सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

जेल में रहेगा CAA का दंगाई शरजील इमाम... साकेत कोर्ट ने खारिज की याचिका

नॉर्थ ईस्ट को भारत से अलग करने की बात कही थी दंगाई शरजील इमाम ने... UAPA के तहत जेल में बंद है दंगाई शरजील इमाम

Prem Kashyap Mishra
  • Oct 22 2021 2:23PM

शरजिल इमाम जिसके ऊपर राजद्रोह से संबंधित अपराध, धर्म, नस्ल, जन्म स्थान, राष्ट्रीय एकता के प्रतिकूल आरोपों और भारतीय दंड संहिता के तहत सार्वजनिक शरारत और यूएपीए के तहत गैरकानूनी गतिविधियों में लिप्त होने के आधार पर विभिन्न समूहों के बीच शत्रुता को बढ़ावा देने का आरोप है.उसके जमानत याचिका को साकेत कोर्ट ने खारिज कर दिया है.

साकेत कोर्ट ने शुक्रवार को सुनवाई के दौरान नागरिकता संशोधन अधिनियम और राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर के खिलाफ विरोध प्रदर्शन के दौरान कथित भड़काऊ और भड़काने वाले भाषणों से जुड़े एक मामले में जेएनयू छात्र शरजील इमाम की जमानत याचिका खारिज कर दी है. इस पहले दिल्ली पुलिस ने कोर्ट में कहा था कि यूएपीए के तहत राजद्रोह के एक मामले में गिरफ्तार जेएनयू छात्र शरजील इमाम ने अपने कथित भड़काऊ भाषणों के जरिए मुसलमानों में निराशा की भावना पैदा करने की कोशिश की थी.

आपको बता दें सीएए और एनआरसी के खिलाफ विरोध प्रदर्शनों के दौरान शरजील इमाम का एक वीडिया वायरल हुआ था. वायरल हुए वीडियो में शरजील ने कथित तौर पर कहा था कि असम के लोगों की मदद करने के लिए इस हिस्से को भारत से काटना होगा. शरजील इमाम ने नागरिकता संशोधन क़ानून के ख़िलाफ चल रहे विरोध-प्रदर्शन के दौरान 15 दिसंबर, 2019 को यह भाषण दिया था. दिल्ली पुलिस ने भाषण से हिंसा भड़कने की बात कहते हुए शरजील को बिहार के जहानाबाद से 28 जनवरी, 2020 को गिरफ़्तार किया था. जेएनयू छात्र शरजील मूल रूप से जहानाबाद के काको के रहने वाले हैं.

दिल्ली पुलिस बीते साल इमाम के खिलाफ चार्जशीट दायर की थी। उन पर अवैध गतिविधियां (निवारण) कानून( यूएपीए), 124-ए (देशद्रोह), 153 (ए) (दुश्मनी को बढ़ावा देना), 153-ए (दुश्मनी को बढ़ावा देना, समुदायों के बीच घृणा फैलाना), 153-बी (राष्ट्रीय एकता के खिलाफ बयान) और 505 (अफवाह फैलाना) के आरोप हैं। पुलिस का कहना है कि इस केस की जांच कर रही टीम को शरजील इमाम के बारे में पता चला कि उसने मस्जिद के आसपास वाले इलाकों में भड़काऊ पोस्टर भी बटवाएं थे, इसका पता उस वक्त चला जब पुलिस ने शरजील इमाम का लैपटॉप चेक किया। 

सहयोग करें

हम देशहित के मुद्दों को आप लोगों के सामने मजबूती से रखते हैं। जिसके कारण विरोधी और देश द्रोही ताकत हमें और हमारे संस्थान को आर्थिक हानी पहुँचाने में लगे रहते हैं। देश विरोधी ताकतों से लड़ने के लिए हमारे हाथ को मजबूत करें। ज्यादा से ज्यादा आर्थिक सहयोग करें।
Pay

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार