सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

जून में होगी GST काउंसिल की बैठक, राजस्व बढ़ाने पर चर्चा संभव

काउंसिल के सूत्रों का कहना है कि वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण की अगुवाई की इस बैठक में गैर-जरूरी चीजों पर टैक्‍स के अलावा राजस्‍व बढ़ाने के तरीकों पर बात होगी. ये बैठक ऐसे समय में होने वाली है, जब देश कोरोना की मार झेल रहा है.

Abhishek Lohia
  • May 30 2020 12:47AM

कोरोना संकट काल के बीच जून में माल एवं सेवा कर यानी जीएसटी काउंसिल की 40वीं बैठक होने की संभावना है. काउंसिल के सूत्रों का कहना है कि वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण की अगुवाई की इस बैठक में गैर-जरूरी चीजों पर टैक्‍स के अलावा राजस्‍व बढ़ाने के तरीकों पर बात होगी. ये बैठक ऐसे समय में होने वाली है, जब देश कोरोना की मार झेल रहा है.

कलेक्‍शन के आंकड़ों पर रोक

कोरोना की वजह से सरकार ने जीएसटी कलेक्‍शन के आंकड़ों पर भी रोक लगा दी है. आपको बता दें कि अप्रैल महीने के जीएसटी कलेक्‍शन का आंकड़ा अब तक नहीं आया है. बीते दिनों वित्त सचिव अजय भूषण पांडेय ने बताया था कि अप्रैल माह के जीएसटी कलेक्‍शन के आंकड़ों पर सही तस्वीर 30 जून तक ही मिल पाएगी.

इसकी वजह बताते हुए पांडेय ने कहा था, ‘‘जीएसटी रिटर्न जमा करने की तारीख आगे बढ़ाई गई है. हमने कहा है कि रिटर्न जून तक जमा कराए जा सकते हैं. पांच करोड़ रुपये से अधिक के कारोबार वाले करदाताओं को भी अतिरिक्त समय मिला है. ’’

क्‍या है वजह?

उन्होंने कहा कि ऐसे में समयसीमा बढ़ाए जाने के बाद राजस्व संग्रह की सही तस्वीर 30 जून तक ही उभरकर सामने आएगी. इसी वजह से हमने अब तक अप्रैल के जीएसटी संग्रह के आंकड़े जारी नहीं किए हैं. उन्होंने कहा कि जिन लोगों ने रिटर्न जमा करा दिया है, उन्होंने जीएसटी का भुगतान भी कर दिया है. शेष के पास 30 जून तक का समय है. 30 जून के बाद ही राजस्व संग्रह पर स्थिति स्पष्ट हो पाएगी.

बता दें कि सामान्य तौर पर सरकार जीएसटी संग्रह के आंकड़े किसी महीने में जुटाए गए कर के हिसाब से जारी करती है. ऐसे में अप्रैल के आंकड़े एक मई को जारी होने थे. इससे पहले मार्च महीने में जीएसटी कलेक्शन घटकर 97,597 करोड़ रुपये रह गया. इसमें से केंद्रीय जीएसटी का हिस्सा 19,183 करोड़ रुपये रहा. इसी तरह राज्य जीएसटी संग्रह 25,601 करोड़ रुपये रहा. वहीं, फरवरी में जीएसटी संग्रह 1.05 लाख करोड़ रुपये रहा था.

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

कोरोना के कारण पीड़ित गरीब लोगो के लिए आर्थिक सहयोग

Donation
0 Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार