सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

Lockdown और कानून सबके लिए बराबर. और ये बात अच्छे से समझा दी गई मछली पार्टी करते शिक्षा मंत्री के निजी सचिव और DSP जहानाबाद को

DGP बिहार का सख्त संदेश.. जो भी नियम तोड़ेगा, उसे मिलेगा दंड

राहुल पाण्डेय
  • Apr 19 2020 9:30PM

कानून सबके लिए बराबर होता है और इसका उसी रूप में पालन होगा.. इस बात को आप आये दिन बिहार पुलिस के मुखिया गुप्तेश्वर पाण्डेय के सोशल हैंडलऔर मीडिया को दिए गये बयानों में सुन और समझ सकते हैं. आये दिन कुछ लोगों कीशिकायत हुआ करती थी कि क्या नियम सबके लिए सच में बराबर हैं ? इस शिकायत को अमूमन आम जनता ज्यादातर उठाया करती थी जो लाक डाउन के चलतेअपने घरों में है और निकलने पर पुलिस की रोक टोक झेलती है. उन तमाम लोगों को साफ़और स्पष्ट जवाब अपनी कार्यवाही से देते हुए DGP बिहारगुप्तेश्वर पाण्डेय ने की एक निष्पक्ष और न्यायोचित कार्यवाही. 

अपने अधिकारियो ही नहीं बल्कि एक एक सिपाही का खुद फोन कर केहाल चाल लेने वाले बिहार के DGP गुप्तेश्वर पाण्डेयकी चौकन्नी नजर हर किसी पर है, संभवतः इसको जहानाबाद के DSPमहोदय भूल गये थे और उन्ही के साथ बिहार के शिक्षामंत्री के निजीसचिव भी संभवतः अपनी राजनैतिक ताकत के गुमान में आये होंगे.. लेकिन DSP जहानाबाद और शिक्षामंत्री के निजी सचिव की गलतफहमी एक साथ दूर कर दी गईहै.

मिल रही जानकारी के अनुसार कोरोनावायरस की महामारी के बीच इस वक्त एक बड़ी खबर सामने आ रही है बिहार की राजधानी पटनासे जहां जहानाबाद में तैनात एक डीएसपी को सस्पेंड कर दिया गया है. मिली जानकारी केमुताबिक जहानाबाद जिले के डीएसपी पर सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ाने पर निलंबनकी यह बड़ी कार्रवाई हुई है. जहानाबाद डीएसपी प्रभात भूषण को शिक्षा मंत्री कृष्णनंदन वर्मा के करीबी पिंटू यादव के साथ लॉक डाउन में मछली पार्टी करने का खामियाजाभुगतना पड़ा है. 

जहानाबाद डीएसपी के ऊपर निलंबन की कार्रवाई के साथ ही बीडीओ केऊपर भी बड़ी कार्रवाई की गई है. मछली पार्टी का आयोजन करने वाले शिक्षा मंत्रीकृष्ण नंदन वर्मा के करीबी पिंटू यादव को अरेस्ट कर लिया गया है. बीडीओ अरु अन्यअधिकारियों जो इस पार्टी में शामिल थेउनके ऊपरएफआईआर किया गया है. इस बात की जानकारी दी गई है कि लॉक डाउन मेंसोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ाने को लेकर आरोपी जहानाबाद डीएसपी प्रभात भूषण कोजवाब तलब किया गया था. उनकी ओर से पेश किये गए पक्ष में असत्यता को देखते हुए यहकार्रवाई की गई है.. बता दें कि शिक्षा मंत्री कृष्ण नंदन वर्मा के करीबी पिंटूयादव के साथ मछली पार्टी की गई थी. इस पार्टी में दर्जनों लोग शामिल हुए थे.

 

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

कोरोना के कारण पीड़ित गरीब लोगो के लिए आर्थिक सहयोग

Donation
0 Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार