधार पर ये तय होगा कि आगे इन अधिकारियों को क्या जिम्मेदारी देनी है।

उत्तर प्रदेश के गृह विभाग में तबादलों के ऊपर मंथन शुरू हो गया है। पंचायत चुनाव से पहले पुलिस विभाग में बड़े पैमाने पर तबादले की तैयारी चल रही है। वहीं, नोएडा और लखनऊ कमिश्नरेट के एक साल पूरा होने के बाद अब प्रदेश के 2 अन्‍य बड़े जिलों वाराणसी और कानपुर में भी कमिश्नरेट प्रणाली शुरू करने की तैयारी की जा रही है।

सहयोग करें

हम देशहित के मुद्दों को आप लोगों के सामने मजबूती से रखते हैं। जिसके कारण विरोधी और देश द्रोही ताकत हमें और हमारे संस्थान को आर्थिक हानी पहुँचाने में लगे रहते हैं। देश विरोधी ताकतों से लड़ने के लिए हमारे हाथ को मजबूत करें। ज्यादा से ज्यादा आर्थिक सहयोग करें।
Pay

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार