सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

बांग्लादेश में क्रूरता से मार डाला गया हिंदू नेता को ... पहले गोली मारी, फिर चाकुओं से गोदा ... इसीलिये जरूरी है CAA

CAA क़ानून के तहत पाकिस्तान, अफगानिस्तान तथा बांग्लादेश में इसी तरह इस्लामिक चरमपंथियों की हिंसा का शिकार हो रहे अल्पसंख्यकों (हिंदू, सिख, बौद्ध, ईसाई, जैन, पारसी) को भारत की नागरिकता दी जाएगी

Abhay Pratap
  • Jun 12 2021 7:02PM

देश में CAA कानून कितना जरूरी है, इसका सबसे बड़ा प्रमाण है बांग्लादेश में हुआ इस हिंदू नेता का क़त्ल, जिसे क्रूरतम तरीके से इस्लामिक चरमपंथियों ने मार डाला. वैसे भी बांग्लादेश में इस्लामिक कट्टरपंथ एवं अराजकता की सभी सीमाएं पार हो चुकी हैं. बांग्लादेश में आए दिन इस्लामिक चरमपंथियों द्वारा  अल्पसंख्यक हिंदुओं पर किए जा रहे अंतहीन अत्याचार, तोड़े जा रहे मंदिरों, हिंदू माताओं-बहनों से बलात्कार की तमाम ख़बरें सामने आती रही हैं.

इसी बीच बांग्लादेश के नोआखाली जिले के छोर ईश्वरपुर गाँव से एक दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है जहाँ एक हिंदू नेता की क्रूरतम तरीके से हत्या कर दी गई. रबिंद्र चंद्र दास नामक एक हिंदू युवक को 9 जून दिन बुधवार की रात इस्लामिक कट्टरपंथियों द्वारा मार डाला गया. उन्मादी हमलावरों द्वारा न केवल दास को गोली मारी गई, बल्कि उसके बाद निर्ममता पूर्वक उन्हें चाकुओं से गोद दिया और उनके हाथ-पैरों को काट दिया गया.

बता दें कि रबिंद्र आवामी लीग के नेता एवं मछलियों के व्यापारी थे. वे लगातार तीन बार वार्ड मेंबर का चुनाव जीत चुके थे. इसके साथ ही, रबिंद्र बांग्लादेश जातियो हिन्दू महाजोट के ज़िला स्तर के उप प्रमुख भी थे. 15 साल से पद पर बने हुए, तीन बार के विजयी रबिंद्र ने आने वाले 21 जून, 2021 को होने वाले संघ अध्यक्ष के चुनावों के लिए नामांकन किया था. पुनः नामांकन करने के कारण ही वे मजहबी कट्टरपंथियों के निशाने पर आ गए तथा बुधवार रात घर जाते समय इन उपद्रवियों द्वारा उन्हें मार गिराया गया.

CAA क़ानून के तहत पाकिस्तान, अफगानिस्तान तथा बांग्लादेश में इसी तरह इस्लामिक चरमपंथियों की हिंसा का शिकार हो रहे अल्पसंख्यकों (हिंदू, सिख, बौद्ध, ईसाई, जैन, पारसी) को भारत की नागरिकता दी जाएगी. लेकिन आश्चर्य देखिए कि इसके बाद भी भारत के कथित बुद्धिजीवी तथा छद्म सेक्यूलर राजनेता CAA क़ानून का आज तक विरोध कर रहे हैं.

सहयोग करें

हम देशहित के मुद्दों को आप लोगों के सामने मजबूती से रखते हैं। जिसके कारण विरोधी और देश द्रोही ताकत हमें और हमारे संस्थान को आर्थिक हानी पहुँचाने में लगे रहते हैं। देश विरोधी ताकतों से लड़ने के लिए हमारे हाथ को मजबूत करें। ज्यादा से ज्यादा आर्थिक सहयोग करें।
Pay

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार