सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

कानपुर देहात जिलाधिकारी दिनेश चंद्र ने गोपाष्टमी पर कार्यक्रम कर पूरे विधि-विधान के साथ की पूजा अर्चना.

जिलाधिकारी दिनेश चंद्र के साथ राज्यमंत्री अजीत पाल सिंह, सीडीओ सौम्या पांडेय भी मौजूद रहे.

विशेषता अग्रवाल
  • Nov 22 2020 3:32PM

योगी आदित्यनाथ की प्राथमिकताओं में से जो एक सबसे महत्वपूर्ण है वो गौ रक्षा और उनका पालन-पोषण करना. ऐसे में हर साल 22 नवंबर को गोपाष्टमी पर्व मनाया जाते है जिसमें गोवंशों की सेवा कर उनका रख-रखाव, गौ माता की पूजा-अर्चना कर गुड़ का भोग लगाना आदि किया जाता है. ये विधि-विधान हिंदुओं ज्यादा मान्यता रखते है, क्योंकि भगवान श्री कृष्ण सबसे ज्यादा गौ माता को प्रेम करते थे, उनका रख-रखाव करते थे जिससे उन्हें गोपाल नाम से बुलाया जाने लगा.

गोपाष्टमी में गाय माता के बछड़े के साथ पूजा की जाती है. दूसरी ओर देखा जाए तो गाय का पौराणिक व धार्मिक रूप से भी विशेष महत्व माना जाता है. गोपाष्टमी के पर्व पर उत्तर प्रदेश के जनपद कानपुर देहात के जिलाधिकारी आई.ए.एस दिनेश चंद्र ने गोपाष्टमी पर्व के अवसर पर कार्यक्रम किया, जिसमें राज्यमंत्री अजीत पाल सिंह, सीडीओ सौम्या पांडेय भी मौजूद रहे. 

आपको बता दें कि गोपाष्टमी पर्व पुखरायां कान्हा गौशाला में किया गया. इसमें गोवंश को गुड केला आदि खिलाते हुए जिलाधिकारी दिनेश चंद्र द्वारा पूजन किया गया. इसी के साथ गायों को हरा चारा, गुड आदि सामग्री खिलाई भी खिलाई गई. तस्वीरों में आप देख सकते है कि कार्यक्रम के दौरान जिलाधिकारी दिनेश चंद्र राज्यमंत्री अजीत पाल सिंह को भेट दे रहे है, जिसमें कृष्ण-राधा की मूर्ति बनी है.

गौ माता को पूरे विधि-विधान के साथ सजाया गया है, साथ ही पूजा कर जिलाधिकारी खुद गौ माता को गुड़ और सामग्री का भोज करा रहे है. अन्य अधिकारी गण भी साथ में मौजूद है. खास बात ये कि योगी राज में आवारा पशुओं की देख-रेख और गोवंशो का आश्रय स्थल का कार्य उत्तर प्रदेश में काफी तेजी से बढ़ रहा है. इस खबर की जानकारी खुद जिलाधिकारी ने अपने ऑफिश्यिल ट्वीटर हैंडल पर दी. अधिक जानकारी के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करे.


सहयोग करें

हम देशहित के मुद्दों को आप लोगों के सामने मजबूती से रखते हैं। जिसके कारण विरोधी और देश द्रोही ताकत हमें और हमारे संस्थान को आर्थिक हानी पहुँचाने में लगे रहते हैं। देश विरोधी ताकतों से लड़ने के लिए हमारे हाथ को मजबूत करें। ज्यादा से ज्यादा आर्थिक सहयोग करें।
Pay

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

0 Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार