सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

राजस्‍थान में 19 अप्रैल से 3 मई तक रहेगा 'जन अनुशासन पखवाड़ा', जानें पूरी गाइडलाइंस

सीएम अशोक गहलोत ने मजदूरों का पलायन रोकने के लिए राज्य में कंस्ट्रक्शन वर्क जारी रखने का फैसला किया है। इंडस्ट्रीज़ को भी इस जन अनुशानस पखवाडा से छूट दी है। रविवार शाम मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट की बैठक में मंत्रियों ने राजस्थान में लॉकडाउन लगाने का सुझाव दिया था।

Sudarshan News
  • Apr 19 2021 1:24AM
राजस्थान में बढ़ते कोरोना संक्रमण के बीच अशोक गहलोत सरकार ने 19 अप्रैल से 3 मई तक कुछ ज़रूरी छूटों के साथ 'जन अनुशासन पखवाड़ा' मनाने का ऐलान किया है। इस दौरान जरूरी सेवाओं को छोड़ सभी सरकारी दफ्तर बंद रहेंगे। बाजार-माल-सिनेमाघर बंद रहेंगे। हालांकि पहले की ही तरह होम डिलीवरी के लिए छूट रहेगी।

सीएम अशोक गहलोत ने मजदूरों का पलायन रोकने के लिए राज्य में कंस्ट्रक्शन वर्क जारी रखने का फैसला किया है। इंडस्ट्रीज़ को भी इस जन अनुशानस पखवाडा से छूट दी है। रविवार शाम मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट की बैठक में मंत्रियों ने राजस्थान में लॉकडाउन लगाने का सुझाव दिया था।

CM के निर्देश पर गृह विभाग ने सभी जिला कलेक्टर और पुलिस प्रशासन को इस संबंध में जानकारी प्रेषित कर दी है। नाइट कर्फ्यू में सरकारी कार्मिकों को पहचान पत्र के साथ आने-जाने की छूट दी गई है। वहीं बस स्टैंड, रेलवे ,मेट्रो स्टेशन एयरपोर्ट पर आने-जाने वाले टिकट दिखाने पर आने-जाने की अनुमति होगी। इसी तरह निजी और सरकारी संस्थाओं में काम करने वाले स्वास्थकर्मियों को भी कर्फ्य़ू में छूट दी गई है। मेडिकल इमरजेंसी और गर्भवती महिलाएं को भी चिकित्सकीय परामर्श के लिए राहत दी गई है।

टीकाकरण के लिए अनुमति
इससे पहले सीएमएचओ जयपुर नरोत्तम शर्मा ने बताया कि जिन सरकारी कार्यालयों में पहले वैक्सीनेशन हो रहा था। वहां वैक्सीनेशन नहीं होगा। वहीं राज्य सरकार की ओर से बनाए गए कोरोना वैक्सीनेशन सेंटर वैक्सीनेशन का काम चालू रहेगा। लिहाजा 45 वर्ष से अधिक आयु के लोगों को टीकाकरण स्थल पर जाने और वहां से आने की अनुमति रहेगी । इसी तरह कोविड-19 नियमों की पालना करते हुए मंडियों में फसल खरीद भी चालू रहेगी।

सहयोग करें

हम देशहित के मुद्दों को आप लोगों के सामने मजबूती से रखते हैं। जिसके कारण विरोधी और देश द्रोही ताकत हमें और हमारे संस्थान को आर्थिक हानी पहुँचाने में लगे रहते हैं। देश विरोधी ताकतों से लड़ने के लिए हमारे हाथ को मजबूत करें। ज्यादा से ज्यादा आर्थिक सहयोग करें।
Pay

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

0 Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार