सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

बंगाल-ओडिशा में Amphan तूफ़ान की दस्तक, Top-10 Updates

मौसम विभाग ने तूफानी खतरे को देखते कई राज्यों के लिए हाई अलर्ट और ऑरेंज अलर्ट जारी किया है. ओडिशा और असम के लिए हाई अलर्ट जारी किया है.

Abhishek Lohia
  • May 20 2020 4:34PM

सुपर साइक्लोन (चक्रवात) से कमजोर होकर 'बेहद गंभीर चक्रवाती तूफान' में तब्दील हो चुके चक्रवात अम्पन अगले दो से तीन घंटे में लैंडफॉल करेगा. इससे पहले IMD भुवनेश्वर के डायरेक्टर जनरल ने बताया कि दोपहर 2:30 बजे से शुरू होने वाला लैंडफॉल लगभग 4-5 घंटे तक जारी रहेगा. पश्चिम बंगाल में बादलों की दीवार का आगे वाला भाग धरती के करीब आता नजर आ रहा है. इस तूफान से जानमाल के भारी नुकसान होने की आशंका है.

अम्फान तूफान की तीव्रता 170 किलोमीटर प्रति घंटे से 200 किलोमीटर प्रति घंटे के बीच बताई जा रही है. इस तूफान के असर से पश्चिम बंगाल और ओडिशा के कई इलाकों में बारिश शुरू हो चुकी है. अम्फान को देखते हुए पश्चिम बंगाल और ओडिशा के तटीय इलाकों से लाखों लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है. दोनों राज्य हाई अलर्ट पर हैं.

मौसम विभाग ने तूफानी खतरे को देखते कई राज्यों के लिए हाई अलर्ट और ऑरेंज अलर्ट जारी किया है. ओडिशा और असम के लिए हाई अलर्ट जारी किया है. पश्चिम बंगाल, तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश, पुडुचेरी, त्रिपुरा, मिजोरम,मणिपुर और जम्मू कश्मीर के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया है.

सुपर साइक्लोन के खतरे को देखते हुए ओडिशा और पश्चिम बंगाल में बड़ी संख्या में तटीय इलाकों को खाली कराया जा रहा है. लोगों को सुरक्षित स्थानों में भेजा जा रहा है. पश्चिम बंगाल के दक्षिण साउथ परगना में पुलिस समुद्री किनारे की ड्रोन से निगरानी कर रही है. मछुआरों और स्थानीय लोगों को समुद्र से दूर रहने की चेतावनी जारी की गई है.

Cyclone Amphan Top-10 Live Updates

१) फिलहाल, पश्चिम बंगाल के कई हिस्सों में आंधी और भारी बारिश हो रही है. NDRF की टीम राहत-बचाव के कार्य में जुटी हुई है.
२) दक्षिण बंगाल के जिलों में सुबह से ही तेज हवाएं चलने के साथ भारी बारिश होने लगी थी. पूर्वी मिदनापुर, दक्षिण 24-परगना और उत्तर 24-परगना सहित पश्चिम बंगाल के तटीय जिलों से 3 लाख से अधिक लोगों को पहले ही निकाला जा चुका है.
३) ओडिशा सरकार में 1.37 लाख से अधिक लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है. ये आंकड़ा हालात को देखते हुए और भी बढ़ाया जा सकता है.
४) राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल की 16 इकाइयों के रूप में, ओडिशा आपदा रैपिड एक्शन फोर्स (ओडीआरएएफ) की 15 टीमों, ओडिशा वन विकास निगम (ओएफडीसी) की 75 टीमों और 217 अग्निशमन दल को प्रभावित जिलों में तैनात किया गया है.
५) दक्षिण बंगाल के दूसरे जिलों जैसे पश्चिम मिदनापुर, हावड़ा, हुगली, और कोलकाता में भी चक्रवाती तूफान के दौरान भारी बारिश की आशंका है, जो 1999 के बाद से बंगाल की खाड़ी में सबसे भीषण तूफान होगा.
६) पूर्वी रेलवे (ईआर) के सूत्रों ने बताया कि बुधवार को 02301 हावड़ा-नई दिल्ली एसी स्पेशल एक्सप्रेस का प्रस्थान रद्द कर दिया गया है. इसी तरह 21 मई को 02302 नई दिल्ली-हावड़ा एसी स्पेशल एक्सप्रेस भी रद्द रहेगी.
७) बंगाल की खाड़ी में उठा अम्फान तूफान तेजी से ओडिशा और पश्चिम बंगाल के तट की ओर बढ़ रहा है. अम्फान का पहला प्रहार पारादीप पर होगा, जहां तेज अंधड़ के साथ बारिश हो रही है. 
८) अम्फान तूफान के देर शाम तक दीघा तट से टकराने के आसार हैं.
९) एसएन प्रधान ने बताया कि चक्रवात के दौरान समुद्र की लहरें तट से टकराएंगी और उनकी हाइट 4-6 मीटर ऊपर तक जा सकती है. 
१०) मौसम विभाग ने पश्चिम बंगाल, तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश, पुडुचेरी, त्रिपुरा, मिजोरम, मणिपुर और जम्मू कश्मीर के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया है.

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

0 Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार