सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

कासगंज हत्याकांड: शहीद देवेंद्र को तेहरवीं से 1 दिन पहले UP पुलिस ने दी श्रद्धाजंलि.. हत्यारा मोती सिंह एनकाउंटर में ढेर....

पुलिस ने कटरी किंग उर्फ मोती सिंह को किया ढेर.. कासगंज हत्याकांड का मुख्य आरोपी था मोती सिंह.. तड़के सुबह 3:30 बजे काली नदी के पास हुए इनकाउंटर में ढेर..

रजत के.मिश्र , Twitter - rajatkmishra1
  • Feb 21 2021 9:28AM

कासगंज कांड के मुख्य आरोपी मोती सिंह को यूपी पुलिस ने एनकाउंटर में ढेर कर दिया। यह इनकाउंटर सुबह 3:30 बजे काली नदी के पास हुआ। पुलिस ने मुखबिर की खबर के आधार पर रेकी करके मोती सिंह को करथला रोड पर घेर लिया। इसके बाद दोनों तरफ से फायरिंग हुई। जिसमें हत्यारे शराब माफिया मोती सिंह को गोली लग गई। मोती सिंह को घायल अवस्था में अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने मोती सिंह के पास से लूटी हुई सरकारी पिस्टल और एक तमंचा बरामद किया है। मोती और पुलिस के बीच करतला रोड पर काली नदी के पास मुठभेड़ हुई।

जानिए क्या था पूरा मामला-

कासगंज जिले के नगला धीमर गांव में 10 फरवरी को अवैध शराब के कारोबार को बंद कराने गई पुलिस पार्टी पर शराब माफियाओं ने जानलेवा हमला किया था, इस हमले में सिपाही देवेंद्र सिंह शहीद हो गए थे, सिपाही देवेंद्र को मोती सिंह और उसके साथियों ने पीट-पीट कर मार डाला था, जबकि दारोगा अशोक गंभीर रूप से घायल अवस्था मे खेत मे मिले थे। यह अवैध कारोबार मोती सिंह और उसका भाई चला रहा था। पुलिस पार्टी पर हमले के बाद सभी बदमाश मौके से फरार हो गए थे। मुख्य आरोपी मोती सिंह के ऊपर पुलिस ने एक लाख का ईनाम घोषित किया था। पुलिस के साथ हुई इस मुठभेड़ में मोती सिंह के दो भाई भागने में कामयाब हो गए है फिलहाल पुलिस उनकी तलाश में है।

कटरी किंग के नाम से जाना जाता था मोती सिंह -

नगला धीमर इलाके में हिस्ट्रीशीटर मोती सिंह का आतंक था। लोग उसे कटरी किंग कहते थे। पुलिस ने मारपीट की घटना के बाद अगले ही दिन मोती के भाई एलकार को एनकाउंटर में ढेर कर दिया था। एलकार मोती का चचेरा भाई था। उसका एनकाउंटर भी 10 फरवरी को सुबह तड़के तीन बजे काली नदी के किनारे किया गया था। पुलिस इस केस में मोती की मां सियारानी, नवाब और गुड्डू को पहले ही गिरफ्तार कर चुकी है।

शहीद सिपाही देवेंद्र की कल है तेहरवीं - 

10 फरवरी को हुए घटनाक्रम में शहीद हुए सिपाही देवेंद्र सिंह का कल तेरहवीं संस्कार है। देवेंद्र की तेरहवीं से ठीक 1 दिन पहले उसके हत्यारे मोती सिंह को ढेर कर यूपी पुलिस ने अपनी सच्ची श्रद्धांजलि देवेंद्र सिंह को दी है। इस मुठभेड़ के साथ यूपी पुलिस ने अपने इरादे और साफ कर दिए हैं, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपराध को लेकर जीरो टॉलरेंस की जो पॉलिसी अपनाई है उसको यूपी पुलिस अक्षरश: जमीन पर उतार रही है।

सहयोग करें

हम देशहित के मुद्दों को आप लोगों के सामने मजबूती से रखते हैं। जिसके कारण विरोधी और देश द्रोही ताकत हमें और हमारे संस्थान को आर्थिक हानी पहुँचाने में लगे रहते हैं। देश विरोधी ताकतों से लड़ने के लिए हमारे हाथ को मजबूत करें। ज्यादा से ज्यादा आर्थिक सहयोग करें।
Pay

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

0 Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार