सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

NDTV प्रमोटरों पर Insider ट्रेडिंग का आरोप, 2 साल तक शेयर बाजार में कारोबार की अनुमति नहीं

SEBI ने दोनों प्रवर्तकों को 12 साल पहले की भेदिया कारोबार गतिविधियों से अवैध तरीके से कमाए गए 16.97 करोड़ रुपये लौटाने को भी कहा है.

Abhishek Lohia
  • Nov 28 2020 11:00PM
SEBI ने NDTV के प्रवर्तकों प्रणय रॉय और राधिका रॉय पर अगले 2 साल के लिए शेयर बाजार में कारोबार की रोक लगा दी है. यह कार्रवाई भेदिया कारोबार यानी कि इनसाइडर ट्रेडिंग में शामिल होने के चलते की गई है. इसके साथ ही SEBI ने दोनों प्रवर्तकों को 12 साल पहले की भेदिया कारोबार गतिविधियों से अवैध तरीके से कमाए गए 16.97 करोड़ रुपये लौटाने को भी कहा है.

7 और पर शिकंजा कसा SEBI ने

नियामक ने इनके अलावा 1 से 2 साल के लिए 7 अन्य व्यक्तियों और निकायों पर भी पाबंदी लगा दी है. इनमें से कुछ को अप्रकाशित मूल्य संवेदनशील सूचनाओं के जरिये शेयरों में कारोबार के जरिये की गई अवैध कमाई को वापिस लौटाने को कहा गया है.

इनमें Quantum सिक्योरिटीज सहित 3 अन्य पर भी 2 साल की पाबंदी लगाई. सेबी का आरोप है कि क्वांटम सिक्योरिटीज सहित 3 अन्य ने इनसाइडर ट्रेडिंग कर 2.2 करोड़ रुपए का अवैध फायदा कमाया. अवैध फायदे पर अप्रैल 2008 से 6% ब्याज भरने का आदेश दिया है.

Vikramaditya Chandra पर पाबंदी


वहीं विक्रमादित्य चंद्रा, 2 अन्य लोगों पर Sebi ने 1 साल की पाबंदी लगाई है. विक्रमादित्य चंद्रा को 6.67 लाख का अवैध फायदा भी जमा कराने का आदेश दिया है. साथ ही 17 अप्रैल 2008 से 6% की दर से ब्याज भी भरने का आदेश हुआ है.

SEBI ने सितंबर, 2006 से जून, 2008 के दौरान कंपनी के शेयरों में कारोबार की जांच करने के बाद यह कदम उठाया है. सेबी ने पाया कि उस दौरान भेदिया कारोबार से संबंधित कई प्रावधानों का उल्लंघन किया गया है.

क्‍या है पूरा मामला

मार्केट रेगुलेटर अधिकृत संस्था सेबी ने प्रनॉय रॉय और राधिका रॉय पर 2 साल की पाबंदी लगाई है. इसका मतलब अगले 2 साल तक ये लोग किसी भी तरह से शेयर बाज़ार में कामकाज नहीं कर सकेंगे। इन दोनों पर अप्रैल 2008 में NDTV के शेयरों में इनसाइडर ट्रेडिंग का आरोप लगाया है, इसके अलावा 16.97 करोड़ रु के अवैध लाभ का आरोप भी SEBI ने लगाया है.
SEBI ने इस दौरान कमाए गए अवैध लाभ को 6% ब्याज सहित 45 दिन में जमा कराने का आदेश भी दिया है. और यह भी कहा है कि 17 अप्रैल 2008 से जमा कराने की तारीख तक के अवैध लाभ पर 6%/सालाना की दर से ब्याज भी देना होगा.

सेबी ने कहा कि संबंधित व्यक्ति और निकाय अकेले या आपस में मिलकर रकम का पेमेंट कर सकते हैं. उन्हें 17 अप्रैल, 2008 से पेमेंट की तारीख तक 6 प्रतिशत ब्याज के साथ यह रकम अदा करनी होगी.

सेबी ने आर्डर में क्या कहा !

सेबी ने शुक्रवार को जारी तीन अलग आदेशों में कहा कि इन सभी निकायों ने भेदिया कारोबार रोक नियमनों का उल्लंघन किया है. सेबी ने पाया कि नई दिल्ली टेलीविजन लिमिटेड (NDTV) में प्राइस को लेकर संवेदनशील जानकारियां रखने योग्य पदों पर रहते हुए प्रणय रॉय और राधिका रॉय ने भेदिया कारोबार में संलिप्त होकर अवैध तरीके से 16.97 करोड़ रुपये से अधिक की कमाई की. प्रणय रॉय तब कंपनी के चेयरमैन और पूर्णकालिक निदेशक और राधिका रॉय उक्त अवधि के दौरान कंपनी की प्रबंध निदेशक थीं.

क्या होती है इनसाइडर ट्रेडिंग ?

ग़ैरकानूनी तरीके से शेयर खरीदकर या बेचकर लाभ कमाना इनसाइडर ट्रेडिंग कहलाता है। ऐसा अक्सर किसी कंपनी के मैनेजमेंट से जुड़ा हुआ कोई व्यक्ति कंपनी की अंदरूनी जानकारी के आधार पर करता है इसलिए ही यह इनसाइडर ट्रेडिंग की श्रेणी में आता है।

उदाहरणस्वरूप अगर किसी कंपनी का किसी दूसरी कंपनी में मर्जर होने वाला है या शेयर गिरवी रखकर पैसा जुटाने के बारे में सोच रहा हो और ऐसे में प्रमोटर या कम्पनी से जुड़े लोगों को लगता है कि इस डील से कंपनी को फायदा होगा और शेयर के दाम इस वजह से बढ़ जाएंगे तो वो डील के अनाउंस होने से पहले ही अपने करीबियों के नाम पर शेयर खरीदता है। डील के अनाउंस होते ही शेयर के दाम बढ़ते हैं और वो शेयर बेचकर भारी मुनाफा कमा लेता है। ये ट्रेडिंग ही इनसाइडर ट्रेडिंग है। प्रमोटर द्वारा शेयर खरीदना गलत नहीं है अगर वो शेयर की खरीद सेबी (भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड) के नियमों के अनुसार करें और स्टोक एक्सचेंजों को डिस्क्लोजर दें।

सहयोग करें

हम देशहित के मुद्दों को आप लोगों के सामने मजबूती से रखते हैं। जिसके कारण विरोधी और देश द्रोही ताकत हमें और हमारे संस्थान को आर्थिक हानी पहुँचाने में लगे रहते हैं। देश विरोधी ताकतों से लड़ने के लिए हमारे हाथ को मजबूत करें। ज्यादा से ज्यादा आर्थिक सहयोग करें।
Pay

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

Comments

संबंधि‍त ख़बरें