सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

मोदी सरकार के नए कदम के बाद,लघु और सूक्ष्म उद्योगों को मिलेगा बढ़ावा।

सुदर्शन न्यूज़ की स्वदेशी मुहिम को सरकार का साथ मिला है। अब देश का धन देश मे रहेगा और उसके छोटे व्यापारियों को बढ़ावा मिलेगा

Anchal Yadav
  • May 13 2020 5:12PM

वर्षों से सुदर्शन न्यूज़ स्वदेशी प्रोडक्ट्स को अपनाने को लेकर मुहिम चला रहा था इस मुहिम को बढ़ावा दिया देश के  प्रधानमंत्री जी ने। खुद  स्वदेशी इस्तेमाल करने का और स्वदेशी प्रोडक्ट बनाने का आह्वान किया है सुदर्शन न्यूज़ हर त्यौहार पर स्वदेश प्रेम को बढ़ावा देता आया है वह भारत की जनता से अपील करता है आया है की होली हो दिवाली हो या राखी का त्यौहार हो अन्य कोई त्यौहार हो सुदर्शन न्यूज़ अपनी खबरों के माध्यम से लोगों को जागरूक कर उन्हें स्वदेशी प्रोडक्ट अपनाने की अपील करता रहा है। अब जबकि पूरा देश लॉकडाउन जैसी महामारी के चलते आर्थिक मंदी से जूझ रहा है ऐसे में सुदर्शन न्यूज़ की मुहिम रामबाण साबित होगी। क्योंकि देश के छोटे छोटे व्यापारी, गांव स्तर के लोग भी अपना सामान बनाकर देश में बेचेंगे तो उनके पास देश के लोगों का पैसा आएगा। और देश का धन देश में रहेगा। गरीब तबके के व्यापारियों को एक नई पहचान मिलेगी। अब तक विदेशों से जो सामान मंगाकर शॉपिंग मॉल्स में सजता था। आज स्वदेश के बने प्रोडक्ट जब शॉपिंग मॉल  में सजेंगे तो वो विश्वसनीय रहेंगे। अगर किसी सामान में कोई बदलाव चाहिए होगा तो उसके लिए आपको विदेशों में संपर्क करने की जरूरत नही पड़ेगी एक लंबा इन्तजार नही करना पड़ेगा। क्योंकि जब सामान भारत का होगा तो उसमें शिकायत भी तुरंत कर सकेंगे। अपनी डिमांड पर पसंद के सामान भी बनवा सकेंगे। छोटे-छोटे लघु उद्योगों को बढ़ावा मिलेगा। लघु उद्योगों में 10 करोड़ तक निवेश करेगी सरकार। सूक्ष्म उद्योगों में 1 करोड़ तक निवेश करेगी सरकार।जिससे छोटे कारोबारियों को सरकारी बड़ी मदद मिलेगी। 
गांवों की अगर बात करें तो अकसर परदों में रहने वाली महिलाएं भी तमाम तरह की कलाओं की धनी होती है जैसे कढ़ाई, बुनाई,बेस्ट मटीरियल से घरेलू साज सज्जा के समान बनाना आदि। बस जरूरत होती है उनके सपनों को एक उड़ान की, एक मौके की और ये उड़ान देने का काम आप और हम देंगे सुदर्शन की मुहिम देगी।

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

कोरोना के कारण पीड़ित गरीब लोगो के लिए आर्थिक सहयोग

Donation
0 Comments

संबंधि‍त ख़बरें