सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

''अशरफ'' हैंडलर नासिर के इशारे पर देता था आतंकी करतूतों को अंजाम.... हवाला के जरिए पाकिस्तान से आया था पैसा

मो. अशरफ के दिल्ली में बैंक खाते का पता लगा है। उसका खाता सेंट्रल बैंक में है। इस खाते पर डेबिट कार्ड भी जारी है। बैंक खाते में पैन नंबर भी दिया हुआ है। खाते से पैसों का लेन-देन होने की जानकारी मिली है। स्पेशल सेल इस बात की जांच कर रही है कि भारत में लोगों ने मो. अशरफ के बैंक खाते में रुपये क्यों जमा कराए थे।

Prem Kashyap Mishra
  • Oct 22 2021 12:47PM

दिल्ली को दहलाने की साजिश रचने वाला अशरफ फ़िलहाल ATS की कैद में है। उसकी हवा पूरी तरीके से निकल चुकी है। जहाँ वो लगातार एक से एक बड़े खुलासे कर रहा है। भारत में पाकिस्तान का बड़ा स्लिपर सेल काम कर रहा है। अब इसको इसको दिल्ली पुलिस पता लगाने में जुट गई है। दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल की गिरफ्त में आया दहशतगर्द मोहम्मद अशरफ इनके बारे में कुछ नहीं बता रहा है। ऐसे में इन आतंकियों का पता करने के लिए स्पेशल सेल ने मोहम्मद अशरफ का पॉलीग्राफी टेस्ट करने का निर्णय किया है। 

एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि सीबीआई की मदद लेकर सीएफएसएल में पॉलीग्राफी टेस्ट शुक्रवार को कराया जाएगा। स्पेशल सेल के विशेष पुलिस आयुक्त नीरज ठाकुर ने बृहस्पतिवार को लोदी कॉलोनी पहुंचकर मोहम्मद अशरफ से कई घंटे पूछताछ की। स्पेशल सेल के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि पाकिस्तानी हैंडलर नासिर ने मो. अशरफ को कालिंदी कुंज में यमुना घाट से विस्फोटक व हथियार लाकर किसी को देने के आदेश दिए थे। 

आपको बता दें दूसरी तरफ मो. अशरफ के दिल्ली में बैंक खाते का पता लगा है। उसका खाता सेंट्रल बैंक में है। इस खाते पर डेबिट कार्ड भी जारी है। बैंक खाते में पैन नंबर भी दिया हुआ है। खाते से पैसों का लेन-देन होने की जानकारी मिली है।  स्पेशल सेल इस बात की जांच कर रही है कि भारत में लोगों ने मो. अशरफ के बैंक खाते में रुपये क्यों जमा कराए थे। मो. अशरफ से पूछताछ में हवाला के जरिये पाकिस्तान से पैसे के भी सबूत मिले हैं।

स्पेशल सेल के इस वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि मो. अशरफ ने पूछताछ में ये भी खुलासा किया है कि हैंडलर नासिर ने उसे आदेश दिया था कि वह दिल्ली के नामी बदमाशों से संपर्क करे, ताकि इन बदमाशों का आतंकी वारदात जैसे टारगेट किलिंग में इस्तेमाल किया जा सके। मो. अशरफ ने दिल्ली के कुछ बदमाशों से संपर्क भी किया था। आईएसआई श्रीनगर में भी आतंकी वारदात के लिए इसी तरीके को अपना रही है।

मोहम्मद अशरफ ने पूछताछ में बताया कि वह कुछ महीने पहले पाकिस्तान अपने परिवार के पास जाना चाहता था। उसे परिवार की बहुत याद आ रही थी। जब उसने हैंडलर को पाकिस्तान आने की बात कही तो हैंडलर ने उससे कहा कि अभी उसे भारत में बहुत बड़े काम करने हैं। बड़े काम करने के बाद उसके पाकिस्तान आने के बारे में सोचा जाएगा।

सहयोग करें

हम देशहित के मुद्दों को आप लोगों के सामने मजबूती से रखते हैं। जिसके कारण विरोधी और देश द्रोही ताकत हमें और हमारे संस्थान को आर्थिक हानी पहुँचाने में लगे रहते हैं। देश विरोधी ताकतों से लड़ने के लिए हमारे हाथ को मजबूत करें। ज्यादा से ज्यादा आर्थिक सहयोग करें।
Pay

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार