सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

डोनाल्ड ट्रंप बोले- एग्जीक्यूटिव ऑर्डर के साथ टिक टॉक बैन

भारत की राह पर अमेरिका, US मे टिक-टॉक बैन की पूरी तैयारी

Sudarshan News
  • Aug 1 2020 6:15PM

भारत ने डिजिटल स्ट्राइक से चीन की अर्थव्यवस्था मे खलबली मचा दी है. अब खबर है कि भारत को देखा देखी अमेरिका भी चीन के ऐप टिक टॉक (tik tok) पर प्रतिबंध लगा सकता है. जिसके लिए अमेरिका ने तैयारी शुरू कर दि है. अमेरिका और चीन की कोल्ड वॉर किसी से छुपी नहीं है और कोरोना महामारी का बढ़ता प्रकोप देख अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प चीन से काफ़ी नाराज हैं. 

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) ने शुक्रवार को कहा कि वह अमेरिका में तेजी से प्रचलित हो रहे टिक-टॉक एप पर प्रतिबंध लगाने जा रहे हैं. वह आगे कहते हैं अमेरिका के अधिकारियों ने इस पर चिंता जताई है कि इसके द्वारा प्राप्त जानकारी का इस्तेमाल चीन का खुफिया विभाग (Chinese Agencies) कर रहा है. एक पत्रकार के सवाल पर डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) ने कहा कि जहां तक Tik Tok से जुड़ी चिंताओं का सवाल है, हम उसे अमेरिका में बैन करने जा रहे हैं. 

दूसरी ओर सिलिकॉन वैली के विशेषज्ञों ने अमेरिका से अपील करते हुए कहा था कि, भारत की तरह अमेरिका को भी टिक-टॉक को बैन करना चाहिए. 

शुक्रवार को टिक टॉक ने एक बयान जारी करते हुए कहा था, 'हम अटकलबाजी और अफवाहों पर कोई टिप्पणी नहीं करना चाहते, हम टिक टॉक की लंबी कामयाबी में विश्वास रखते हैं.' आपको बता दें कि बाइटडांस ने 2017 में टिक टॉक लॉन्च की थी, जो कि बहुत कम समय में युवाओं के बीच प्रचलित हो गई. भारत में पहले ही टिक टॉक को बैन कर दिया गया है.

आपको बता दें कि भारत ने चीन के कुल 106 एप्स पर प्रतिबंध लगा रखा है. इसके अलावा 275 ऐसे और एप्स है जिन्हें भारत राष्ट्रीय सुरक्षा और पब्लिक प्राइवेसी को आहत करने के तौर पर रोक थाम कर सकता है. फ़िलहाल ईन एप्स पर  नजर रखी जा रही है.

सहयोग करें

हम देशहित के मुद्दों को आप लोगों के सामने मजबूती से रखते हैं। जिसके कारण विरोधी और देश द्रोही ताकत हमें और हमारे संस्थान को आर्थिक हानी पहुँचाने में लगे रहते हैं। देश विरोधी ताकतों से लड़ने के लिए हमारे हाथ को मजबूत करें। ज्यादा से ज्यादा आर्थिक सहयोग करें।
Pay

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार