सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

Agra में प्रधानमंत्री छात्रवृति योजना से पढ़ रहे युसूफ, शौकत और इनायत की देशविरोधी 'नियत', पाकिस्तान की जीत पर मनाया जश्न

मंगलवार को मामला सोशल मीडिया पर आने के बाद भारतीय जनता युवा मोर्चा के पदाधिकारी कॉलेज पहुंचे और उन्होंने छात्रों के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर हंगामा किया और नारेबाजी की.

Kartikey Hastinapuri
  • Oct 27 2021 10:48AM

बीते दिनों हुए महज़ एक भारत पाकिस्तान मैच से जितने 'राष्ट्रविरोधी' लोग सामने आए है, उतना तो कोई सुरक्षा एजेंसी कई सालो में नहीं ढूँढ पाती। पकिस्तान की जीत पर देश में कई स्थानों पर अलग-अलग 'देशद्रोहियो' ने भारत की हार का जश्न मनाया, तो उनकी जिहादी मानसिकता का पता भी चला। श्रीनगर के एक मेडिकल कॉलेज में छात्रों ने जश्न में पटाखे फोड़े, तो दिल्ली के सीमापुरी में भी पाकिस्तान की जीत से 'गद गद' हुए 'गद्दारो' की तस्वीरें सामने आई। 

अब उत्तर प्रदेश के आगरा से भी पाकिस्तान की जीत पर जश्न मनाने की बात सामने आई है। दरअसल, जानकारी के मुताबिक रविवार को विश्व कप के टी-20 मैच में भारत और पाकिस्तान के बीच मैच हुआ और आरबीएस इंजीनियरिंग कॉलेज टेक्निकल कैंपस हॉस्टल के डीन डॉ दुष्यंत सिंह के मुताबिक कॉलेज में पढ़ने वाले कश्मीर के तीन छात्रों ने भारत की हार और पाकिस्तानी क्रिकेट टीम की जीत पर जश्न मनाया. इसके बाद छात्रों ने वाट्सएप पर स्टेटस डालकर उन्होंने पाकिस्तान का समर्थन करते हुए राष्ट्रविरोधी नारे लगाए. इस मामले के सामने आते ही कॉलेज प्रबंधन ने तीनों छात्रों को निलंबित कर दिया है। 

पाकिस्तान के समर्थन में डाला था वाट्सएप स्टेटस

भारत -पाकिस्तान के बीच 24 अक्टूबर को टी-20 क्रिकेट मैच हुआ था। इसमें पाकिस्तान की जीत के बाद आरबीएस इंजीनियरिंग टैक्निकल कैंपस, बिचपुरी में कुछ कश्मीरी छात्रों ने देश विरोधी गतिविधि की।

आरोप है कि सिविल इंजीनियरिंग तृतीय वर्ष के छात्र अरशद यूसुफ, इनायत अल्ताफ शेख और चतुर्थ वर्ष के छात्र शौकत अहमद गनी ने कैंपस में देश विरोधी नारेबाजी की। उन्होंने पाकिस्तान के समर्थन में अपना व्हाट्सएप स्टेटस लगा लिया। इसमें मैच के कुछ वीडियो भी थे। कॉलेज के किसी छात्र ने व्हाट्सएप पर आपत्ति जाहिर की। इस पर आरोपी छात्रों ने देश विरोधी भाषा में जवाब दिया। 

छात्रों के खिलाफ दी तहरीर

क्षेत्राधिकारी लोहामंडी सौरभ सिंह ने कार्रवाई का आश्वासन देकर सभी को शांत कराया। गौरव राजावत ने थाना जगदीशपुरा में तीनों कश्मीरी छात्रों के खिलाफ तहरीर दी।  सीओ लोहामंडी ने बताया कि तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज किया जा रहा है। आरोपियों के विधिक कार्रवाई की जाएगी। उन पर आरोप है कि पाकिस्तान का समर्थन करते हुए व्हाट्सएप पर स्टेटस डाला। देश विरोधी नारेबाजी की। मामले में तीनों छात्रों को पहले ही निलंबित किया जा चुका है 

प्रधानमंत्री विशेष छात्रवृत्ति योजना में पढ़ने आए हैं

टी-20 मैच में पाकिस्तान की जीत के बाद देश विरोधी नारेबाजी करने वाले छात्र प्रधानमंत्री विशेष छात्रवृत्ति (पीएमएसएस) योजना के तहत पढ़ने आए हैं। आरबीएस इंजीनियरिंग टेक्निकल कैंपस में पीएमएसएस के तहत 11 छात्र कश्मीर आए हैं। इन्हें केंद्र सरकार की ओर से भेजा गया है।

ये द्वितीय वर्ष से अंतिम वर्ष के पाठ्यक्रम में पंजीकृत हैं। आरोपी तीनों कश्मीरी छात्रों की रिपोर्ट संस्थान प्रशासन ने आल इंडिया काउंसिल फॉर टेक्निकल एजूकेशन (एआईसीटीई) को भेज दी है। संस्थान के निदेशक डॉ. बीएस कुशवाह ने बताया कि मामला संज्ञान में आने पर प्रॉक्टोरियल बोर्ड के माध्यम से जांच कराई गई। प्रथमदृष्टया दोषी पाए गए तीनों छात्रों को निलंबित कर दिया गया। सोमवार को संस्थान के कर्मचारी की मृत्यु होने से शोकसभा के बाद अवकाश कर दिया गया था।

इसके बाद भी मामले की गंभीरता को देखते हुए प्रॉक्टोरियल बोर्ड से मामले की जांच कराई गई थी। इसी दिन छात्रों को निलंबित कर दिया गया। तीनों छात्र मंगलवार को संस्थान में पढ़ाई के लिए भी नहीं पहुंचे। ये छात्र केंद्र सरकार की योजना के तहत यहां पढ़ने आए हैं, इसलिए एआईसीटीई को प्रकरण से अवगत करा दिया गया है।

सहयोग करें

हम देशहित के मुद्दों को आप लोगों के सामने मजबूती से रखते हैं। जिसके कारण विरोधी और देश द्रोही ताकत हमें और हमारे संस्थान को आर्थिक हानी पहुँचाने में लगे रहते हैं। देश विरोधी ताकतों से लड़ने के लिए हमारे हाथ को मजबूत करें। ज्यादा से ज्यादा आर्थिक सहयोग करें।
Pay

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार