सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

ईद के दिन ही कथित भाईचारे पर वार. सुल्तानपुर में दलितों के घरों पर मजहबी उन्मादियो का हमला, जो मिला उसी को मारा

अब तक न्याय नहीं मिल पाया पीड़ितों को और नहीं हो रही कोई सुनवाई.

राहुल पाण्डेय
  • May 29 2020 9:45PM

उस दिन नेताओं के ट्विटर हैंडलों पर भाईचारे के बड़े सुंदर सुंदर संदेश आ रहे थे. उसी दिन हर कोई सेवई इत्यादि के बहाने से देश में अमन और चैन लाने की बात कर रहा था. शायद उसी दिन तमाम अधिकारी भी इस उम्मीद में शांत और संयत थे कि कहीं न कहीं आज भाईचारे और अमन का दिन है और कोई विवाद की संभावना न के बराबर है. लेकिन वो तमाम शंकाएं आख़िरकार निर्मूल साबित हुई और सुल्तानपुर में जो कुछ भी दिखाई दिया वो किसी की भी आत्मा को विदीर्ण कर देने वाला था. 

ये मामला है सुल्तानपुर जिले के इसौली विधानसभा का. यहाँ पर धर्मनिरपेक्ष जनता ने समाजवादी पार्टी के विधायक को अपना मुखिया बनाया है जो आज उसी जनता को भरोसा दिलाने के लिए फोन लाइन पर आने तक से मना कर गये. यहाँ पर ईद के दिन सोमवार को गाँव करमपुर परवरभार मे भारत देश में अल्पसंख्यक कहे जाने वाले एक परिवार से और एक दलित मौर्य परिवार (हिन्दू परिवार) से किसी बात पर मामूली विवाद हो गया.. बात उतनी नहीं थी जितनी कि नन्हे घोसी के परिवार ने बढ़ा दी, नन्हे के घरवाले उन्मादी हो उठे और हाथो में लाठी उठा लिए. फिर क्या था , देखते ही देखते नरहरपुर के और परवरभार के भी जितने भी मुस्लिम परिवार थे वो सब एक जगह जमा हो गये.. 

फिर उस दलित परिवार के साथ जो कुछ भी हुआ वो रोंगटे खड़े करने के लिए काफी था .. हर तरफ मारो मारो की आवाजें आने लगी. बाकी अन्य तमाम लोगों ने इस मामले में खड़े हो कर तमाशा देखा और एक परिवार पिटता रहा. इस हमले में मिल रही वीडियो के आधार पर देखा जाय तो किसी का सिर फूट गया तो किसी के हाथ में चोट आई , किसी का पैर घायल हुआ है तो किसी के पीठ पर लाठियां बरसी हैं . बुरी तरह से घायल उन सभी लोगों को जिला हॉस्पिटल सुल्तानपुर में ले जाया गया जिसमे से कुछ को हालत ठीक न होने के चलते लखनऊ रिफर किये जाने की सूचना है. इस मामले में जब सुदर्शन न्यूज़ ने विशेष शो के दौरान सुल्तानपुर जिले की जिलाधिकारी को फोन लाइन पर लेने का प्रयास किया तो उन्होंने फोन काट दिया, जब पुलिस अधीक्षक को मिलाया तो उन्होंने मीटिंग में होने की बात कह डाली. आखिरकार जिले के एडिशनल एस पी फोन लाइन पर आये और उन्होंने इस मामले के संज्ञान में होने की बात करते हुए कार्यवाही होने की बात बताई.. स्थानीय विधायक का रुख तो और भी बुरा रहा जो झल्लाते हुए केवल उलटी सीधी बातें बनाते रहे. देखिये वो पूरा शो जो दिखाएगा एक नकली दिखावटी भाईचारे का असल सच और सुल्तानपुर में वरिष्ठ अधिकारियो का अपने क्षेत्र की जनता के लिए उदासीनता-

नीचे लिंक पर जाएँ -

https://www.youtube.com/watch?v=gAfY8ActT28

https://youtu.be/02bZ40b5hEI

 

  

https://youtu.be/02bZ40b5hEI

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

कोरोना के कारण पीड़ित गरीब लोगो के लिए आर्थिक सहयोग

Donation
0 Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार