सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

बिहार चुनाव में कांग्रेस के घोषणा पत्र की 10 प्रमुख बातें

पहली कैबिनेट में दस लाख नौकरी देने के साथ कांग्रेस ने सरकार बनने पर बेरोजगारों को हर माह 15 सौ रुपये भत्ता देने का वादा किया।

Abhishek Lohia
  • Oct 21 2020 9:31PM

पहली कैबिनेट में दस लाख नौकरी देने के साथ कांग्रेस ने सरकार बनने पर बेरोजगारों को हर माह 15 सौ रुपये भत्ता देने का वादा किया। बच्चियों की केजी से पीजी तक की पढ़ाई मुफ्त होगी। किसानों का कर्ज माफ करेगी और उनके लिए अलग से स्वास्थ्य बीमा लाएगी। शराबबंदी की समीक्षा कर जेल में फंसे साढ़े तीन गरीबों के साथ कानून के तहत न्याय करेगी।  

कांग्रेस ने सदाकत आश्रम में बुधवार को 'बदलाव पत्र' के नाम जारी अपने घोषणा पत्र में ये सभी वादे किये है। नेताओं ने किसानों को आधी दर पर बिजली और महिला किसानों को एक प्रतिशत सूद पर केसीसी देने का वादा किया। साथ ही राज्य में उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए युवाओं को विशेष सहायता देने का वादा किया है। नेताओं ने कहा कि सरकार बनने पर पंचायती राज व्यवस्था को और मजबूत किया जाएगा।  

घोषणा पत्र में कांग्रेस की प्रतिबद्धता :
1- बेरोजगारों को हर माह 15 सौ रुपये भत्ता
2- सिंचाई नेटवर्क पांच साल दोगुना होगा
3- केन्द्र द्वारा लागू किए गए तीनों कृषि कानून को खरिज करेगी
4- 12वीं में 90 फीसद से ज्यादा अंक लाने पर लड़कियों को स्कूटी
5- पशुधन आयोग का गठन होगा, जिसमें किसान भी सदस्य होंगे
6- पिछड़े और अति पिछड़े छात्र को मुफ्त में कोचिंग
7- स्वास्थ्य का अधिकार कानून बनेगा, गांवों के लिए मोबाइल अस्पताल रहेगा
8- किसानों का कर्ज माफ करेगी सरकार, लाएगी स्वास्थ्य बीमा
9- शराबबंदी की समीक्षा कर जेल में फंसे गरीबों के साथ कानून के तहत न्याय करेगी। 
10- पंचायती राज व्यवस्था को और मजबूत किया जाएगा

घोषणा पत्र - नेताओं की जुबानी
जनता की आंकाक्षा का दर्पण है कांग्रेस का घोषणा पत्र। सरकार बनी तो इस घोषणा पत्र के एक-एक शब्द लागू करेंगे। हम जुमला नहीं कहते हैं। जो बोलते हैं, वहीं करते हैं।
- रणदीप सुरजेवाला, राष्ट्रीय महासचिव

बिहार में शराबबंदी नहीं है। केवल शराब माफियों को छूट देने के लिए यह व्यवस्था की गई है। शराबबंदी के नाम पर प्रदेश में समानांतर उद्योग चलाए जा रहे हैं। सब सरकार की नाक के नीचे हो रहा है। बिहार के साढ़े तीन लाख लोग शराब के मामले में जेलों में बंद हैं। कांगेस इन्हें न्याय दिलाएगी।
 - शक्ति सिंह गोहिल, बिहार प्रभारी, सांसद

सरकार में खाली साढ़े चार लाख पदों को नहीं भरने वाले आज दस लाख नौकरी के वादे पर तंज कसते हैं। वह चाहते तो इन पदों को भरकर युवाओं का कल्याण कर सकते थे। लेकिन इच्छाशक्ति की ही कमी है। हम वादा पूरा करेंगे और तब जनता उनपर हंसेगी।
- राज बब्बर, सांसद

 राज्य के युवकों को पढ़ने के लिए बाहर नहीं जाना पड़ेगा। सरकार ऐसी व्यवस्था करेगी कि बाहर के बच्चे बिहार पढ़ने आएंगे।
- तारिक अनवर, राष्ट्रीय महासचिव

 महिला सशक्तीकरण हमारा प्रमुख वादा है। महिलाओं को ना सिर्फ हम आर्थिक रूप से बल्कि राजनीतिक रूप से भी सशक्त बनाएंगे।
- निखिल कुमार, पूर्व राज्यपाल

श्री बाबू के कार्यकाल में बिहार देश का 27 परसेंट चीनी बिहार में बनाता था। आज हम मात्र दो प्रतिशत योगदान ही दे पाते हैं। औद्योगिकरण से फिर से वह स्थिति आएगी। खेलकूद में पदक लाने वाले लोगों को सीधे नौकरी दी जाएगी। स्वास्थ्य की संरचना और दुरुस्त करेंगे। नर्सिंग होम एक्ट में बदलाव करेंगे।
- डॉक्टर अखिलेश सिंह , अध्यक्ष अभियान समिति

कांग्रेस की सरकार में मैथिली की पढ़ाई स्कूलों में होती थी। आज ना शिक्षक हैं ना ही कोई व्यवस्था। कांग्रेस मैथिली की पढ़ाई फिर शुरू कराएगी। आईएएस और आईपीएस में मैथिली भाषा से परीक्षा देने वाले छात्रों की परेशानी दूर होगी।
- प्रेमचन्द्र मिश्रा, मीडिया कोआर्डिनेटर

अनुसूचित जाति और जनजाति के लोगों को घर बनाने के लिए जमीन देगी सरकार। उच्च शिक्षा में पढ़ने वाले इन तबके के लोगों को 80 परसेंट सहायता देगी। साथ ही हर परिवार को 100 लीटर पानी की टंकी मिलेगी।
- सुबोध कांत सहाय, पूर्व केंद्रीय मंत्री

सहयोग करें

हम देशहित के मुद्दों को आप लोगों के सामने मजबूती से रखते हैं। जिसके कारण विरोधी और देश द्रोही ताकत हमें और हमारे संस्थान को आर्थिक हानी पहुँचाने में लगे रहते हैं। देश विरोधी ताकतों से लड़ने के लिए हमारे हाथ को मजबूत करें। ज्यादा से ज्यादा आर्थिक सहयोग करें।
Pay

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

1 Comments

छत्तीसगढ़ की जनता देख चुकी है कांग्रेश के वादों को 1 साल के लिए रोजगार पर रोक ना शराबबंदी न कर्ज माफी केवल जनता को बेवकूफ बनाया है

  • Guest
  • Oct 21 2020 10:03:31:197PM

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार