सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

पंजाब में जारी है राजनीतिक उठा-पटक.... हरीश रावत की पंजाब कांग्रेस प्रभारी पद से छुट्टी, जानिए कौन लेगा उनकी जगह ?

कांग्रेस के संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल की ओर से जारी बयान के मुताबिक पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी ने हरीश चौधरी की नियुक्ति की। वेणुगोपाल ने यह भी कहा कि पार्टी महासचिव के तौर हरीश रावत के योगदान की सराहना करती है।

Prem Kashyap Mishra
  • Oct 22 2021 4:05PM

पंजाब से बड़ी खबर सामने आई है बताया जा रहा है कि हरीश रावत को पंजाब प्रभारी पद से मुक्त कर दिया गया है। अब राजस्थान के कैबिनेट मंत्री हरीश चौधरी को पंजाब कांग्रेस की जिम्मेदारी दे दी गई है। पंजाब की राजनीति में बदलाव का दौर जारी है। मुख्यमंत्री पद में अदलाबदली के बाद अब कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी हरीश रावत  को भी बदल दिया गया है। राजस्थान सरकार में कैबिनेट मंत्री हरीश चौधरी को नया प्रदेश अध्यक्ष बनाया गया है। 

कांग्रेस के शीर्ष नेतृत्व ने तत्काल प्रभाव से यह फैसला लिया है। ऑल इंडिया कांग्रेस कमिटी  के महासचिव के सी वेणुगोपाल की तरफ से जारी यह निर्देश जारी किया गया है। पत्र के अनुसार कांग्रेस अध्यक्ष ने हरीश चौधरी को पंजाब का प्रभारी बनाया गया है।  पंजाब कांग्रेस में बीते कुछ महीनों से जारी उठापटक के बीच दिल्ली और चंडीगढ़ के बीच की कड़ी बने हुए हरीश रावत को पदमुक्त कर दिया गया है। हालांकि यह स्पष्ट किया गया है कि हरीश रावत कांग्रेस की कार्यकारी समिति में बने रहेंगे। आपको बता दें कल हरीश रावत ने खुद कहा था कि उन्हें पंजाब कांग्रेस के पद से मुक्त कर दिया जाए उन्होंने यह भी कहा कि जब नवजोत सिंह सिद्धू ने पंजाब कांग्रेस के पद से इस्तीफा दे दिया था तो उसे मंजूर किया जाना चाहिए था। 

कांग्रेस के संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल की ओर से जारी बयान के मुताबिक पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी ने हरीश चौधरी की नियुक्ति की। वेणुगोपाल ने यह भी कहा कि पार्टी महासचिव के तौर हरीश रावत के योगदान की सराहना करती है। पंजाब प्रदेश कांग्रेस में पिछले कई महीनों से चल रही उठापटक की पृष्ठभूमि में रावत ने पिछले दिनों कांग्रेस आलाकमान से आग्रह किया था कि उन्हें पंजाब प्रभारी की जिम्मेदारी से मुक्त किया जाए।

उनकी दलील थी कि वह अपने उत्तराखंड में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव पर ध्यान केंद्रित करना चाहते हैं।  सूत्रों का कहना है कि पंजाब में मची उठापटक के चलते यह कदम उठाया गया है। सियासी घमासान से आजिज हरीश रावत ने सार्वजनिक तौर पर नेतृत्व से पंजाब प्रभारी का पद छोड़ने की मांग की थी। उन्होंने यह भी कहा कि जब नवजोत सिंह सिद्धू ने पंजाब कांग्रेस के पद से इस्तीफा दे दिया था तो उसे मंजूर किया जाना चाहिए था।

सहयोग करें

हम देशहित के मुद्दों को आप लोगों के सामने मजबूती से रखते हैं। जिसके कारण विरोधी और देश द्रोही ताकत हमें और हमारे संस्थान को आर्थिक हानी पहुँचाने में लगे रहते हैं। देश विरोधी ताकतों से लड़ने के लिए हमारे हाथ को मजबूत करें। ज्यादा से ज्यादा आर्थिक सहयोग करें।
Pay

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार