सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

मेवात पर दिखाई खबर तो दिखने लगा असर

हरियाणा सरकार में मेवात की खबरह को लेकर मची खलबली इस प्रकार आ रही हैं प्रतिक्रिया

Gaurav Mishra
  • Jun 5 2020 10:56AM

हरियाणा के मेवात में हिंदू के पलायन के मुद्दे को सुदर्शन न्यूज ने प्राथमिकता के साथ दिखा रहा है. जिसके बाद वहां के प्रशासन की नींद भी खुल रही है. प्रशासनिक अमले की बात करें तो मेवात में हिंदुओं के पलायन उनके दोहन धर्मातरण होने की खबरें वाकई में हैरान करने वाली हैं. भारतीय जनता पार्टी हरियाणा इकाई की राष्ट्रीय महिला उपाध्यक्ष रोजी मलिक आनंद ने सुदर्शन न्यूज से बातचीत करते हुए माना हमने जो खबरे दिखाई है. वो वास्तविक है. सरकार से अपील करूंगी कि इस मेवात के मामले को सरकार गंभीरता से संज्ञान में ले. वहीं पर ओबीसी मोर्चा हरियाणा भाजपा  के प्रदेश अध्यक्ष मदन चौहान ने कहा कि वैसे तो हरियाणा में पलायन की कोई स्थिति नहीं है. लेकिन आप लोगों ने जिस पूरी वास्तविक स्थिति से औगत कराया है. इसके बाद मैं खुद मेवात जाना चाहूंगा. साथ ही मदन चौहान ने कहा दलितों के धर्मातरण हिंदू परिवारों के घर बेचने की घटनाओं को रोकना होगा. फिलहाल मेवात मे जो आज वास्तविक स्थिति है. वो सरकार को परेशान करने वाली है. 

ये है मेवात की प्रमुख समस्याएं 

हिंदूओॆ का तेजी से होता पलायन 

हिंदुओं की गायब होती लड़कियां

हिंदुओं के मठ मदिरों जमीनों पर तेजी से मुस्लमानों का कब्जा

इलाकों में तेजी से पनपती मस्जिदें और मदरसों की संख्या बढ़ना

हिंदुओं के घरों में पीने का पानी न पहुंचने देना 

हिंदुओं की लगातार हो रही हत्याएं उनके घरों पर हमलें 

मेवात को अगर बदलना है तो हरियाणा सरकार को मेवात की सीमा पर लगे अन्य राज्य सरकारों से संपर्क स्थापित करना पड़ेगा और तेजी से मेवात छोड़कर गए हिंदुओं को फिर से मेवात में लाकर बसाना होगा.

कब्जे की जमीनों पर आर्मी कैंप बनाने होंगे ताकी मुस्लमानों में भय का माहौल बन सके और हिंदुओं को सुरक्षा की गारंटी दी जाएं. 

सहयोग करें

हम देशहित के मुद्दों को आप लोगों के सामने मजबूती से रखते हैं। जिसके कारण विरोधी और देश द्रोही ताकत हमें और हमारे संस्थान को आर्थिक हानी पहुँचाने में लगे रहते हैं। देश विरोधी ताकतों से लड़ने के लिए हमारे हाथ को मजबूत करें। ज्यादा से ज्यादा आर्थिक सहयोग करें।
Pay

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार