सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

देवताओं, धर्मग्रंथों के बाद अब क्रांतिकारियों के नम्बर... वेब सीरीज में अपमानित किये गए श्रीमद्भागवत गीता ले कर फाँसी चढ़े खुदीराम बोस

इस से पहले लगातार वार होता रहा है हिन्दू धर्मग्रंथों और देवी देवताओं पर..

Rahul Pandey
  • Aug 17 2020 9:30PM
पहली बार नहीं हुआ था यह, इस से पहले भी कई बार फूहड़ता के नाम पर हिंदू धर्म , सनातन संस्कृति , देवी देवताओं को निशाना बना कर के मनोरंजन के नाम पर सीधे-सीधे धर्म का विरोध परोसा गया..  हिंदुत्व जिस प्रकार से पहले बॉलीवुड और अब वेब सीरीज ने निशाना बनाया है, और जितना आघात धर्म को तथाकथित मनोरंजन ने दिया है संभवत उतना आघात बड़े से बड़े और क्रूर से क्रूर मजहबी आक्रांता और विदेशी लुटेरे भी नहीं दे पाए होंगे..  लेकिन अब यह सिलसिला हिंदू देवी देवताओं से आगे चलकर क्रांतिवीर ओ तक पहुंच चुका है..

ट्रायल के रूप में पहला निशाना लगाया गया है देश के लिए सबसे कम उम्र में फांसी चढ़े और हाथ में श्रीमद्भागवत गीता लेकर बलिदान देने वाले अमर बलिदानी खुदीराम बोस को.. यह वही खुदीराम बोस थे जिन्होंने बलिदान होने से पहले कहा था कि- मैं बहुत ही गरीब हूं और मेरे पास मेरी भारत मां को देने के लिए मेरे प्राणों के अतिरिक्त कुछ नहीं था और आज मैं उसे दे रहा हूं। ना जाने कैसे हिम्मत हो गई उस पर अमर बलिदानी के अपमान की..  असल में वही सोच है जो आजादी का हकदार एकमात्र पक्ष को मानती है और यह मानती है कि स्वतंत्रता बंदूकों से नहीं बल्कि अहिंसा से आई..

इससे पहले भी वीर चंद्रशेखर आजाद और सरदार भगत सिंह को है या तो पुस्तकों में या मंच के भाषणों से अपमानित किया जा चुका है लेकिन इस बार वेब सीरीज के बहाने निशाना साधा गया है वीर बलिदानी खुदीराम बोस पर ।ओटीटी प्लेटफॉर्म पर रिलीज अभय 2 वेब सीरीज को लेकर इस वक्त ट्व‍िटर पर जमकर बवाल मचा हुआ है. यूजर्स ने सीरीज के एक सीन में शहीद खुदीराम बोस की तस्वीर को लेकर हंगामा कर दिया है. एक सीन में क्रिमिनल बोर्ड पर शहीद खुदीराम की फोटो दिख रही है. खुदीराम की फोटो शेयर करते हुए यूजर्स ने चैनल जी5 को बायकॉट करने की मांग कर डाली है. ट्व‍िटर पर यह जबरदस्त ट्रेंड कर रहा है.

यूजर्स ने लिखा- ‘शेम ऑन यू Zee5 India, ये खुदीराम बोस हैं. 1908 में आजादी की लड़ाई में शामिल होने वाले सबसे कम उम्र के शहीद, जिन्होंने अपने पीछे साहस और शहादत की विरासत आने वाली पीढ़‍ियों को प्रेरित करने के लिए छोड़ी. तुम किसकी साइड हो? भारत या ईस्ट इंड‍िया कंपनी?’ एक और यूजर ने लिखा- ‘बॉयकॉट Zee5, आजादी की लड़ाई में शामिल सबसे कम उम्र के आंदोलनकारी खुदीराम बोस, जिन्हें 11 अगस्त 1908 में फांसी पर चढ़ा दिया गया था, जब वे मात्र 18 वर्ष के थे. Zee5 India Zee5Premium को माफी मांगनी चाहिए.’हालांकि चैनल और सीरीज के डायरेक्टर केन घोष की ओर से माफी मांगी जा चुकी है. जी5 सपोर्ट की ओर से दो ट्व‍ीट लिखे गए. माफी मांगते हुए उन्होंने पहला ट्वीट किया- ”एपिसोड जल्द ही मौजूद होगा. हम इस बात के लिए माफी चाहते हैं.’. दूसरे ट्वीट में लिखा- ‘शो के प्रोड्यूसर्स, शो और प्लेटफॉर्म का मकसद किसी समुदाय या व्यक्त‍ि को दुख पहुंचाना नहीं था. ऑड‍ियंस की ओर से मिले फीडबैक को याद में रखते हुए हमने अभय 2 के इस सीन में तस्वीर को ब्लर कर दिया है.’

सहयोग करें

हम देशहित के मुद्दों को आप लोगों के सामने मजबूती से रखते हैं। जिसके कारण विरोधी और देश द्रोही ताकत हमें और हमारे संस्थान को आर्थिक हानी पहुँचाने में लगे रहते हैं। देश विरोधी ताकतों से लड़ने के लिए हमारे हाथ को मजबूत करें। ज्यादा से ज्यादा आर्थिक सहयोग करें।
Pay

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

0 Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार