सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

राजस्थान में पीट पीट कर मार डाला गया दलित... Lakhimpur Kheri का नाम लेकर राहुल-प्रियंका पर बरसी मायावती

आपको बता दें कि अब इस मामले में राजनीति लगातार बढ़ती जा रही है। इस मामले में बीजेपी के बाद अब कांग्रेस को घेरने के लिए बसपा सुप्रीमों मायावती ने भी मोर्चा खोल दिया है। बसपा अध्यक्ष मायावती ने घटना को निंदा करते हुए कांग्रेस आलाकमान को घेरा है।

shanti
  • Oct 10 2021 4:31PM

बीते दिन राजस्थान के हनुमानगढ़ में दलित युवक की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई थी। आपको बता दें कि अब इस मामले में राजनीति लगातार बढ़ती जा रही है। इस मामले में बीजेपी के बाद अब कांग्रेस को घेरने के लिए बसपा सुप्रीमों मायावती ने भी मोर्चा खोल दिया है। बसपा अध्यक्ष मायावती ने घटना को निंदा करते हुए कांग्रेस आलाकमान को घेरा है। मायावती ने कहा है कि राजस्थान के हनुमानगढ़ में दलित की पीट-पीटकर की गई हत्या काफी दुखद और निंदनीय है।

आपको बता दें कि जहां मायावती ने राजस्थान के हनुमानगढ़ में हुई घटना पर जहां सत्ताधारी पार्टी कांग्रेस को घेरा है। वहीं यूपी के लखीमपुर की घटना को लेकर बीजेपी पर भी निशाना साधा है। मायावती ने कहा कि यूपी के लखीमपुर खीरी की घटना जघन्य है। इस कांड में केंद्रीय मंत्री के बेटे का नाम सुर्खियों में आना बीजेपी सरकार की कार्यशैली पर सवाल खड़े करता है। उन्होंने कहा कि ऐसे में बीजेपी अपने मंत्री से खुद ही इस्तीफा ले, तभी वहां पीड़ित किसानों को कुछ न्याय की उम्मीद हो सकती है।

राजस्थान की घटना को लेकर बीजेपी प्रवक्ता गौरव भाटिया ने भी कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा था। उन्होंने कटाक्ष करते हुए पूछा था कि अशोक गहलोत के साथ ही राहुल और प्रियंका गांधी, पंजाब के सीएम चरणजीत सिंह चन्नी और छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल कब हनुमानगढ़ जाएंगे। इधऱ मायावती ने कांग्रेस पर आरोप लगाते हुए कहा कि कांग्रेस दलितों के नाम पर घड़ियाली आंसू बहाती है, जिसे उन्हें बंद करना चाहिए।

उल्लेखनीय है कि जहां मायावती ने राजस्थान के हनुमानगढ़ में हुई दलित युवक की हत्या और लखीमपुर घटना पर योगी सरकार को घेरा। वहीं जम्मू-कश्मीर की आतंकी घटनाओं पर प्रतिक्रिया व्यक्त की। मायावती ने कहा है कि जम्मू कश्मीर में आतंकी आए दिन निर्दोष लोगों की हत्या कर रहे हैं। ये काफी दुखद और शर्मनाक है। उन्होंने केंद्र सरकार से इस तरह की घटनाएं रोकने के लिए केंद्र सरकार से सख्त कदम उठाने की अपील की। साथ ही हनुमानगढ़ की इस घटना को लेकर मायावती ने कहा है कि कांग्रेस हाईकमान चुप क्यों है? और आगे सवाल किया है कि क्या छत्तीसगढ़ और पंजाब के मुख्यमंत्री वहां जाकर अब पीड़ित परिवार को 50-50 लाख रुपये की मदद देंगे?।

सहयोग करें

हम देशहित के मुद्दों को आप लोगों के सामने मजबूती से रखते हैं। जिसके कारण विरोधी और देश द्रोही ताकत हमें और हमारे संस्थान को आर्थिक हानी पहुँचाने में लगे रहते हैं। देश विरोधी ताकतों से लड़ने के लिए हमारे हाथ को मजबूत करें। ज्यादा से ज्यादा आर्थिक सहयोग करें।
Pay

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार