सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे

Donation

रोम वालों की राम भक्ति सन्देहप्रद है: योगी

यूपी विधानसभा मानसून सत्र के आखिरी दिन आज सीएम योगी ने विपक्ष को जमकर लताड़ा... राम और परशुराम के मुद्दे पर योगी ने विपक्ष पर कटाक्ष करने के लिए राम चरित मानस की चौपाइयों का भी सहारा लिया..

Rajat Mishra, Twittar- @rajatkmishra1
  • Aug 22 2020 4:52PM

यूपी विधानसभा मानसून सत्र के आखिरी दिन आज सीएम योगी विपक्ष पर खासे हमलावर  नजर आए। बीते कुछ दिनों में विपक्ष जिस तरह राम और परशुराम को लेकर सरकार पर हमलावर था, उस पर योगी ने जमकर प्रहार किया। 

उन्होंने कहा कि राम और परशुराम में कोई अंतर नहीं है। दोनों विष्‍णु के ही अवतार हैं। बस कुछ लोगों की बुद्धि में भेद है। मुख्‍यमंत्री ने रामचरित मानस के सीता स्‍वयंवर में धनुष भंग प्रसंग का उल्‍लेख करते हुए कहा कि गोस्‍वामी तुलसीदास ने राम और परशुराम के सम्‍बन्‍धों को रामचरित मानस में स्‍पष्‍ट किया है। इस प्रसंग में राम कहते हैं-'राममात्र लघु नाम हमारा, परशुसहित बड़ नाम तुम्हारा, सब प्रकार हम तुमसन हारे, क्षमहु विप्र अपराध हमारे।' 

आगे सीएम ने यह भी कहा कि रोम के लोग भी अब राम का नाम ले रहे हैं। उन्होंने खासतौर पर कोरोना काल में राममंदिर निर्माण के लिए भूमिपूजन कार्यक्रम का उल्‍लेख करते हुए कहा कि 492 साल पुराना विवाद खत्‍म हुआ है। विपक्ष पर कटाक्ष जड़ते हुए योगी बोले कि जो राम का हुआ उसके सारे काम सिद़ध होते जाते हैं। वह सबके लिए पूज्‍य हो जाता है जैसे बजरंग बली हनुमान और महर्षि वाल्मिकि। लेकिन जिसने राम के साथ द्रोह किया उसकी दु‍गर्ति मारीच जैसी होती है।

सहयोग करें

हम देशहित के मुद्दों को आप लोगों के सामने मजबूती से रखते हैं। जिसके कारण विरोधी और देश द्रोही ताकत हमें और हमारे संस्थान को आर्थिक हानी पहुँचाने में लगे रहते हैं। देश विरोधी ताकतों से लड़ने के लिए हमारे हाथ को मजबूत करें। ज्यादा से ज्यादा आर्थिक सहयोग करें।
Pay

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

1 Comments

Jay sri ram

  • Guest
  • Aug 23 2020 8:35:19:753PM

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार