सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

योगी की भगवा विजय पर झूमा बाबर तो विरोधियों ने पीट पीट कर मार डाला... चुप क्यों है असहिष्णु गैंग ?

क्षेत्रीय विधायक पीएन पाठक ने खुद मृतक बाबर के शव को कंधा दिया और बच्चों की पढ़ाई का जिम्मा भी उठाया है. एसओ डीके सिंह ने बताया कि मामले में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है और दो आरोपियों ताहिद और आरिफ की गिरफ्तारी भी कर ली गईं है.

Abhay Pratap
  • Mar 28 2022 12:34PM

बाबर को पीट पीट कर मार डाला गया लेकिन असहिष्णुता का रोना रोने वाली गैंग पूरी तरह से चुप्पी साध गई है. जो लोग तोड़ मरोड़कर घटनाओं को मॉब लिंचिंग बताते रहते हैं, वो बाबर की पीट पीट कर ह्त्या को मॉब लिंचिंग कहने से डर रहे हैं. मामला उत्तर प्रदेश के कुशीनगर का है जहां बीजेपी के एक मुस्लिम कार्यकर्ता की हत्या कर दी गई है.

कुशीनगर जिले के रामकोला थाने के कठघरही गांव में मुस्लिम युवक बाबर को बीजेपी प्रचार करने और सरकार बनने पर मिठाई बांटने के कारण अपनी जान गंवानी पड़ी. मुस्लिम युवक बाबर को उसके पट्टीदारों ने जमकर पिटाई की. गंभीर रूप से घायल युवक को पहले जिला अस्पताल में एडमिट कराया गया, जहां से उसे  लखनऊ रेफर किया गया. इलाज के दौरान युवक की मौत हो गई.

 मृतक बाबर के परिजनों का कहना था कि पड़ोस में रहने वाले पट्टीदार इस बात पर नाराज थे कि बाबर भाजपा का प्रचार क्यों कर रहा है. कई बार बाबर को भाजपा का प्रचार करने से मना किया था. बाबर ने रामकोला थाने से लेकर कई अधिकारियों से सुरक्षा की गुहार लगाई, लेकिन उसकी गुहार नहीं सुनी गई.

 रविवार को मौके पर पहुंचे कसया एसडीम वरुण कुमार पांडेय ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है. आरोपियों की गिरफ्तारी की जाएगी और जो दोषी होगा उसपर सख्त कार्यवाई की जाएगी. क्षेत्रीय विधयक पीएन पाठक और प्रशासनिक अधिकारियों के आश्वासन के बाद परिजन अंतिम संस्कार करने को राजी हुए.

क्षेत्रीय विधायक पीएन पाठक ने खुद मृतक बाबर के शव को कंधा दिया और बच्चों की पढ़ाई का जिम्मा भी उठाया है. एसओ डीके सिंह ने बताया कि मामले में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है और दो आरोपियों ताहिद और आरिफ की गिरफ्तारी भी कर ली गईं है. अन्य दो की गिरफ्तारी के लिए दबिश दी जा रही है.

 दरअसल, बाबर ने 10 मार्च को भाजपा की सरकार बनने के बाद पूरे गांव में मिठाई बांटी था. इससे उसके पट्टीदार खार खाये बैठे थे. बाबर द्वारा भाजपा का प्रचार करने के दौरान ही उसके पट्टीदार कई बार धमका चुके थे. बाबर ने रामकोला थाने से लेकर कई पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों के पास गुहार लगाई थी लेकिन कहीं उसकी बात सुनी नहीं गई. बाबर के पट्टीदार रोज उसे धमकाते थे.

बीते 20 मार्च को दुकान से लौटने के बाद बाबर ने जय श्रीराम का नारा लगा दिया, उससे गुस्साए उसके पट्टीदार अजीमुल्लाह, आरिफ, ताहिद, परवेज ने अन्य साथियों के साथ उस पर हमला बोल दिया. सबने मिलकर उसकी जमकर पिटाई की. पुरुषों के साथ कई महिलाओं ने भी बाबर को जमकर पीटा.

जान बचाने के लिए बाबर अपने छत पर चढ़ गयालेकिन वहां भी पट्टीदार पहुच गए और छत से बाबर को नीचे फेंक दिया. छत से गिरे बाबर को रामकोला सीएचसी में भर्ती कराया गया, जहां से जिला अस्पताल और फिर लखनऊ रेफर कर दिया गया. लखनऊ में शनिवार को इलाज के दैरान बाबर की मौत हो गई.

 मामले में रविवार को मुख्यमंत्री योगी ने ट्वीट करते हुए कुशीनगर के कठघरही गांव के बाबर की लोगों द्वारा पिटाई से हुई मौत पर गहरा शोक व्यक्त किया है. मुख्यमंत्री ने शोक संतप्त परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त की है. उन्होंने मामले की गहनता से निष्पक्ष जांच हेतु अधिकारियों को निर्देश दिए हैं.

सहयोग करें

हम देशहित के मुद्दों को आप लोगों के सामने मजबूती से रखते हैं। जिसके कारण विरोधी और देश द्रोही ताकत हमें और हमारे संस्थान को आर्थिक हानी पहुँचाने में लगे रहते हैं। देश विरोधी ताकतों से लड़ने के लिए हमारे हाथ को मजबूत करें। ज्यादा से ज्यादा आर्थिक सहयोग करें।
Pay

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

Comments

ताजा समाचार