सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

अब मार्क्स जिहाद ! सभी को 100 में 100 नंबर कैसे मिले ? D.U के प्रोफेसर का बड़ा आरोप

दिल्ली विश्वविद्यालय का एडमिशन एक बार फिर से चर्चा में है. शत प्रतिशत कटऑफ के साथ विवादों का नाता हमेशा से हीं D.U में रहा है. इसबार के कटऑफ में अब जिहाद भी जुड़ गया है. D.U में वामपंथ की जड़े मजबूत करने के लिए रचा जा रहा है एक बड़ा साजिश ! D.U के किरोड़ीमल कॉलेज में मार्क्स जिहाद का मामला आया सामने. एसोसिएट प्रोफेसर राकेश पांडेय ने लगाया गंभीर आरोप. प्रोफेसर पांडेय ने अपने फेसबुक पोस्ट में बेहद हीं गंभीर सवाल खड़ा किया है. प्रोफेसर राकेश पांडेय के अनुसार केरल. एजुकेशन बोर्ड में चल रहा है मार्क्स जिहाद. किरोड़ीमल कॉलेज में हुए एडमिशन के पीछे मार्क्स जिहाद का आरोप. प्रोफेसर राकेश पांडेय के खिलाफ लामबंद हुआ पूरा लेफ्ट विंग. प्रोफेसर के अनुसार केरल बोर्ड ने मार्क्स जिहाद के तहत 100 फीसदी अंक दिए. प्रोफेसर का आरोप, वामपंथी विचारधारा फैलाने के लिए अंकों का दुरुपयोग हो रहा है. मेरे लिए वामपंथी और जिहादी एक जैसे हीं हैं- प्रोफेसर राकेश पांडेय

Jitendra Pratap Singh @JitendraStv
  • Oct 9 2021 10:03PM

दिल्ली विश्वविद्यालय का एडमिशन एक बार फिर से चर्चा में है. शत प्रतिशत कटऑफ के साथ विवादों का नाता तो हमेशा से हीं D.U में रहा है, मगर इस बार के कटऑफ में अब जिहाद भी जुड़ गया है. तो चलिए हम आपको बताते हैं की क्या है मार्क्स जिहाद और कैसे देश के प्रतिष्ठित दिल्ली विश्वविद्यालय में वामपंथ की जड़े मजबूत करने के लिए रचा जा रहा है एक बड़ा साजिश. D.U के किरोड़ीमल कॉलेज में मार्क्स जिहाद के तहत मिले एडमिशन मिलने का दावा किया है एशोसिएट प्रोफेसर राकेश पांडेय ने. प्रोफेसर पांडेय ने अपने फेसबुक पोस्ट में बेहद हीं गंभीर सवाल किया है. प्रोफेसर राकेश पांडेय के अनुसार केरल एजुकेशन बोर्ड से मार्क्स जिहाद का ये पूरा खेल चल रहा है. उनके द्वारा लिखे पोस्ट के अनुसार किरोड़ीमल कॉलेज में जो एडमिशन हुए हैं उसके पीछे एक बड़ा मार्क्स जिहाद होने की संभावना है.


प्रोफेसर राकेश पांडेय का पोस्ट ज्यों हीं सामने आया पूरा लेफ्ट विंग और NSUI तथा लेफ्ट स्टूडेंट विंग के प्रोफेसर, राकेश पांडेय के खिलाफ लामबंद हो गए. प्रोफेसर राकेश पांडेय ने कहा है कि केरल बोर्ड ने मार्क्स जिहाद के तहत 100 फीसदी अंक दिए, तथा उसी के तरह DU के किरोड़ीमल कॉलेज में 26 छात्रों को एडमिशन मिला. विवाद होने पर प्रोफेसर पांडेय ने कहा है कि जब आप धर्म के प्रचार के लिए प्यार का दुरुपयोग करने लगते हैं तब यह लव जिहाद बन जाता है. ठीक उसी प्रकार से  यह मार्क्स जिहाद वह है, जब आप वामपंथी विचारधारा फैलाने के लिए अंकों का दुरुपयोग करते हैं. मेरे लिए वामपंथी और जिहादी एक जैसे ही हैं. मैं इनके बीच अंतर नहीं करता. जिहाद सिर्फ धर्म नहीं बल्कि इसका अधिक व्यापक अर्थ है, जो इसमें फिट बैठता है. हो सकता है कि कुछ समूह केरल शिक्षा बोर्ड की सलाह से वामपंथी विचारधारा को आगे बढ़ाने में शामिल हों.