सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

कोरोना संकट में सांप्रदायिक तनाव पैदा नहीं होने दूंगी: सीएम ममता बनर्जी

ममता बनर्जी ने सोमवार को प्रधानमंत्री के साथ हुए वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग का जिक्र करते हुए कहा कि जब हम पीएम के साथ मीटिंग करते हैं तो हमें उम्मीद रहती है कि कुछ मिलेगा, लेकिन हमें हमेशा निराशा हाथ लगती है, केंद्र पर हमारा 52000 करोड़ रुपया बकाया है.

Abhishek Lohia
  • May 12 2020 6:19PM

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममती बनर्जी ने अपने विरोधियों को एक बार फिर से अपने तेवर से रु-बरु कराया है. ममता ने मंगलवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि ये वक्त राजनीति करने का नहीं है. उन्होंने कहा कि ये बात मैंने सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ बातचीत के दौरान भी कही थी, यदि कुछ लोग सोचते हैं कि कोरोना के दौरान वे साम्प्रदायिक तनाव पैदा करेंगे तो मैं ऐसा नहीं होने दूंगी.

ममता बनर्जी ने अपने विरोधियों पर कटाक्ष करते हुए कहा," मेरे साथ राजनीतिक रूप से लड़ने के लिए पर्याप्त समय है, थोड़ा धैर्य रखिए, चुनाव अभी भी दूर है."

केंद्र पर 52 हजार करोड़ बकाया है

ममता बनर्जी ने सोमवार को प्रधानमंत्री के साथ हुए वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग का जिक्र करते हुए कहा कि जब हम पीएम के साथ मीटिंग करते हैं तो हमें उम्मीद रहती है कि कुछ मिलेगा, लेकिन हमें हमेशा निराशा हाथ लगती है, केंद्र पर हमारा 52000 करोड़ रुपया बकाया है.

आय का जरिया बंद हो गया

ममता बनर्जी ने कहा कि हमारे आय का जरिया बंद हो गया है लेकिन खर्च तो हमें करना ही है. लोग परेशानी में हैं उनके पास गुजर-बसर करने के लिए पैसे नहीं हैं. ममता बनर्जी ने कहा कि कल पीएम ने कहा कि कोरोना रहने वाला है और हमें इससे निपटना होगा, लेकिन एक बैलेंस होना चाहिए, कोरोना से भी निपटा जाए और लोगों की जिंदगी भी बचाई जाए.

जारी रहे लॉकडाउन

पश्चिम बंगाल सीएम ने कहा कि लॉकडाउन को अभी जारी रहना चाहिए. उन्होंने कहा कि अब ग्रीन जोन वाले जिलों में बसें चलेंगी. मुख्यमंत्री ने कहा कि ज्वैलरी की दुकानें, पेंट, इलेक्ट्रॉनिक्स, फूड स्टाल 12 बजे से 6 शाम तक खोले जा सकते हैं. लेकिन रेस्तरां खोलने की अनुमति नहीं होगी. कोलकाता में अब पोर्ट में भी काम शुरू हो जाएगा.

फिल्म इंडस्ट्री को काम करने की छूट

कोलकाता में फिल्म इंडस्ट्री भी सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने हुए काम करेगा. हालांकि यहां पर सिर्फ एडिंटिंग और डबिंग का काम भी किया जा सकेगा, शूटिंग की अनुमति नहीं होगी. ममता बनर्जी ने कहा कि लगभग एक लाख प्रवासी मजदूर अलग अलग साधनों से बंगाल आ चुके हैं. उन्होंने कहा कि अब पश्चिम बंगाल में पुलिस रेड जोन को ए बी और सी कैटेगरी में डिवाइड करेगी और उसी के मुताबिक छूट देगी.

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

कोरोना के कारण पीड़ित गरीब लोगो के लिए आर्थिक सहयोग

Donation
0 Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार