सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

UGC Guidelines For Exams: नहीं होगा फाइनल इयर का भी एग्जाम

नए सुझाव के मुताबिक, फाइनल इयर के मार्क्स पहले के एग्जाम के आधर पर अवॉर्ड किए जाएंगे। अगर कोई छात्र अपने रिजल्ट से संतुष्ट नहीं होता है तो उनको स्थिति सामान्य होने और क्लास दोबारा शुरू होने के बाद अपने परफॉर्मेंस में सुधार के लिए एग्जाम में बैठने का मौका मिलेगा। यूजीसी की पहले की गाइडलाइंस के मुताबिक, दूसरे और तीसरे साल के छात्रों के लिए यूनिवर्सिटी 1 अगस्त, 2020 से खुलने वाली थी और ताजा बैच के लिए 1 सितंबर, 2020 से। लेकिन अब 1 अक्टूबर, 2020 से ही स्कूलों के खुलने की उम्मीद है।

Abhishek Lohia
  • Jun 25 2020 11:41PM
एक्सपर्ट ने यूनिवर्सिटियों के एग्जाम और ऐकडेमिक कैलेंडर को लेकर सुझाव दिए हैं। आयोग की ओर से एक्सपर्ट को देश में कोविड-19 की वजह से खराब हो रहे हालात के मद्देनजर अपने पहले के दिशानिर्देश पर पुनर्विचार करने को कहा गया था। कॉलेज और यूनिवर्सिटी के खुलने के समय को भी अब बढ़ाकर अक्टूबर 2020 किया जा सकता है। वह भी स्थिति की और समीक्षा करने के बाद तय होगा।

यूजीसी के एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक, हरियाणा यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर आर.सी.कुहाड़ की अध्यक्षता वाली कमिटी से अपने पहले के दिशानिर्देश पर पुनर्विचार करने को कहा गया था जिसे 29 अप्रैल, 2020 को जारी किया गया था। उन्होंने बताया, '2 दिनों के अंदर नई गाइडलाइंस आ सकती है।' कोरोनावायरस महामारी के मद्देनजर छात्रों के मूल्यांकन के वैकल्पिक माध्यम से संबंधित सुझाव देने के लिए कमिटी का गठन किया गया है।

मानव संसाधन विकास मंत्रालय के एक सूत्र के मुताबिक, नई गाइडलाइंस के हिसाब से फाइनल इयर के छात्रों का मूल्यांकन पहले के सेमेस्टर एग्जाम और इंटर्नल असेसमेंट के आधार पर होगा। पहले वाली गाइडलाइंस, जो अप्रैल में जारी हुई थी, में यूनिवर्सिटियों से फाइनल इयर के स्टूडेंट्स के लिए ऑफलाइन या ऑनलाइन मोड में परीक्षाओं का आयोजन करने को कहा गया था। वहीं पहले और दूसरे साल के स्टूडेंट्स को इंटर्नल असेसमेंट और पहले सेमेस्टर/साल में उनके परफॉर्मेंस के आधार पर प्रमोट करने का सुझाव दिया गया था। फाइनल इयर के एग्जाम 1 और 31 जुलाई, 2020 के बीच होने थे।

नए सुझाव के मुताबिक, फाइनल इयर के मार्क्स पहले के एग्जाम के आधर पर अवॉर्ड किए जाएंगे। अगर कोई छात्र अपने रिजल्ट से संतुष्ट नहीं होता है तो उनको स्थिति सामान्य होने और क्लास दोबारा शुरू होने के बाद अपने परफॉर्मेंस में सुधार के लिए एग्जाम में बैठने का मौका मिलेगा। यूजीसी की पहले की गाइडलाइंस के मुताबिक, दूसरे और तीसरे साल के छात्रों के लिए यूनिवर्सिटी 1 अगस्त, 2020 से खुलने वाली थी और ताजा बैच के लिए 1 सितंबर, 2020 से। लेकिन अब 1 अक्टूबर, 2020 से ही स्कूलों के खुलने की उम्मीद है।

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

कोरोना के कारण पीड़ित गरीब लोगो के लिए आर्थिक सहयोग

Donation
0 Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार