सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

Love Jihad के उन्मादी संक्रमण से दूषित हुआ हिंदू परिवार... दो सगी नाबालिग बहनों को लेकर गायब हुए इस्लामिक जिहादी !

पीडि़त परिवार के पड़ोस में ही रहने वाले दो युवक बहला-फुसलाकर भगा ले गए। अपहरण समेत विभिन्न धाराओं में मामला दर्ज कर पुलिस आरोपितों की तलाश कर रही है। मोबाइल काल डिटेल के आधार पर मैदानगढ़ी थाना पुलिस ने चार युवकों को हिरासत में लिया है। आरोपित युवक उत्तर प्रदेश के मेरठ जिले के रहने वाले हैं।

Prem Kashyap Mishra
  • Nov 12 2021 6:51PM

लव जिहाद के मामलों में तेजी देखने को मिल रही है। सजिश्तम हिन्दू युवतियों को प्रेम जाल में फंसाना और फिर लव जिहाद का शिकार बना लेना इस तरह के मामले रोजाना सामने आ रहे हैं। ताजा मामला दिल्ली के छतरपुर इलाके का है जहाँ हिन्दू परिवार की दो नाबालिग लड़कियों को जिनकी उम्र 11 और 13 वर्ष की है उसे दो इस्लामिक युवक युवक बहला फुसलाकर लेकर फरार हो गए हैं। पीडि़त परिवार के पड़ोस में ही रहने वाले दो युवक बहला-फुसलाकर भगा ले गए। अपहरण समेत विभिन्न धाराओं में मामला दर्ज कर पुलिस आरोपितों की तलाश कर रही है। मोबाइल काल डिटेल के आधार पर मैदानगढ़ी थाना पुलिस ने चार युवकों को हिरासत में लिया है। आरोपित युवक उत्तर प्रदेश के मेरठ जिले के रहने वाले हैं। पुलिस की दो टीमें मेरठ और अलीगढ़ भेजी गई हैं।

हालांकि, अभी तक आरोपितों एवं बच्चियों का पता नहीं चला है। मूलरूप से बिहार निवासी पीडि़त परिवार राजपुर गांव में रहता है। पास में ही एक प्लाट में रजाई-गद्दा बनाने की दुकान है जहां समुदाय-विशेष के 15-20 युवक काम करते हैं। इन्हीं में से दो युवकों ने पीडि़त व्यक्ति की नाबालिग बेटियों से पहले दोस्ती गांठी, फिर उनसे मोबाइल पर बात करने लगे। पीडि़त पिता ने बताया कि उनकी दोनों बेटियां छतरपुर के राजकीय कन्या विद्यालय में सातवीं कक्षा में पढ़ती हैं।

हालांकि, पिछले दो वर्ष से कोरोना के कारण वे स्कूल नहीं जाकर आनलाइन पढ़ाई कर रही हैं। इस कारण अक्सर उनके पास मोबाइल रहता है। दो नवंबर की सुबह करीब सवा छह बजे दोनों घर से मार्निग वाक के बहाने निकली थीं, लेकिन दोपहर तक वापस नहीं लौटीं। इस पर उनकी तलाश शुरू की गई।

हालांकि, पुलिस का कहना है कि नदीम ने पूछताछ में बताया कि एक बार तकिया बेचने के लिए वह पीडि़त के घर की ओर गया था। उसी दौरान उसने पीडि़त की बेटियों का मोबाइल नंबर लिया था, लेकिन उन्हें भगाने में उसकी कोई भूमिका नहीं है। पीडि़त परिवार ने बताया कि इन युवकों में से किसी एक का बहनोई भी आरोपितों की मदद कर रहा है।

सहयोग करें

हम देशहित के मुद्दों को आप लोगों के सामने मजबूती से रखते हैं। जिसके कारण विरोधी और देश द्रोही ताकत हमें और हमारे संस्थान को आर्थिक हानी पहुँचाने में लगे रहते हैं। देश विरोधी ताकतों से लड़ने के लिए हमारे हाथ को मजबूत करें। ज्यादा से ज्यादा आर्थिक सहयोग करें।
Pay

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार