सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

टिड्डियों का दल पहुंचा गुरुग्राम, दिल्ली के कई इलाके हाई अलर्ट पर

दिल्ली में हालात से निपटने के लिए सभी जिला प्रशासनों और सब-डिविजनल मजिस्ट्रेट के लिए व्यापक एडवायजरी जारी की गई है. गोपाल राय ने वन विभाग को डीजे, ड्रम और ढोल बजाने को कहा है कि ताकि टिड्डियों को भगाया जा सके. अधिकारियों को गुरुग्राम से लगे इलाकों का दौरान करने को भी कहा गया है.

Abhishek Lohia
  • Jun 27 2020 11:31PM
टिड्डियों का दल शनिवार करीब 11 बजे गुरुग्राम पहुंच गया. इसके शनिवार शाम या रविवार सुबह दिल्ली पहुंचने की आशंका है. गुरुग्राम के भीमगढ़ खेड़ी, राजेंद्र पार्क, सूरत नगर, लक्ष्मण विहार, दौलताबाग फ्लाइओवर पर टिड्डियों का दल आसमान पर छा गया. किसान इससे सबसे ज्यादा परेशान हैं. वे उन्हें भगाने की कोशिश कर रहे हैं.

किसान पटाखे, टिन के डिब्बे बजाकर और धुएं के जरिए टिड्डियों को भगाने की कोशिश कर रहे हैं. अभी तक जिन राज्यों में टिड्डियों ने हमला किया है, वहां उन्होंने फसलों को काफी नुकसान पहुंचाया है. जानकारी के मुताबिक, टिड्डियों का यह समूह झज्जर की तरफ बढ़ गया है. इसके गुरुग्राम से लगे दिल्ली के कुछ इलाकों में पहुंच जाने की खबर है.

बताया जाता है कि टिड्डियों का यह दल करीब तीन किलोमीटर लंबा है. गुरुग्राम के डिप्डी कमिश्नर अमित खत्री ने कहा, "तेज हवाओं के चलते टिड्डियों का दल पश्चिम से पूरब की तरफ बढ़ रहा है. इनके दिल्ली पहुंचने की आंशका काफी ज्यादा है." उन्होंने कहा कि गुरुग्राम प्रशासन उन्हें भगाने की कोशिशों में सहयोग कर रहा है.

अधिकारियों ने बताया कि दिल्ली के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने राष्ट्रीय राजधानी के दक्षिण और पश्चिम जिला प्रशासनों को हाई अलर्ट पर रहने का आदेश दिया है. मीटिंग में शामिल एक अधिकारी ने मंत्री को बताया है कि टिड्डियों का एक छोटा दल दक्षिण दिल्ली के असोला भट्टी इलाके में पहुंच गया है.

दिल्ली में हालात से निपटने के लिए सभी जिला प्रशासनों और सब-डिविजनल मजिस्ट्रेट के लिए व्यापक एडवायजरी जारी की गई है. गोपाल राय ने वन विभाग को डीजे, ड्रम और ढोल बजाने को कहा है कि ताकि टिड्डियों को भगाया जा सके. अधिकारियों को गुरुग्राम से लगे इलाकों का दौरान करने को भी कहा गया है.

गुरुग्राम प्रशासन ने शुक्रवार को लोगों को टिड्डियों के हमले से सतर्क रहने को कहा था. लोगों को घरों की खिड़कियां और दरवाजे बंद रखने की सलाह दी गई थी. बताया जाता है कि टिड्डियों का यह दल जैसलमेर और बाड़मेर के रास्ते पाकिस्तान से आया है. पिछले एक महीने से देश के कई हिस्सों में टिड्डियों का हमला जारी है. राजस्थान, गोरखपुर सहित उत्तर प्रदेश के कई हिस्सों और पंजाब सहित कई राज्यों में ये फसल को काफी नुकसान पहुंचा चुके हैं.

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

कोरोना के कारण पीड़ित गरीब लोगो के लिए आर्थिक सहयोग

Donation
0 Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार