सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

किसान आंदोलन या बर्बरता का अड्डा? हाथ, ऊँगलियाँ, गर्दन काटी और टाँग दिया लखबीर को.. पहले जिंदा जलाया था मुकेश को

युवक की हत्या के पीछे निहंगाें का हाथ माना जा रहा है। घटना शुक्रवार सुबह सामने आई। कहा जा रहा है कि युवक का शव शुक्रवार सुबह करीब 5.30 बजे संयुक्त किसान मोर्चा की मुख्य स्टेज के पास करीब 100 मीटर घसीट कर निहंगों के ठिकाने यानी फोर्ड एजेंसी के पास लाया गया।

Prem Kashyap Mishra
  • Oct 15 2021 2:15PM

किसान आंदोलन कथित तौर पर तो तीनो कृषि कानून के विरोध में हो रहा है। लेकिन बॉर्डर पर जहाँ किसान प्रदर्शन कर रहे है वहां जो घटना घटित हो रही है वो कहीं से भी उचित नहीं है एक ऐसी ही घटना काल रात घटित हुई। हरियाणा के सोनीपत के कुंडली बॉर्डर पर एक युवक की बर्बर तरीके से हत्या कर लाश को लटका दिया। शुकवार की सुबह संयुक्त किसान मोर्चा के मंच के पीछे शव लटका मिला। दावा किया जा रहा है कि निहंग सिखों ने इस वारदात को अंजाम दिया है। 

रिपोर्ट के मुताबिक, व्यक्ति की हत्या करने से पहले उसे करीब 100 मीटर तक घसीटा गया। बाद में उसके दाहिने हाथ और गर्दन को काटा गया। हत्या से पहले मृतक को बेहद प्रताड़ना दी गई होगी क्योंकि उसकी पाँचों ऊँगलियों को भी काट दिया गया था। युवक पर गुरुग्रंथ साहिब की बेअदबी का आरोप लगाया गया है। हालाँकि वह कौन है इस बात का फिलहाल पता नहीं चल सका है।

आपको बता दें कहा जा रहा है कि युवक ने गुरु ग्रंथ साहिब की बेअदबी की थी। युवक की हत्या के पीछे निहंगाें का हाथ माना जा रहा है। घटना शुक्रवार सुबह सामने आई। कहा जा रहा है कि युवक का शव शुक्रवार सुबह करीब 5.30 बजे संयुक्त किसान मोर्चा की मुख्य स्टेज के पास करीब 100 मीटर घसीट कर निहंगों के ठिकाने यानी फोर्ड एजेंसी के पास लाया गया। सुबह 6:00 बजे शव को लटका दिया गया। शव को लटकाने का मकसद था, ताकि लोग उसे देख सकें। मामले की सूचना मिलने पर प्रबंधक थाना रवि कुमार मौके पर पहुंचे।

पुलिस जब मौके पहुंची, तब वहां काफी भीड़ जुट गई थी। हत्यारों ने युवक की पांचों उंगुलियों के साथ पूरी हथेली किसी धारदार हथियार से काटकर अलग कर दी थी। गर्दन पर भी गहरे जख्म मिले। मामला संगीन होने के कारण पुलिस फिलहाल अधिक कुछ भी बोलने से बच रही है। जब पुलिस मौके पर पहुंची और लाश को उतारने लगी, तो निहंगा आक्रोशित हो उठे। वे लाश को उतारने नहीं दे रहे थे। एक पत्रकार ने जब फोटो लेने की कोशिश की, तो उसे धमकी देकर फोन जेब में रखवा दिया।

 

 

सहयोग करें

हम देशहित के मुद्दों को आप लोगों के सामने मजबूती से रखते हैं। जिसके कारण विरोधी और देश द्रोही ताकत हमें और हमारे संस्थान को आर्थिक हानी पहुँचाने में लगे रहते हैं। देश विरोधी ताकतों से लड़ने के लिए हमारे हाथ को मजबूत करें। ज्यादा से ज्यादा आर्थिक सहयोग करें।
Pay

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार