सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

प्रधानमंत्री ने मुख़्यमंत्रिओं से किस रणनीति के बारे की आलोचना?आर्थिक गतिविधियों को बढ़ाने के लिए क्या फैस्ले किये गए

प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी ने सोमवार को मुख्यमंत्री के साथ परामर्श किया जिसमे कोविद -19 सम्मिलन रणनीति को मज़बूत करने की बात की गयी आर्थिक गतिविधियों को आगे बढ़ाने की बात होने की आशंका है

Leechhvee Roy
  • May 11 2020 7:25PM

बैठक में  रेड ’ज़ोन को ‘ ऑरेंज ’या’ ग्रीन ’ज़ोन में बदलने के प्रयासों पर भी चर्चा होने की संभावना है। 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को मुख्यमंत्रियों के साथ परामर्श के एक नए दौर की अध्यक्षता की जिसमें COVID-19 सम्‍मिलन रणनीति को मजबूत करने की और  आर्थिक गतिविधियों को आगे बढ़ाने का काम किया जायेगा । शहरी से ग्रामीण भारत में प्रवासी श्रमिकों के बड़े पैमाने पर आंदोलन और गृह राज्यों में उनकी वापसी की समस्या का कारण अर्थव्यवस्था को फिर से शुरू करना हो सकता है, प्रधान मंत्री और मुख्यमंत्रियों के बीच पांचवीं आभासी बातचीत के दौरान भी फोकस क्षेत्रों में बात होगी ।  यह सुनिश्चित करने का प्रयास किया जाएगा कि सभी भाग लेने वाले मुख्यमंत्रियों को बातचीत के दौरान अपने विचारों को प्रसारित करने का अवसर मिले, क्योंकि उनमें से कुछ ने शिकायत की थी कि उन्हें 27 अप्रैल को अंतिम बातचीत के दौरान अपने विचार रखने की अनुमति नहीं थी।

एक आधिकारिक बयान के अनुसार, रविवार को कैबिनेट सचिव राजीव गौबा के साथ एक बैठक में, राज्य के मुख्य सचिवों ने उन्हें बताया कि "COVID -19 से सुरक्षा की आवश्यकता है, वहीं आर्थिक गतिविधियों को भी बड़े पैमाने पर सुधारने की जरूरत है"।हजारों प्रवासी कामगार अपने देश के राज्यों में वापस जाने के लिए विशेष रेलगाड़ियाँ ले रहे हैं, औद्योगिक गतिविधियों को फिर से शुरू करना राज्यों के लिए एक चुनौती साबित होगी, हालाँकि कारखाना उत्पादन बढ़ाने के लिए श्रम कानूनों में कई ढीलें दी गई हैं। बैठक में  रेड ’ज़ोन को ‘ ऑरेंज ’या’ ग्रीन ’ज़ोन में बदलने के प्रयासों पर भी चर्चा होने की संभावना है। प्रधान मंत्री ने मुख्यमंत्रियों के साथ 27 अप्रैल को अंतिम बार बातचीत की। बैठक के दिनों के बाद, केंद्र सरकार ने वायरस के प्रसार को रोकने के लिए लॉकडाउन को 17 मई तक दो सप्ताह के लिए बढ़ा दिया था, लेकिन आर्थिक गतिविधियों और आंदोलन में कई ढील दी लोग। वायरस फैलाने के लिए 25 मार्च से देशव्यापी तालाबंदी लागू हो गई है, जिसमें 2200 से अधिक लोग मारे गए हैं और देश में 67,000 से अधिक पीड़ित हैं।

सहयोग करें

हम देशहित के मुद्दों को आप लोगों के सामने मजबूती से रखते हैं। जिसके कारण विरोधी और देश द्रोही ताकत हमें और हमारे संस्थान को आर्थिक हानी पहुँचाने में लगे रहते हैं। देश विरोधी ताकतों से लड़ने के लिए हमारे हाथ को मजबूत करें। ज्यादा से ज्यादा आर्थिक सहयोग करें।
Pay

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

0 Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार