सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे

Donation

आजादी के 73 साल बाद भी जोशीमठ विकास खंड के दूरस्थ गांव आज भी सड़क सुविधाओ से बंछित

सबसे ज्यादा परेशानी तो बीमार लोगो को होती है।कभी कभी तो बीमार मरीज को लोग अपने कंधो मै पैदल चलकर 5 किमी लाने के बाद मुख्य सड़क तक पहुंचते है

Krishna Kumar
  • Aug 31 2020 8:00PM
आजादी के 73 साल बाद भी जोशीमठ विकास खंड के दूरस्थ गांव आज भी सड़क सुविधाओ से बंछित है। कई गावो मै आजतक सड़क नहीं पहुंच पाई है।
बता दे की जोशीमठ विकास खंड के सीमांत गांव सुखी से भालगाव तक आज तक सड़क नहीं बन पाई है।जिससे ग्रामीणों को पैदल 5 किमी चलना पड़ता है। सबसे ज्यादा परेशानी तो बीमार लोगो को होती है।कभी कभी तो बीमार मरीज को लोग अपने कंधो मै पैदल  चलकर 5 किमी लाने के बाद मुख्य सड़क तक पहुंचते है। कई बीमार मरीज रास्ते मै ही दम तोड देते है। ग्रामीणों ने कई बार सरकार प्रतिनिधियों तथा शासन प्रशासन से लिखित रूप से भी अवगत कराया लेकिन आज तक ग्रामीणों कि समस्याओं का समाधान नहीं हो पाया। ग्रामीणों का कहना है कि सूखी से  भलगाव तक सड़क मार्ग 1992 मै स्वीकृत हो गया था लेकिन आज तक यहां सड़क नहीं बन पाई है। प्रतिनिधि सिर्फ वोट के समय बड़ी बड़ी बाते  जरूर करते है लेकिन चुनाव जीतने के बाद धरातल पर कोई भी प्रतिनिधि काम नहीं करता है। ग्रामीणों का कहना है यहां जल्द से जल्द सड़क निर्माण किया जाय नहीं तो पूरे ग्राम पंचायत  आने वाले चुनावों का वहिष्कार करेंगे।
सूखी के प्रधान लक्ष्मण सिंह बुटोला का कहना है कि 73 सालो से अभी तक यह सड़क नहीं पहुंच पाई है।जबकि 1992 मै  सड़क बनने की स्वीकृति मिल गई थी लेकिन सड़क का निर्माण नहीं हो पाया। अगर सड़क नहीं बनाई जाती है तो आने वाले चुनावो का पूरी ग्राम पंचायत वहिष्कार करेगी

सहयोग करें

हम देशहित के मुद्दों को आप लोगों के सामने मजबूती से रखते हैं। जिसके कारण विरोधी और देश द्रोही ताकत हमें और हमारे संस्थान को आर्थिक हानी पहुँचाने में लगे रहते हैं। देश विरोधी ताकतों से लड़ने के लिए हमारे हाथ को मजबूत करें। ज्यादा से ज्यादा आर्थिक सहयोग करें।
Pay

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

0 Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार