सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

श्रीलंका में इस्तीफा दे चुके पीएम राजपक्षे के घर में लगाई गई आग

भारत के पड़ोसी देश श्रीलंका में आर्थिक संकट के चलते हालात लगातार बिगड़ते जा रहे हैं. प्रधानमंत्री महिंदा राजपक्षे के इस्तीफे के बाद लगातार हिंसा भड़क रही है. प्रदर्शनकारी आगजनी और तोड़फोड़ पर उतर आए हैं.

Sudarshan News
  • May 10 2022 12:09AM

Sri Lanka Crisis: भारत के पड़ोसी देश श्रीलंका में आर्थिक संकट के चलते हालात लगातार बिगड़ते जा रहे हैं. प्रधानमंत्री महिंदा राजपक्षे के इस्तीफे के बाद लगातार हिंसा भड़क रही है. प्रदर्शनकारी आगजनी और तोड़फोड़ पर उतर आए हैं. अब प्रदर्शनकारियों ने महिंदा राजपक्षे के घर को भी आग के हवाले कर दिया है. साथ ही राजपक्षे के समर्थकों के खिलाफ हिंसा की घटनाएं लगातार जारी हैं. श्रीलंका में क्या कुछ चल रहा है, जानें 10 बड़ी बातें - 

  1. श्रीलंका के हंबनटोटा में महिंदा राजपक्षे के पैतृक घर में प्रदर्शनकारियों ने आग लगा दी. इस घटना के वीडियो लगातार सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं. इसके अलावा कुछ मंत्रियों के घरों में भी तोड़फोड़ और आगजनी की गई है. 
  2. इससे पहले श्रीलंका में भड़की हिंसा के बाद प्रधानमंत्री राजपक्षे ने अपना इस्तीफा दे दिया. इस हिंसा में श्रीलंका के एक सांसद समेत पांच लोगों की मौत हो गई और करीब 150 से ज्यादा लोग घायल हो गए. 
  3. श्रीलंका में आर्थिक हालात बिगड़ने को लेकर पिछले कई हफ्तों से विरोध प्रदर्शन चल रहे थे, लेकिन जब सरकार के पास आयात के लिए भी फंड खत्म हो गया तो लोग सड़कों पर उतर आए और हिंसा फैलने लगी. लोगों का गुस्सा पीएम राजपक्षे और उनके समर्थक नेताओं पर उतर रहा है. 
  4. श्रीलंका के तमाम शहरों में पूरी तरह से कर्फ्यू लगा दिया गया है. पुलिस हिंसा को रोकने के लिए प्रदर्शनकारियों के खिलाफ आंसू गैस और बल का प्रयोग कर रही है. लेकिन फिलहाल हालात काबू से बाहर नजर आ रहे हैं और प्रदर्शन करने वालों की संख्या में इजाफा हो रहा है. 
  5. श्रीलंका के घटनाक्रम पर भारत करीब से नजर बनाए हुए है. इस बीच कोलंबो में भारतीय उच्चयोग ने संकट की स्थिति में भारतीयों की मदद के लिए आपात मोबाइल नंबर  +94-773727832 जारी किया है. साथ ही श्रीलंका में मौजूद भारतीय नागरिकों को सलाह दी गई है कि किसी भी सहायता आवश्यकता के लिए वो [email protected] और [email protected] पर संपर्क कर सकते हैं. 
  6. साल 1948 में ब्रिटेन से आजादी मिलने के बाद श्रीलंका अब तक के सबसे गंभीर आर्थिक संकट के दौर से गुजर रहा है. यह संकट मुख्य रूप से विदेशी मुद्रा की कमी के कारण पैदा हुआ जिसका मतलब है कि देश मुख्य खाद्य पदार्थों और ईंधन के आयात के लिए भुगतान नहीं कर पा रहा है. 
  7. श्रीलंकाई सांसद की मौत को लेकर पुलिस ने बताया कि पोलोन्नारुआ जिले से श्रीलंका पोदुजना पेरामुना (एसएलपीपी) के सांसद अमरकीर्ति अतुकोराला (57) को सरकार विरोधी समूह ने पश्चिमी शहर नित्तम्बुआ में घेर लिया था. सांसद की कार से गोली चली थी और जब आक्रोशित भीड़ ने उन्हें कार से उतारा तो उन्होंने भागकर एक इमारत में शरण ली.
  8. पुलिस ने बताया है कि, आक्रोशित भीड़ ने पूर्व मंत्री जॉनसन फर्नांडो के कुरुनेगाला और कोलंबों स्थित कार्यालयों पर हमला किया है. उनके बार में भी आग लगाये जाने की खबर है. पूर्व मंत्री नीमल लांजा के आवास पर भी हमला किया गया है जबकि महापौर समन लाल फर्नांडो के आवास में आग लगा दी गई.
  9. इससे पहले राष्ट्रपति गोटबाया ने लोगों से अपील करते हुए कहा, ‘‘मैं आम जनता से संयम बरतने और यह याद रखने की अपील करता हूं कि हिंसा से केवल हिंसा फैलेगी. आर्थिक संकट में हमें आर्थिक समाधान की जरूरत है जिसे यह प्रशासन हल करने के लिए प्रतिबद्ध है.’’
  10. इस बीच हिंसा की स्थिति को देखते हुए श्रीलंकाई एयरलाइंस ने यात्रियों से अनुरोध किया है कि वे भंडारनाइके अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डा (बीआईए) पहुंचने के लिये जांच चौकियों पर अपनी हवाई टिकट और पासपोर्ट दिखाएं. 

सहयोग करें

हम देशहित के मुद्दों को आप लोगों के सामने मजबूती से रखते हैं। जिसके कारण विरोधी और देश द्रोही ताकत हमें और हमारे संस्थान को आर्थिक हानी पहुँचाने में लगे रहते हैं। देश विरोधी ताकतों से लड़ने के लिए हमारे हाथ को मजबूत करें। ज्यादा से ज्यादा आर्थिक सहयोग करें।
Pay

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार