सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

बॉयज लॉकर रूम का एडमिन गिरफ्तार, चैट ग्रुप के सदस्यों के नाम का किया खुलासा

इस पूरे मामले में दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल द्वारा 4 मई को आईटी एक्ट और आईपीसी की धाराओं के तहत एक एफआईआर दर्ज की गई थी.पुलिस ने चैट में शामिल ग्रुप के सदस्यों की जानकारी देने के लिए इंस्टाग्राम को भी लिखा है.

Abhishek Lohia
  • May 6 2020 6:57PM

दिल्ली पुलिस (Delhi Police) ने इंस्टाग्राम पर चैट ग्रुप बनाकर अश्लील बातें करने वाले बॉयज लॉकर रूम के एडमिन को बुधवार को गिरफ्तार कर लिया. इससे पहले, ग्रुप के ही एक नाबालिग सदस्य को पुलिस ने गिरफ्तार किया था. सूत्रों का कहना है, गिरफ्तार किए गए एडमिन ने पूछताछ के दौरान ग्रुप के अन्य सदस्यों के नाम का भी खुलासा किया है, जो नाबालिग लड़कियों की अश्लील तस्वीरें साझा करने और गैंगरेप करने के बारे में बात करते थे.

आरोपी एडमिन 12वीं कक्षा का छात्र है और वो बालिग है. उसने इसी साल बोर्ड के एग्जाम दिए थे. आरोपी एनसीआर के ही एक स्कूल का छात्र है. बॉयज लॉकर रूम के 27 सदस्यों की पहचान हो गई है. मंगलवार के बाद से अब तक 15 लोगों को पूछताछ के लिए बुलाया जा चुका है. उनके फोन को भी सीज किया जा चुका है.

कॉलेज के भी छात्र ग्रुप का हिस्सा

इस पूरे मामले की जांच दिल्ली पुलिस की साइबर सेल कर रही है. शुरुआती जांच में पता चला कि इंस्टाग्राम चैट ग्रुप में स्कूल के छात्रों के साथ कॉलेजों के छात्र भी थे. कॉलेज के लगभग 10 छात्र ग्रुप के सदस्य थे. वे फर्स्ट और सेकंड ईयर के छात्र हैं. सूत्रों का कहना है कि इन कॉलेज के छात्रों की पहचान स्थापित की गई है. संदेह है कि इसी तरह के और भी ग्रुप थे, जिन्हें अब डिएक्टिवेट कर दिया गया है.

इस पूरे मामले में दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल द्वारा 4 मई को आईटी एक्ट और आईपीसी की धाराओं के तहत एक एफआईआर दर्ज की गई थी.पुलिस ने चैट में शामिल ग्रुप के सदस्यों की जानकारी देने के लिए इंस्टाग्राम को भी लिखा है. दिल्ली पुलिस के एक अधिकारी ने कहा कि ग्रुप के प्रमुख सदस्यों की पहचान करने के बाद उनकी जांच की जा रही है.

NCR के अन्य छात्र भी थे शामिल

साइबर सेल की जांच में पता चला है कि इस इंस्टाग्राम ग्रुप में अलग-अलग स्कूल के लड़के भी थे. इस चैट ग्रुप में सिर्फ दिल्ली ही नहीं बल्कि एनसीआर के भी दर्जनों स्टूडेंट शामिल थे. साइबर सेल के अधिकारियों के मुताबिक इस ग्रुप में 4 ऐसे लड़के भी हैं जो स्कूल के स्टूडेंट हैं लेकिन उनकी उम्र 18 साल है यानी वो बालिग हैं. साइबर सेल के अधिकारियों ने कहा कि उन्होंने इन लड़कों से पूछताछ की है. इनमें एक लड़का नोएडा के स्कूल का भी है.

क्या है पूरा मामला

आपको बता दें कि बॉयज लॉकर रूम सोमवार को ट्विटर पर ट्रेंड कर रहा था. दरअसल, ये इंस्टाग्राम पर बनाए गए एक अकाउंट का नाम है, जिस पर कथित रूप से कुछ स्कूली बच्चे अश्लील चैट कर रहे थे. आरोप है कि इस ग्रुप में लड़कियों की फोटो डालकर गैंगरेप करने की बात कही जा रही थी. इस ग्रुप के ज्यादातर बच्चे साउथ दिल्ली से हैं. वहीं मामले को दक्षिणी दिल्ली पुलिस ने साइबर सेल से जांच करने के लिए कहा था.

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

कोरोना के कारण पीड़ित गरीब लोगो के लिए आर्थिक सहयोग

Donation
0 Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार