सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

कानपुर वाले विकास दुबे की पत्नी पहुँची ईडी ऑफिस

बिकरु कांड के मुख्य आरोपी विकास दुबे की पत्नी ऋचा आज लखनऊ स्थित ईडी कार्यालय पहुची... ईडी ने उन्हें जारी कर रखा था समन

रजत मिश्र, उत्तर प्रदेश , Twitter: rajatkmishra1
  • Oct 21 2020 3:20PM

कानपुर एनकाउंटर के मुख्य आरोपी विकास दुबे की पत्नी ऋचा दुबे बुधवार को लखनऊ स्थित प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के दफ्तर पहुंची है। ईडी ने ऋचा दुबे को पेश होने के लिए समन जारी किया था। ईडी ने संपत्तियों का ब्योरा भी मांगा है। बिकरु कांड के बाद से ही प्रवर्तन निदेशालय विकास दुबे की बेनामी संपत्तियों की जानकारी एकत्र करने में लगा हुआ है।

ईडी ने विकास दुबे की पत्नी ऋचा दुबे को तलब किया है। ईडी ने ऋचा से बैंक डॉक्यूमेंट, इनकम टैक्स रिटर्न और प्रॉपर्टी के दस्तावेज मांगे हैं। गौरतलब है कि छानबीन के बाद प्रवर्तन निदेशालय ने 14 सितंबर को विकास दुबे और उसके साथी जय बाजपेयी सहित 36 आरोपियों के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज किया था। जय बाजपेयी, विकास दुबे का फाइनेंसर है। पुलिस ने जय बाजपेई की कानपुर में तीन अवैध संपत्तियों को कुर्क भी किया था। वर्तमान में वह जेल में बंद है।

गौरतलब है कि कानपुर के बिकरु गांव में दो जुलाई की रात विकास दुबे ने साथियों के साथ मिलकर सीओ देवेंद्र मिश्र समेत आठ पुलिसकर्मियों की हत्या कर दी थी। कानपुर के बिकरु कांड में शहीद हुए आठ पुलिस कर्मियों की पोस्टमार्टम रिपोर्ट से विकास दुबे की बर्बरता का खुलासा हुआ था। पोस्टमार्टम रिपोर्ट ने पुलिस और डॉक्टर सभी को हैरान कर दिया था।

विकास ने अपने साथियों के साथ मिलकर हैवानियत की हदों को पार कर सीओ और आठ पुलिस कर्मियों को मारा। सीओ बिल्हौर देवेंद्र कुमार मिश्रा को विकास और उसके साथियों ने सबसे दर्दनाक मौत दी थी। पोस्टमर्टम रिपोर्ट से खुलासा हुआ था कि शहीद क्षेत्राधिकारी देवेंद्र मिश्रा समेत सभी पुलिसकर्मियों की बड़ी ही बेरहमी से हत्या की गई। पहले गोलियों से भूना गया फिर भी जब हत्यारों का मन नहीं भरा तो मौत को और दर्दनाक बनाने के लिए धारधार हथियारों का भी इस्तेमाल किया गया।

सहयोग करें

हम देशहित के मुद्दों को आप लोगों के सामने मजबूती से रखते हैं। जिसके कारण विरोधी और देश द्रोही ताकत हमें और हमारे संस्थान को आर्थिक हानी पहुँचाने में लगे रहते हैं। देश विरोधी ताकतों से लड़ने के लिए हमारे हाथ को मजबूत करें। ज्यादा से ज्यादा आर्थिक सहयोग करें।
Pay

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

0 Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार