सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

कोरोना की स्थिति को लेकर सख्त हुई जिलाधिकारी सेल्वा कुमारी

अधिकारियों से समीक्षा बैठक कर कोरोना की स्थिति पर लिया जायजा, दिए अहम और सख्त निर्देश.

विशेषता अग्रवाल
  • Nov 25 2020 11:57AM

कोरोना संक्रमण को ध्यान में रखते हुए भारत में जिस तरह से सख्ती बरती जा रही है ऐसा मंजर कही ओर देखने को नहीं मिलेगा. कोरोना के शुरुआती स्टेज में जिस तरह से बड़े से बड़ा देश इसकी चपेट में आ गया था उससे इसपर काबू कर पाना मुश्किल लग रहा था. शक्तिशाली देश भी कोरोना महामारी से बच ना सका और जहां तक कोरोना ने लोगों की जिंदगी खतम कर दी उसके साथ-साथ अर्थव्यवस्था पर भी भारी नुकसान हुआ.

भारत की बात की जाए तो भारत ने पहले ही चेतावनी जारी कर दी थी कोरोना को लेकर और साथ ही कोरोना से बचाव के लिए लॉकडाउन जैसा तोड़ निकाला जिससे कम से कम लोग कोरोना की चपेट में आ सके. मोदी सरकार के सख्त एक्शन के चलते आज कोरोना की स्थिति नियंत्रण रेखा पर है. कोरोना को मध्य नजर रखते हुए मोदी सरकार अहम बैठक करती रही. सभी राज्य सरकारों से उनके राज्य में स्थिति को नियंत्रण रखने का सुझाव देती रही. 

कोरोना को लेकर योगी सरकार और अधिकारी जिस तेजी से उत्तर प्रदेश का कोरोना केस नियंत्रण कर पाए है ऐसे में कोई राज्य इसको लेकर शायद ही कर पाया हो. कहीं ना कहीं इसका श्रेय योगी सरकार के जिलाधिकारियों को भी जाता है क्योंकि प्रतिदिन अधिकारियों के साथ, स्वास्थय अधिकारियों के साथ, सफाई-कर्मचारियों के साथ समीक्षा बैठक करते हुए कोरोना पर नियंत्रण रखने के लिए सख्त निर्देश देते हुए दिखाई देते है. 

इसी बीच एक नाम जनपद मुजफ्फरनगर जिलाधिकारी आई.ए.एस सेल्वा कुमारी को भी जाता है, क्योंकि कोरोना को लेकर जिस तरह जिलाधिकारी ने अपने जिले में कोरोना को काबू किया हुआ है उससे स्थिति पर सही एक्शन लेने का श्रेय भी जिलाधिकारी सेल्वा कुमारी को जाता है. आपको बता दें कि कोरोना पर प्रतिदिन लगातार लोगों को जागरुक करना, अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक करना होता है. दिनांक 25 नवंबर 2020 को कोरोना संक्रमण के दृष्टिगत मुज़फ्फरनगर मेडिकल कॉलेज के कोविड स्टॉफ व अधिकारियों के साथ कोविड 19 के संबंध में जिलाधिकारी सेल्वा कुमारी ने समीक्षा बैठक की.

इस बात की जानकारी खुद जिलाधिकारी ने ट्वीटर हैंडल पर साझा की. नीचे दिए लिंक पर क्लिक करके आप ज्यादा जानकारी ले सकते है.

 
कोरोना संक्रमण को ध्यान में रखते हुए भारत में जिस तरह से सख्ती बरती जा रही है ऐसा मंजर कही ओर देखने को नहीं मिलेगा. कोरोना के शुरुआती स्टेज में जिस तरह से बड़े से बड़ा देश इसकी चपेट में आ गया था उससे इसपर काबू कर पाना मुश्किल लग रहा था. शक्तिशाली देश भी कोरोना महामारी से बच ना सका और जहां तक कोरोना ने लोगों की जिंदगी खतम कर दी उसके साथ-साथ अर्थव्यवस्था पर भी भारी नुकसान हुआ. भारत की बात की जाए तो भारत ने पहले ही चेतावनी जारी कर दी थी कोरोना को लेकर और साथ ही कोरोना से बचाव के लिए लॉकडाउन जैसा तोड़ निकाला जिससे कम से कम लोग कोरोना की चपेट में आ सके. मोदी सरकार के सख्त एक्शन के चलते आज कोरोना की स्थिति नियंत्रण रेखा पर है. कोरोना को मध्य नजर रखते हुए मोदी सरकार अहम बैठक करती रही. सभी राज्य सरकारों से उनके राज्य में स्थिति को नियंत्रण रखने का सुझाव देती रही. कोरोना को लेकर योगी सरकार और अधिकारी जिस तेजी से उत्तर प्रदेश का कोरोना केस नियंत्रण कर पाए है ऐसे में कोई राज्य इसको लेकर शायद ही कर पाया हो. कहीं ना कहीं इसका श्रेय योगी सरकार के जिलाधिकारियों को भी जाता है क्योंकि प्रतिदिन अधिकारियों के साथ, स्वास्थय अधिकारियों के साथ, सफाई-कर्मचारियों के साथ समीक्षा बैठक करते हुए कोरोना पर नियंत्रण रखने के लिए सख्त निर्देश देते हुए दिखाई देते है. इसी बीच एक नाम जनपद मुजफ्फरनगर जिलाधिकारी आई.ए.एस सेल्वा कुमारी को भी जाता है, क्योंकि कोरोना को लेकर जिस तरह जिलाधिकारी ने अपने जिले में कोरोना को काबू किया हुआ है उससे स्थिति पर सही एक्शन लेने का श्रेय भी जिलाधिकारी सेल्वा कुमारी को जाता है. आपको बता दें कि कोरोना पर प्रतिदिन लगातार लोगों को जागरुक करना, अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक करना होता है. दिनांक 25 नवंबर 2020 को कोरोना संक्रमण के दृष्टिगत मुज़फ्फरनगर मेडिकल कॉलेज के कोविड स्टॉफ व अधिकारियों के साथ कोविड 19 के संबंध में जिलाधिकारी सेल्वा कुमारी ने समीक्षा बैठक की. इस बात की जानकारी खुद जिलाधिकारी ने ट्वीटर हैंडल पर साझा की. नीचे दिए लिंक पर क्लिक करके आप ज्यादा जानकारी ले सकते है.

सहयोग करें

हम देशहित के मुद्दों को आप लोगों के सामने मजबूती से रखते हैं। जिसके कारण विरोधी और देश द्रोही ताकत हमें और हमारे संस्थान को आर्थिक हानी पहुँचाने में लगे रहते हैं। देश विरोधी ताकतों से लड़ने के लिए हमारे हाथ को मजबूत करें। ज्यादा से ज्यादा आर्थिक सहयोग करें।
Pay

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार