सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

टिकटॉकर फ़ैसल सिद्दीक़ी पर एसिड अटैक को बढ़ावा देने का आरोप

वीडियो शेयरिंग ऐप टिकटॉक पर डाले गए एक वीडियो में महिलाओं के ख़िलाफ़ एसिड अटैक को बढ़ावा देने का आरोप लगाया गया है.

Abhishek Lohia
  • May 18 2020 3:36PM

वीडियो शेयरिंग ऐप टिकटॉक पर डाले गए एक वीडियो में महिलाओं के ख़िलाफ़ एसिड अटैक को बढ़ावा देने का आरोप लगाया गया है. ये वीडियो टिकटॉक यूज़र फ़ैसल सिद्दीक़ी ने बनाया है, जिसकी सोशल मीडिया पर काफ़ी आलोचना हो रही है. मुंबई के रहने वाले फ़ैसल सिद्दीक़ी के टिकटॉक अकाउंट पर 1.34 करोड़ फ़ॉलोवर हैं और वे काफ़ी लोकप्रिय हैं. वो टीम नवाब से भी जुड़े हुए हैं जो टिकटॉक पर वीडियो डालने वालों का एक ग्रुप है. वह नियमित तौर पर टिकटॉक पर वीडियो डालते रहते हैं. जो वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है उसमें फ़ैसल सिद्दीक़ी एक लड़की से बोल रहे हैं, “उसने तुम्हें छोड़ दिया, जिसके लिए तुमने मुझे छोड़ा था. इसके बाद वो लड़की के ऊपर कुछ फेंकते हैं जिससे लड़की के चेहरे पर काले और लाल रंग की छाप बन जाती है.”

इस वीडियो पर राष्ट्रीय महिला आयोग ने संज्ञान लेते हुए महाराष्ट्र के डीजीपी को एक पत्र लिखा है जिसमें आईटी एक्ट के तहत कार्रवाई करने का अनुरोध किया गया है. इस पत्र में लिखा है, “राष्ट्रीय महिला आयोग को एक ट्विटर पोस्ट का पता चला है. इसमें फ़ैसल सिद्दीक़ी का एक वीडियो जुड़ा हुआ है. ये वीडियो लड़कियों और महिलाओं के ख़िलाफ़ एसिड अटैक को बढ़ावा देता दिख रहा है.” “एनसीडब्ल्यू सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर युवा फ़ॉलोवर्स के सामने एसिड अटैक जैसे गंभीर अपराध को बढ़ावा देने वाले वीडियो की निंदा करती है. आयोग महिलाओं की सुरक्षा को लेकर चिंतित है और महिलाओं के ख़िलाफ़ अपराध को भड़काने के लिए साइबर स्पेस के इस्तेमाल को लेकर परेशान है. इस मामले की गंभीरता को देखते हुए आईटी एक्ट, 2000 के तहत तुरंत कार्रवाई करने का अनुरोध किया जाता है.”

इसके अलावा राष्ट्रीय महिला आयोग ने टिकटॉक को भी एक पत्र लिखा है. इस पत्र में वीडियो को टिकटॉक से हटाने और यूज़र की आईडी ब्लॉक करने का अनुरोध किया गया है. इस पूरे मामले पर हमने फ़ैसल सिद्दीक़ी से भी बात करने की कोशिश की. उन्हें इंस्टाग्राम और ई-मेल के ज़रिए इस संबंध में सवाल पूछे लेकिन ख़बर लिखे जाने तक उनकी तरफ़ से कोई जवाब नहीं आया था. फ़ैसल सिद्दीक़ी ने अपने टिकटॉक अकाउंट से भी इस वीडियो को हटा दिया है. हालांकि, यूट्यूब और ट्विटर पर वीडियो का कुछ हिस्सा शेयर हो रहा है.

ट्विटर पर हुआ वायरल

बीजेपी नेता तजिंदर सिंह बग्गा ने अपने ट्विटर अकाउंट से राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा से ये वीडियो देखने का अनुरोध किया था. तजिंदर सिंह बग्गा ने इसके साथ ही एक ट्वीट शेयर किया है जिसमें फ़ैसल सिद्दीक़ी के टिकटॉक वीडियो की क्लिप है. इसके जवाब में रेखा शर्मा ने ट्वीट किया है, “मैं आज इसे देखती हूं और पुलिस व टिकटॉक के समक्ष रखती हूं.” इस वीडियो को लेकर सोशल मीडिया पर चर्चा शुरू हो गई है. लोग एसिड अटैक को प्रचारित करने की आलोचना करने लगे.

पुलिस में शिकायत

इस बीच मुंबई के एक एडवोकेट आशुतोष जे दूबे ने अपने ट्विटर अकाउंट पर जानकारी दी कि उन्होंने फ़ैसल सिद्दीक़ी के ख़िलाफ़ मुंबई पुलिस में शिकायत दर्ज की है. उन्होंने लिखा है, “टिकटॉक पर आपत्तिजनक वीडियो डाला गया. ये वीडियो संदेश देता है कि अगर कोई लड़की तुम्हारे प्रस्ताव को स्वीकार करने से इनकार कर दे तो उस पर एसिड फेंक दो.”

इस वीडियो को लेकर और भी सोशल मीडिया यूजर्स भड़क उठे. एक यूज़र प्रवीन मानेक ने लिखा, “मतलब लड़की मानी नहीं तो एसिड फेंक दो. ये आमिर सिद्दीक़ी का भाई है. वह लड़कियों पर एसिड अटैक को बढ़ावा दे रहा है.”

Pravin_manek@Pravinmanek10

Mathlb ldki manti nahi to acid fek do
Right #FaizalSiddiqui ???
He is brother of #AmirSiddiqui

Is he promoting Acid attack on girls??

एम्बेडेड वीडियो

बैन करने की माँग

टिकटॉकइमेज कॉपीरइटGETTY IMAGES

इस बीच कुछ लोग टिकटॉक बैन करने की भी माँग करने लगे और बैन टिकटॉक हैशटैग ट्रैंड करने लगा. एक यूज़र हेमिर देसाई ने लिखा है, “टिकटॉक पर प्रतिबंध लगाने का ये सबसे ज़रूरी समय है. कभी-कभी मुझे लगता है कि सरकार इतनी असहाय क्यों है. उन्हें कार्रवाई करने से कौन-सी बात रोकती है.”

छोड़िए ट्विटर पोस्ट @hemirdesai

Hemir Desai@hemirdesai

@TajinderBagga @sharmarekha को जवाब दिया जा रहा है

It's High time now Govt should Ban this @TikTok_IN. Sometimes I feel why govt is so helpless. What's stopping them to take action. Why can't we make our own INDIAN AAP of Twitter, TIKTOK n others. Why govt makes us feel we are not capable @TajinderBagga

पोस्ट ट्विटर समाप्त @hemirdesai

प्रशांत मोहपात्रा ने ट्वीट किया है, “ये लोग क्यों हमेशा हिंसा को बढ़ावा देते हैं. #BanTiktok यही एकमात्र समाधान है.”

छोड़िए ट्विटर पोस्ट @Kaamdar_prasant

Prasant Mohapatra🇮🇳@Kaamdar_prasant

@TajinderBagga @sharmarekha को जवाब दिया जा रहा है

Why these people always encourage violence ! #BanTiktok that the only solution

पोस्ट ट्विटर समाप्त @Kaamdar_prasant

फ़ैसल सिद्दीक़ी से पहले उनके भाई आमिर सिद्दीक़ी भी चर्चा में रह चुके हैं. यूट्यूब बनाम टिकटॉक यूज़र की लड़ाई में वो कुछ समय पहले ट्विटर पर ट्रेंड कर रहे थे.

यूट्यूब यूज़र का मज़ाक़ बनाने वाले उनके एक वीडियो के जवाब में #carryminati नाम के एक यूट्यबूर ने एक वीडिया बनाया था. इस वीडियो में उन्होंने आमिर सिद्दीक़ी की बातों का मज़ाक़ बनाया था. ये पूरा झगड़ा भी ट्विटर पर ट्रेंड हो रहा था.

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

कोरोना के कारण पीड़ित गरीब लोगो के लिए आर्थिक सहयोग

Donation
0 Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार