सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे

Donation

जो लोग कांग्रेस नेतृत्व पर सवाल उठा रहे है वो अवसरवादी है - अधीर रंजन चौधरी

कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी ने सोमवार को कहा कि गुलाम नबी आजाद ने जो बीते दिन कहा वो उनकी सोच है। लेकिन पार्टी पर प्रश्नचिन्ह लगाने से पहले हमें यह भी सोचना चाहिए कि हमने क्या किया? पार्टी के प्रति अनर्गल बयानबाजी पर कटाक्ष करते हुए अधीर रंजन ने कहा कि पार्टी पूरी जिन्दगी हमारा ख्याल रखती है लेकिन आज जब पार्टी बुरे वक्त से गुजर रही है तो अपनों की जिम्मेदारी है तो उसका साथ दे ना कि आरोप लगाने लगे।

Alok Jha
  • Nov 24 2020 7:13AM
कांग्रेस पार्टी में नेतृत्व के मुद्दे को लेकर मचे घमासान के बीच लगातार हो रही बयानबाजी को अधीर रंजन चौधरी ने अवसरवाद की राजनीति करार दिया है। उन्होंने कहा कि हमने पार्टी को क्या दिया हम इस पर विचार नहीं करते लेकिन अगर पार्टी की स्थिति सही नहीं है और लोगों को फायदा नहीं हो रहा तो वो सवाल खड़े करने लगते हैं। अधीर रंजन का यह बयान पार्टी के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद की टिप्पणियों पर आया है। हालांकि आजाद से पहले कपिल सिब्बल और पी. चिदंबरम ने भी पार्टी नेतृत्व पर सवाल उठाए थे।

लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी ने सोमवार को कहा कि गुलाम नबी आजाद ने जो बीते दिन कहा वो उनकी सोच है। लेकिन पार्टी पर प्रश्नचिन्ह लगाने से पहले हमें यह भी सोचना चाहिए कि हमने क्या किया? पार्टी के प्रति अनर्गल बयानबाजी पर कटाक्ष करते हुए अधीर रंजन ने कहा कि पार्टी पूरी जिन्दगी हमारा ख्याल रखती है लेकिन आज जब पार्टी बुरे वक्त से गुजर रही है तो अपनों की जिम्मेदारी है तो उसका साथ दे ना कि आरोप लगाने लगे। उन्होंने कहा कि आज जितने भी लोग विपक्षियों की तरह सवाल खड़े कर रहे हैं वो सिर्फ अवसरवाद की राजनीति करने में लगे हैं।

कांग्रेस नेता ने कहा कि आज जो लोग राहुल गांधी और सोनिया गांधी की नेतृत्व क्षमता पर सवाल उठा रहे हैं, शायद यूपीए-1 और यूपीए-2 को भूल गए हैं। कांग्रेस जब सत्ता में थी तब इन लोगों को पार्टी में कमियां नहीं दिखीं, शायद उस वक्त मंत्री पद मिला था तो कोई समस्या नहीं थी। 

राहुल गांधी का बचाव करते हुए अधीर रंजन ने कहा, ‘राहुल गांधी इलेक्टेड प्रेसिडेंट रहे हैं। जो लोग पार्टी में चुनाव करने की बात कह रहे, उनको मैं यह याद दिलाना चाहता हूं कि 2017 में हमारे ब्लॉक-जिला-राज्य स्तर से लेकर राष्ट्रीय स्तर पर चुनाव होने के बाद राहुल गांधी अध्यक्ष चुने गये।’ उन्होंने कहा कि आज पार्टी की असफलता पर मजा लेने वाले लोगों की बयानबाजी अनुचित और निराधार है।

सहयोग करें

हम देशहित के मुद्दों को आप लोगों के सामने मजबूती से रखते हैं। जिसके कारण विरोधी और देश द्रोही ताकत हमें और हमारे संस्थान को आर्थिक हानी पहुँचाने में लगे रहते हैं। देश विरोधी ताकतों से लड़ने के लिए हमारे हाथ को मजबूत करें। ज्यादा से ज्यादा आर्थिक सहयोग करें।
Pay

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

0 Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार