सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

आज 4 बजे वित्त मंत्री की दूसरी प्रेस कॉन्फ्रेंस, किसानों, गरीबों के लिए कर सकती हैं बड़े एलान

कल उन्होंने जो एलान किए वो करीब 6 लाख करोड़ रुपये की कुल कीमत के थे और रिपोर्ट्स के मुताबिक आरबीआई और सरकार के पहले के किए गए एलानों को मिला दें तो करीब 7 लाख करोड़ रुपये के कदम उठाए जा चुके हैं. इस तरह देखा जाए तो अब तक करीब 13 लाख करोड़ रुपये के एलान किए जा चुके हैं. अब मध्यम वर्ग और किसानों, गरीबों के हिस्से में क्या आएगा इसको लेकर आज दूसरे दिन वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण प्रेस कॉन्फ्रेंस करने वाली हैं.

Abhishek Lohia
  • May 14 2020 2:51PM

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण आज शाम 4 बजे फिर प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 20 लाख करोड़ रुपये के आर्थिक पैकेज के एलान के तहत कल उन्होंने पहली प्रेस कॉन्फ्रेंस की थी जिसमें खास तौर पर एमएसएमई के लिए कुल 6 एलान किए गए थे. इसके अलावा एंप्लाई प्रोविडेंट फंड के योगदान को लेकर एलान किए गए और डिस्कॉम को लेकर भी राहत देने वाली घोषणाएं की गईं.

कल उन्होंने जो एलान किए वो करीब 6 लाख करोड़ रुपये की कुल कीमत के थे और रिपोर्ट्स के मुताबिक आरबीआई और सरकार के पहले के किए गए एलानों को मिला दें तो करीब 7 लाख करोड़ रुपये के कदम उठाए जा चुके हैं. इस तरह देखा जाए तो अब तक करीब 13 लाख करोड़ रुपये के एलान किए जा चुके हैं. अब मध्यम वर्ग और किसानों, गरीबों के हिस्से में क्या आएगा इसको लेकर आज दूसरे दिन वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण प्रेस कॉन्फ्रेंस करने वाली हैं.

कल हुए ये प्रमुख एलान
बुधवार को की गई प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया गया है कि आयकर रिटर्न और अन्य रिटर्न दोनों के लिये अंतिम तिथि 30 नवंबर 2020 तक बढ़ाई गई है. वित्त वर्ष 2020-21 के लिए नॉन सैलरी पेमेंट में TDS-TCS रेट में 25 फीसदी की कटौती की गई है.

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज में एक सुविधा दी गई थी कि कर्मचारी और नौकरी देने वाले के ईपीएफ के 12-12 फीसदी के योगदान को भारत सरकार देगी. ये पहले तीन महीनों यानी मार्च से मई तक के लिए किया गया था जिसे कल की प्रेस कॉन्फ्रेंस में बढ़ाकर अगले तीन महीने जून, जुलाई और अगस्त तक कर दिया गया है.

आज भी वित्त मंत्री और वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर की प्रेस कॉन्फ्रेंस में लेबर, लैंड और लॉ और लिक्विडिटी में सरकार क्या सुधार करने जा रही है इसकी जानकारी दी जा सकती है. साथ ही आत्मनिर्भर भारत के लिए ढांचागत क्षेत्र, तकनीक आधारित व्यवस्था को बढ़ाने के नए उपाय भी बताए जाने हैं जिनका ज़िक्र पीएम ने अपने भाषण में किया था.

बता दें कि वित्त मंत्री की तीसरी और आखिरी प्रेस कॉन्फ्रेंस शुक्रवार यानी 15 मई को होगी. लगातार तीन दिनों के अपने संवाद के जरिए वित्त मंत्री 20 लाख करोड़ रुपये के आर्थिक पैकेज के तहत किस मद में कितना पैसा दिया जा रहा है इसका सारा विवरण विस्तार से देंगी.

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

0 Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार