सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

ICC Test Championship Points Table News: देखें कौन सी टीम है कहां

आईसीसी रैंकिंग में चोटी की नौ टीमें इस टेस्ट चैंपियनशिप का हिस्सा हैं। ये टीमें हैं- भारत, इंग्लैंड, पाकिस्तान, श्रीलंका, वेस्ट इंडीज, बांग्लादेश, न्यूजीलैंड, साउथ अफ्रीका और ऑस्ट्रेलिया।

Abhishek Lohia
  • Aug 9 2020 4:43PM
इंग्लैंड ने पाकिस्तान के खिलाफ टेस्ट सीरीज की शुरुआत जीत से की और मैनचेस्टर में खेला पहला मैच 3 विकेट से जीत लिया। इससे पहले उसने कोरोना काल में खेली गई पहली टेस्ट सीरीज में वेस्टइंडीज को 2-1 से मात दी थी। इस जीत का असर आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप के पॉइंट्स पर भी पड़ा है। हालांकि इंग्लैंड टीम पहले की तरह तीसरे नंबर पर ही मौजूद है। विराट कोहली की कप्तानी वाली टीम भारत अब भी पहले स्थान पर कायम है।

कितनी टीमें
आईसीसी रैंकिंग में चोटी की नौ टीमें इस टेस्ट चैंपियनशिप का हिस्सा हैं। ये टीमें हैं- भारत, इंग्लैंड, पाकिस्तान, श्रीलंका, वेस्ट इंडीज, बांग्लादेश, न्यूजीलैंड, साउथ अफ्रीका और ऑस्ट्रेलिया। जिन मैचों में आयरलैंड और अफगानिस्तान शामिल होंगे उन्हें टेस्ट चैंपियनशिप का हिस्सा नहीं होगे। सभी नौ टीमों को छह टीमों के खिलाफ खेलना होगा। इसमें तीन सीरीज घरेलू और तीन विदेशी होंगी। एक सीरीज में अधिकतम दो से अधिकतम पांच मैच हो सकते हैं।

कैसे मिलेंगे पॉइंट्स
हर सीरीज के कुल 120 पॉइंट्स होंगे, जो हर सीरीज में मैचों के आधार पर तय होंगे। एक दो टेस्ट मैच की सीरीज में अधिकतम 60 अंक हासिल किए जा सकेंगे जबकि पांच मैचों की सीरीज में हर मैच से अधिकतम 24 अंक हासिल किए जा सकते हैं। टाई मैचों में जीत के मुकाबले आधे अंक मिलेंगे। वहीं ड्रॉ होने पर जीत के एक-तिहाई अंक मिलेंगे। हाल ही में आईसीसी ने घोषणा की वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप में धीमे ओवर-रेट के लिए अंक काटे जाएंगे। मैच के बाद हर कम ओवर के लिए टीम के दो अंक काटे जाएंगे।

क्या सभी नौ टीमों को वर्ल्ड चैंपियनशिप के दौरान आपस में खेलना जरूरी होगा?
नहीं। सभी नौ टीमों को कुल छह सीरीज खेलनी होंगी। इसका अर्थ यह है कि टीमों के मुकाबलों की संख्या कम या ज्यादा हो सकती है। लेकिन आईसीसी ने एक चैंपियनशिप के लिए अधिकतम 120 अंक निर्धारित करके कुछ संतुलन कायम रखने की कोशिश की है। यानी सीरीज कितनी भी बड़ी हो अधिकतम अंक 120 ही होंगे।

क्या होगा अगर फाइनल ड्रॉ या टाइ रहे
अगर फाइनल टाइ या ड्रॉ रहता है तो दोनों टीमों को जॉइंट विजेता घोषित किया जाएगा। हालांकि प्लेइंग कंडीशंस में रिजर्व डे का भी विकल्प मौजूद है। ऐसा तभी होगा जब पांचों दिन के कुल खेल समय का नुकसान हुआ हो। टेस्ट मैच में खेल का कुल समय 30 घंटे (छह घंटे रोज) है। रिजर्व डे तभी खेल में आएगा अगर नियमित दिनों के अंतर्गत हुए नुकसान की उसी दिन भरपाई न कर ली जाए। उदाहरण के लिए, अगर बारिश के कारण किसी दिन एक घंटे का खेल नहीं हो पाता और उसी दिन अंत में उसकी भरपाई कर लेते हैं तो उसे किसी तरह का नुकसान नहीं मानते हैं। लेकिन बारिश के कारण पूरे दिन के खेल का नुकसान हो जाता है और बाकी चार दिनों में आप सिर्फ तीन घंटों के खेल की भरपाई कर पाते हैं तो रिजर्व डे में मैच जाएगा।

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

0 Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार