सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

कांग्रेस शासित पंजाब में किसी बड़े नरसंहार की थी तैयारी ? 45 विदेशी पिस्टल के साथ खालिस्तानी आतंकी गिरफ्तार

. गिरफ्तार खालिस्तानी आतंकी कथित तौर पर पाकिस्तान-आधारित आतंकवादी संगठनों और अमेरिका, कनाडा और यूके आधारित भारत विरोधी खालिस्तानी तत्वों के साथ जुड़े हुआ था.

Abhay Pratap
  • Jun 12 2021 1:27PM

क्या पंजाब में किसी बड़ी साजिश या नरसंहार को अंजाम दिए जाने की तैयारी चल रही थी? क्या खालिस्तानी आतंकी पंजाब में कुछ बड़ा करने की फिराक में थे ? ये सवाल इसलिए खड़े हो रहे हैं क्योंकि पंजाब पुलिस ने 45 विदेशी पिस्टल्स के साथ एक खालिस्तानी आतंकी को गिरफ्तार किया है. ये सवाल इसलिए भी खड़े हो रहे हैं क्योंकि पहले किसान आंदोलन की आड़ में खालिस्तानी गतिविधियां सामने आई, उसके बाद ऑपरेशन ब्लू स्टार की 37वीं बरसी पर पंजाब में सिर्फ खालिस्तानी झंडे लहराए गए थे बल्कि खालिस्तान के समर्थन में नारेबाजी की गई थी.

इसी बीच पंजाब से 45 विदेशी पिस्टल के साथ खालिस्तानी आतंकी का गिरफ्तार किया जाना तमाम सवालों को जन्म दे रहा है. खबर के मुताबिक़, जगजीत सिंह उर्फ जग्गू नामक खालिस्तानी आतंकी को पंजाब इंटरनल सिक्योरिटी विंग एस.एस.ओ.सी. अमृतसर की टीम ने अमृतसर के कथूनंगल के पास से गिरफ्तार किया है. गिरफ्तार खालिस्तानी आतंकी कथित तौर पर पाकिस्तान-आधारित आतंकवादी संगठनों और अमेरिका, कनाडा और यूके आधारित भारत विरोधी खालिस्तानी तत्वों के साथ जुड़े हुआ था.

इस बारे में पंजाब के डीजीपी दिनकर गुप्ता ने बताया कि यह हथियार भारत के विभिन्न हिस्सों में आतंकवादी गतिविधियों को अंजाम देने के लिए इस्तेमाल किए जाने थे. एक इंटेलीजेंस ऑपरेशन में एसएसओसी अमृतसर ने अमृतसर-बटाला रोड पर पुलिस नाका लगाकर एक आई-20 कार का पीछा करते हुए उसे रोका. पुलिस टीम ने कार में से दो नाइलॉन बैग बरामद किए जिनमें अलग-अलग देशों और बोर वाली 48 विदेशी पिस्टल समेत मैगजीन और कारतूस थे. इसमें 19 पिस्टल 9 एम.एम. (जिग़ाना-तुर्की में बने) समेत 37 मैगजीन और 45 कारतूस, 9 पिस्टल .30 बोर (चीन में बने) समेत 22 मैगजीन, 19 पिस्टल .30 बोर (स्टार मार्क) समेत 38 मैगजीन और 148 कारतूस और 1 पिस्टल 9 एम.एम. (बरेटा-इटालियन) समेत 2 मैगजीन शामिल थीं.

इस बारे में डीजीपी पंजाब ने बताया कि प्राथमिक पड़ताल से पता लगा है कि जगजीत को एक पुराने गैंगस्टर अपराधी दरमनजोत सिंह उर्फ दरमनजोत काहलों ने हथियारों की यह खेप एकत्र करने के लिए निर्देश दिया था. दरमनजोत, जोकि अब यू.एस.ए. में रह रहा है, जगजीत सिंह के संपर्क में था. जिक्र योग्य है कि दुबई में 2017 से दिसंबर 2020 के दौरान जगजीत दरमनजोत काहलों के संपर्क में था, जिसने उसको अपने इस काम के लिए प्रेरित किया था. उन्होंने कहा कि गिरफ्तार अभियुक्त से पूंछताछ की जा रही है.

सहयोग करें

हम देशहित के मुद्दों को आप लोगों के सामने मजबूती से रखते हैं। जिसके कारण विरोधी और देश द्रोही ताकत हमें और हमारे संस्थान को आर्थिक हानी पहुँचाने में लगे रहते हैं। देश विरोधी ताकतों से लड़ने के लिए हमारे हाथ को मजबूत करें। ज्यादा से ज्यादा आर्थिक सहयोग करें।
Pay

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार