सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

मोहम्मद फैजी ने बनाई प्राइवेट बैंक और शरिया के नाम पर जमा कराए हलाल पैसे... अब हो गया गायब

इस्लामिक युवक फैजी ने बैंक के नाम पर हजारो लोगों के पैसे लिए और उसके बाद लेकर फरार हो गया पुलिस इस मामले में छानबिन में जूट गई है

Prem Kashyap Mishra
  • Jan 17 2022 2:45PM

अल फैजान मुस्लिम फंड के मालिक मोहम्मद फैजी के करोड़ों रुपए की धनराशि लेकर फरार होने के 5 दिन बाद पुलिस ने अदालत से सर्च वारंट लिया। सर्च वारंट पर मुस्लिम फंड शाखा गेट पर लगे ताले तोड़ दिए। पुलिस ने शाखा के अंदर प्रवेश कर पूरी तरह छानबीन की। शनिवार की शाम जांच अधिकारी अजय कुमार के नेतृत्व में भारी पुलिस बल मोहल्ला लाल सराय में स्थित अल फैजान मुस्लिम फंड शाखा पर पहुंचे। शाखा के गेट पर लगे तालों को तोड़ दिया। पुलिस ने ताले तोड़ने के बाद पुलिस शाखा के अंदर दाखिल हुई। सीसीटीवी कैमरों का सिस्टम लगा हुआ पाया गया।

मोहल्ला लाल सराय स्थित अल फैजान मुस्लिम फंड में हजारों की संख्या में नगर व ग्रामीण क्षेत्र के लोगों के खाते थे। प्रतिदिन कर्मचारी व एजेंट लोगों से रुपये लाकर जमा करते थे। यह मुस्लिम फंड शाखा पिछले पांच वर्षों से चल रही थी। फैजी के भागने से नगीना के कई परिवार परेशान हैं। इन लोगों ने अपनी बेटियों की शादी के लिए जमा-पूंजी मुस्लिम फंड में जमा की थी। पुलिस ने खातेदारों की तहरीर पर फैजी व एक एजेंट के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है, लेकिन अभी तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है।

बताया गया है कि फैजी महीनों से भागने की प्लानिंग कर रहा था। उसने 23 दिसंबर को मोहल्ला शाहजीर स्थित अपना पैतृक मकान को भी मात्र छह लाख में बेच दिया था। मोहल्ले में बाइक व अन्य कीमती सामान बेचने की भी चर्चा है। थाना प्रभारी निरीक्षक कृष्ण मुरारी दोहरे ने बताया कि अब तक 170 लोगों की तहरीर मिल चुकी है। दो एजेंट ललित और सचिन को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है। सभी तहरीर को मुकदमे में शामिल कर लिया है।

 पुलिस को शाखा में रखी मेज की दराजों में काफी मात्रा में पासबुक, कुछ आधार कार्ड व पन्नी में लिपटे कुछ सिक्के भी मिले। शाखा में दो कंप्यूटर भी लगे पाए गए। पुलिस ने पूरी शाखा में घूमकर बारीकी से जांच कर जरूरी कागजातों को भी देखा। पुलिस का कहना है कि उन्होंने शाखा में मौजूद खातेदारों से संबंधित दस्तावेज, कुछ खातेदारों की पासबुक, दो कंप्यूटर सिस्टम, सीसीटीवी कैमरे की डिवाइस तथा कुछ सिक्कों को अपने कब्जे में लेकर शाखा गेट पर सील लगा दी है।

पुलिस का कहना है कि जांच पड़ताल पूरी होने के बाद ही आगे कुछ बताया जा सकता है। पुलिस का कहना है कि सीसीटीवी कैमरे के तार टूटे हुए मिले हैं जबकि ऐसी भी चर्चा है की सीसीटीवी कैमरों में पिछले कुछ दिन की रिकॉर्डिंग हो सकती है। इस मौके पर पुलिस के अलावा पालिका सभासद पति सिद्दीक मुल्तानी, सभासद अनीस अहमद भी मौजूद रहे।

सहयोग करें

हम देशहित के मुद्दों को आप लोगों के सामने मजबूती से रखते हैं। जिसके कारण विरोधी और देश द्रोही ताकत हमें और हमारे संस्थान को आर्थिक हानी पहुँचाने में लगे रहते हैं। देश विरोधी ताकतों से लड़ने के लिए हमारे हाथ को मजबूत करें। ज्यादा से ज्यादा आर्थिक सहयोग करें।
Pay

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार