सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

लाकडाउन व कोरोना काल के बाद भी मजबूत की तरफ भारत की अर्थव्यवस्था . उठाये गये सकारामक कदम के सार्थक परिणाम

भारत सरकार के वित्त मंत्रालय ने जारी किये आंकड़े.

Rahul Pandey
  • Jan 2 2021 9:13PM
लॉकडाउन की बंदिशें हटने के बाद अर्थव्यवस्था में सुधार की तेज गति दिखने लगी है। इसका सीधा असर वस्तु एवं सेवा कर जीएसटी के राजस्व में भी आया है... दिसंबर 2020 में 1.15 लाख करोड़ रुपये का रिकार्ड जीएसटी संग्रह हुआ, जो नई कर व्यवस्था लागू होने के बाद सर्वाधिक है। 

यह दिसंबर 2019 के मुकाबले 12 फीसदी ज्यादा है। दिसंबर में 1 लाख 15 हजार 174 करोड़ रुपये का राजस्व अर्जित हुआ जो नवंबर से 10 फीसदी ज्यादा है... जीएसटी संग्रह में बढ़ोतरी 21 महीनों में हुई सर्वाधिक मासिक वसूली है... जीएसटी का दिखा सकारात्मक असर, अब तक की सर्वाधिक वसूली, 1.15 लाख करोड़ कर वसूली, 2017 में लागू हुआ था जीएसटी 

वित्त मंत्रालय के मुताबिक जुलाई 2017 में लागू जीएसटी का इससे पहले सर्वाधिक संग्रह अप्रैल 2019 में 1,13,866 करोड़ रुपये हुआ था...लगातार तीसरे महीने जीएसटी वसूली एक लाख करोड़ से ज्यादा हुई है...वित्त मंत्रालय के मुताबिक कर वसूली में रिकॉर्ड वृद्धि लॉकडाउन के बाद तेज आर्थिक सुधारों, जीएसटी धोखाधड़ी के खिलाफ राष्ट्रव्यापी अभियान और कई व्यवस्थागत बदलावों के संयुक्त प्रभाव का नतीजा है... 



सहयोग करें

हम देशहित के मुद्दों को आप लोगों के सामने मजबूती से रखते हैं। जिसके कारण विरोधी और देश द्रोही ताकत हमें और हमारे संस्थान को आर्थिक हानी पहुँचाने में लगे रहते हैं। देश विरोधी ताकतों से लड़ने के लिए हमारे हाथ को मजबूत करें। ज्यादा से ज्यादा आर्थिक सहयोग करें।
Pay

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

4 Comments

Verygood economical condition.

  • Guest
  • Jan 3 2021 5:49:37:577AM

Very good economical condition.

  • Guest
  • Jan 3 2021 5:48:10:553AM

Very good economical condition.

  • Guest
  • Jan 3 2021 5:46:14:480AM

Very good economical condition.

  • Guest
  • Jan 3 2021 5:46:14:150AM

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार