सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

गोरखपुर: अपहृत बच्चे के हत्यारे अब ताउम्र सड़ेंगे जेल में.. योगी ने दिए NSA जैसी कार्यवाही के निर्देश.

गोरखपुर से अगवा 12 साल के बच्चे की हुई थी हत्या, एक करोड़ की मांगी थी फिरौती, अपहरणकर्ताओं ने पहचान हो जाने के डर से कर दी हत्या..

रजत मिश्र, उत्तर प्रदेश, ट्विटर- @rajatkmishra1
  • Jul 28 2020 10:25AM

गोरखपुर में 12 साल के बच्चे के अपहरण के बाद हुई हत्या मामले में योगी आदित्यनाथ ने बेहद सख्त कार्यवाही करने के आदेश दिए है। सीएम ने आरोपियों पर NSA के तहत कार्यवाही करने के निर्देश दिए है साथ ही पूरे प्रकरण में पुलिसकर्मियों की भूमिका की भी जांच करने के आदेश दिए है। मुख्यमंत्री ने पीड़ित परिवार के प्रति शोक संवेदना प्रकट करते हुए परिवार को 5 लाख की आर्थिक सहायता दिए जाने के निर्देश दिए है। योगी आदित्यनाथ ने पीड़ित परिवार को इस बात के लिए आश्वस्त किया है कि राज्य सरकार प्रकरण की फास्ट ट्रैक कोर्ट में सुनवाई कराकर अपराधियों को जल्द से जल्द सजा दिलाएगी। सीएम ने कहा है कि इस जघन्य कांड में अपराधियों के विरुद्ध एनएसए के तहत कार्रवाई पर विचार किया जाएगा। 

बलराम का हुआ था अपहरण - 

गोरखपुर जिले के मिश्रौलिया टोला गांव के निवासी महाजन गुप्ता के बेटे बलराम (12) को रविवार दोपहर अगवा कर लिया गया था। इसके बाद दोपहर तीन से साढ़े तीन बजे के बीच महाजन गुप्ता के पास तीन बार फोन आया। पहले एक करोड़ की फिरौती मांगी गई फिर 50 लाख की और तीसरी बार 20 लाख रुपये की फिरौती मांगी गई। सोमवार की शाम सात बजे तक रुपये का इंतजाम करने को कहा। पुलिस के मुताबिक दयानंद, अजय गुप्ता और निखिल ने मिलकर छात्र का अपहरण किया और बाद में उसकी हत्या कर दी। रिंकू और नितेश भी साजिश में शामिल थे जिनको बलराम ने पहचान लिया था, इसीलिए अपहर्ताओं ने उसकी हत्या कर दी।

बच्चे का अंतिम संस्कार , दोषी पुलिसकर्मी निलंबित - 

भारी पुलिस सुरक्षा के बीच आज बच्चे का अंतिम संस्कार कर दिया गया गोरखपुर के बरगदही घाट पर बच्चे का अंतिम संस्कार किया गया। इस दौरान शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए भारी पुलिस फोर्स तैनात किया गया था। इसके साथ ही इस पूरे मामले में ढिलाई बरतने वाले उप निरीक्षक दिग्विजय सिंह और सिपाही प्रदीप सिंह  सुरेंद्र तिवारी को निलंबित कर दिया गया है।

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

3 Comments

Culpirits yani Accuse ko FhAshi ki Panishment hona Chahiye.

  • Guest
  • Jul 30 2020 8:50:43:123PM

Culpirits yani Accuse ko FhAshi ki Panishment hona Chahiye.

  • Guest
  • Jul 30 2020 8:50:42:530PM

Nilamban se kam nahi chalne wala. Vikash dubey ke mamley mein dekha gaya ki kuchh police walon ne kaise milkar apney logon ko marva diya. Isi parkar koi na koi police wala galat kamai ke chakkar me apradhion se mila hua hai. Gambhi apradh mein shamil logon ko giraftar kar jail bhijwaya jay. Jo kisi halke apradh mein samil hai usko police se nikalkar ITBP, CRPF or PAC mein hamase ke liye attach kar diya jay.

  • Guest
  • Jul 29 2020 9:59:05:750AM

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार