सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

PM मोदी ने लिया अम्फान से तबाही का जायजा, बंगाल को 1000 करोड़ की मदद का ऐलान

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बंगाल में अम्फान प्रभावित इलाकों में मृतकों के परिजनों के लिए मुआवजे का ऐलान किया गया है. पीएम मोदी ने राहत कोष से मृतकों के परिजनों को 2 लाख रुपये का मुआवजा देने का ऐलान किया है.

Abhishek Lohia
  • May 22 2020 1:43PM

सुपर साइक्लोन 'अम्फान' (Super Cyclone Amphan) ओडिशा और पश्चिम बंगाल में भारी तबाही मचाने के बाद गुरुवार को कमजोर पड़ गया. बंगाल में चक्रवात अम्फान ने भारी तबाही मचाई है. पिछले 283 साल में आया ये अब तक का सबसे भयानक चक्रवात था. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने बंगाल में अम्फान प्रभावित इलाकों का दौरा करने के बाद शुरुआती तौर पर 1000 करोड़ रुपये की आर्थिक मदद का ऐलान किया है. इसके अलावा जल्द ही केंद्र की एक टीम राज्य में आकर विस्तार से सर्वे करेगी.

कोरोना संकट से निपटने के लिए देशव्यापी लॉकडाउन लागू होने के 57 दिनों के बाद प्रधानमंत्री दिल्ली से बाहर निकले. जनता कर्फ्यू से काउंट करें तो देश में लगे लॉकडाउन को 59 दिन हो गए हैं. इस बीच प्रधानमंत्री दिल्ली में ही रहे हैं. इतने दिनों में उन्होंने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए ही देश के अंदर और अंतरराष्ट्रीय बैठकों में हिस्सा लिया. वहीं, लॉकडाउन से पहले पीएम मोदी आखिरी बार 83 दिन पहले 29 फरवरी को उत्तर प्रदेश के प्रयागराज और चित्रकूट के दौरे पर गए थे.

पीएम मोदी ने कहा, 'पश्चिम बंगाल कोरोना और अम्फान दो समस्याओं से लड़ रहा है. कोरोना से लड़ने का मंत्र है जो जहां है वहीं रहे, लेकिन तूफान का मंत्र है कि जल्दी से जल्दी सुरक्षित स्थल पर शिफ्ट कर जाइए. दोनों अलग-अलग प्रकार की लड़ाई एकसाथ पश्चिम बंगाल को लड़नी पड़ी. इस दुख की घड़ी में देश पश्चिम बंगाल के साथ है. केंद्र बंगाल सरकार की हर संभव मदद करेगा.'

https://twitter.com/narendramodi/status/1263734564838465538

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बंगाल में अम्फान प्रभावित इलाकों में मृतकों के परिजनों के लिए मुआवजे का ऐलान किया गया है. पीएम मोदी ने राहत कोष से मृतकों के परिजनों को 2 लाख रुपये का मुआवजा देने का ऐलान किया है.

पीएम मोदी ने कहा, 'जब देश में कोरोना वायरस का संकट है, तब पूर्वी क्षेत्र में तूफान ने प्रभावित किया. राज्य और केंद्र सरकार दोनों ने इस तूफान को लेकर तैयारी की थी, लेकिन इसके बावजूद 80 लोगों की जान हम नहीं बचा पाए हैं. इस तूफान की वजह से काफी संपत्ति का नुकसान हुआ है, जिसमें घर उजड़े हैं और इन्फ्रास्ट्रक्चर को बड़ा नुकसान हुआ है.'

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

कोरोना के कारण पीड़ित गरीब लोगो के लिए आर्थिक सहयोग

Donation
0 Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार