सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

भीड़ हटाने गई पुलिस पर अब्दुल ने पूरे परिवार के साथ मिल कर हमला बोला.. पुलिस की रिवाल्वर भी छीनने का किया दुस्साहस, लेकिन आखिरकार अब्दुल पकड़ा गया

बहराइच पुलिस ने दिया साहस का परिचय और पस्त किये हमलावर.

राहुल पाण्डेय
  • Apr 27 2020 1:21PM
लाकडाउन के समय जनहित में लगातार उत्तर प्रदेश पुलिस व् प्रशासन द्वारा आम जनता को सोशल डिस्टेंस का पालन करने के लिए और शासकीय आदेशों का पूरी तरीके से चलने के लिए समय-समय पर ना सिर्फ सोशल मीडिया से बल्कि पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा आम जनमानस से व्यक्तिगत रूप से मिल कर कड़े निर्देश दिए जा रहे हैं. पुलिस और प्रशासन के इन प्रयासों के चलते इस पर काफी हद तक पालन भी हो रहा है और देश कोरोना की भयावाहता से काफी हद तक मुक्त भी हो रहा है. लेकिन इसी बीच अब्दुल जैसे कुछ असमाजिक तत्व ऐसे भी हैं जिन्हें इस विपरीत समय में भी इन बातों से कोई फर्क असर नहीं पड़ रहा है, जबकि उनके कृत्य सीधे-सीधे उनके साथ साथ इस देश, इस समाज और मानवता को हानि पहुंचा रहे हैं.

ये वह समय है जब पुलिसकर्मी व डॉक्टरों को पूरा भारत ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया सम्मान की दृष्टि से देख कर उन्हें भगवान मान रही है. लेकिन कुछ ऐसे भी असामाजिक तत्व है जिन्हें उन्हें पुलिसकर्मियों के अपना शत्रु दिखाई दे रहा है. उन्हीं में से एक है अब्दुल, जो बहराइच का निवासी है . यद्दपि अब्दुल के कृत्य के विरुद्ध बहराइच पुलिस इस मामले में भी अपनी कड़ी कार्यवाही कर रही है. यह मामला उत्तर प्रदेश के जिला बहराइच का है जहां पर खुलेआम मांस बेच रहे अब्दुल को पुलिस द्वारा टोकना नागवार गुजरा. दुस्साहस की सभी सीमओं को पार करते हुए सीधे-सीधे उसने पुलिस पर हमला बोल दिया. इस हमले के बाद में पुलिस ने कड़ी कार्यवाही की है और उस कार्यवाही से ऐसा करने वालों को एक साफ और स्पष्ट संदेश दे दिया.

बहराइच पुलिस द्वारा जारी प्रेस नोट के अनुसार भगवानपुर माफी के मकान के सामने काफी भीड़ इकट्ठी थी. उसी भीड़ को पुलिस दल हटाने के लिए कार्य किया गया तो पता चला कि वहां पर अब्दुल खुले में बिना किसी अनुमति के मुर्गे का मीट बेच रहा था। पुलिस कार्यवाही के बाद वहां भीड़ लगा कर जमा अपने तमाम ग्राहकों के तितर - बितर हो जाने से नाराज होकर अब्दुल और उसके दो भाई राजू, सिराज तथा उनकी तीन पत्नियों ने सामूहिक रूप से मिल कर भीड़ हटाने गई बहराइच की उस पुलिस टीम पर हमला बोल दिया. इतना ही नही, इन लोगों ने पुलिस की सरकारी रिवाल्वर छीनने का भी दुस्साहस कर डाला ..

इस संबंध में पुलिस बल द्वारा काफी साहस का परिचय देते हुए बहादुरी से उनका मुकाबला किया और अतिरिक्त पुलिस बल के लिए थाना प्रभारी को सूचित किया गया। थाना प्रभारी के मौके पर पहुंचने पर पुलिस ने  हमलावरों को खदेड़ा. पुलिस बल को देख कर हमलावर भागने लगे लेकिन उनमे  से मुख्य अभियुक्त अब्दुल को दौड़ा कर पकड़ लिया गया. इन सभी आरोपियों के विरुद्ध मुकदमा अपराध संख्या 98/20 धारा 147 /148 /149/ 332/ 353/ 307 / 394/511 ipc एवं 188 269/270 ipc सहित महामारी अधिनियम एवं आपदा अधिनियम के तहत FIR दर्ज की गई है.. फरार हुए सभी अन्य अभियुक्तों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस टीमे लगा दी गई हैं .. इस घटना से बहराइच पुलिस असमाजिक तत्वों को कड़ा और सख्त संदेश देने में सफल हुई है.. जिले में शांति व्यवस्था कायम है. 

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

0 Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार